Homeग्राम सुराज का तीसरा दिन : मुख्यमंत्री अचानक पहुंचे कानापोड़

ग्राम सुराज का तीसरा दिन : मुख्यमंत्री अचानक पहुंचे कानापोड़

Printer-friendly versionSend to friend

रामायण प्रतियोगिता के मंच पर हुआ आत्मीय स्वागत

राम वाटिका के रूप में विकसित होगा ईशान वन

लखनपुरी बस स्टैंड निर्माण के लिए 15 लाख रूपए

दोपहर धमतरी जिले के लिलर में भी लगी मुख्यमंत्री की चौपाल

उप स्वास्थ्य केन्द्र के पास लगेगा हैंडपंप

ग्राम अरौद (बी) में सामुदायिक भवन के लिए पांच लाख रूपए

    रायपुर, 20 अप्रैल 2012

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने प्रदेश व्यापी ग्राम सुराज अभियान के तीसरे दिन आज पूर्वान्ह उत्तर बस्तर (कांकेर) जिले के विकासखंड चारामा स्थित ग्राम लखनपुरी के नजदीक कानापोड़ नामक गांव में अचानक पहुंचे। राजधानी रायपुर से हेलीकॉप्टर द्वारा रवाना होने के बाद ग्राम सुराज अभियान में आज मुख्यमंत्री का यह पहला पड़ाव था। मुख्यमंत्री अगले पड़ाव में धमतरी जिले के विकासखंड धमतरी स्थित ग्राम लिलर पहुंचे। दोनों गांवों में मुख्यमंत्री को अचानक अपने बीच पाकर ग्रामीणों में भारी उत्साह देखा गया।

    मुख्यमंत्री जब उत्तर बस्तर (कांकेर) जिले के ग्राम कानापोड़ पहुंचे, तो वहां स्थानीय ग्रामीणों द्वारा आयोजित सामाजिक समरसता एवं जनचेतना कार्यक्रम के तहत पांच दिवसीय लोक नृत्य, लोक गीत एवं मानस मंचन का कार्यक्रम भी चल रहा था। आज इसका समापन कार्यक्रम था। मुख्यमंत्री ने जय मां शीतला मानस प्रतिष्ठान द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम की प्रशंसा करते हुए आयोजकों, प्रतिभागियों और ग्रामीणों को बधाई दी। वहां मानस मंचन के तहत रामचरित मानस (तुलसी रामायण) गायन प्रतियोगिता भी चल रही थी। ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री की अगवानी करते हुए इस कार्यक्रम के मंच पर उनका आत्मीय स्वागत किया। मुख्यमंत्री ने रामचरित मानस पाठ की इस प्रतियोगिता की सराहना करते हुए तुलसी मानस मंडली को उपहार स्वरूप रामचरित मानस की पांच सौ प्रतियां प्रदान करने की घोषणा की। डॉ. रमन सिंह ने वन विभाग द्वारा स्थापित निकटवर्ती ईशान वन को 'रामवाटिका' के रूप में विकसित करने तथा जिला मुख्यालय कांकेर के नजदीक गढ़िया पहाड़ के सौन्दर्यीकरण के लिए भी राज्य शासन की ओर से सहयोग का ऐलान किया।

    उन्होंने लखनपुरी में बस स्टैंड निर्माण के लिए बस्तर एवं दक्षिण क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण से 15 लाख रूपए की धनराशि स्वीकृत करने, निकटवर्ती ग्राम शाहवाड़ा से तारसगांव के बीच महानदी पर पुल निर्माण के लिए सर्वेक्षण करवाने और ग्राम खैरखेड़ा के सिंचाई जलाशय से नहर निर्माण भी जल्द करवाने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि ग्राम कानापोड़ के हाईस्कूल के बच्चों के लिए खेल मैदान बनवाया जाएगा। मुख्यमंत्री के साथ उनके प्रमुख सचिव और आवास एवं पर्यावरण तथा जनसम्पर्क विभाग के प्रमुख सचिव श्री एन. बैजेन्द्र कुमार और मुख्यमंत्री के विशेष सचिव श्री सुबोध कुमार सिंह भी थे। कानापोड़ में विधायक श्री ब्रम्हानंद नेताम, छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी बैंक (अपेक्स बैंक) के अध्यक्ष श्री महावीर सिंह राठौर, जिला पंचायत कांकेर की अध्यक्ष सुश्री शिरो कोमरे सहित अन्य अनेक जनप्रतिनिधियों तथा बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री का आत्मीय स्वागत किया।

महानदी के किनारे बरगद की छांव में लगी मुख्यमंत्री की चौपाल

    मुख्यमंत्री आज के ग्राम सुराज के दौरे के दूसरे पड़ाव में धमतरी जिले में महानदी के किनारे ग्राम लिलर पहुंचे, वहां उन्होंने बरगद की छांव में चौपाल लगायी। उन्होंने ग्रामीणों से उनकी समस्याओं के बारे में बातचीत कर कई घोषणाएं कीं। डॉ. सिंह ने स्थानीय उप स्वास्थ्य केन्द्र के पास पेयजल सुविधा की दृष्टि से हैंडपंप लगाने की स्वीकृति प्रदान की और गौठान पारा के विद्युतीकरण सहित लिलर गांव के लिए नल-जल योजना की मंजूरी भी तुरन्त दे दी। उन्होंने पड़ोसी गांव अरौद (बी) में सामुदायिक भवन निर्माण के लिए स्वेच्छानुदान के मद से पांच लाख रूपए देने की घोषणा की। डॉ. सिंह ने किसानों के आग्रह पर सियारी नाला-फुटहामुड़ा सिंचाई व्यपवर्तन योजना के रूके हुए काम को जल्द शुरू करवाने तथा नहर बनवाने का भी ऐलान किया। लिलर में मुख्यमंत्री की मुलाकात एक नि:शक्तजन श्री घसियाराम से हुई। उन्होंने श्री घसियाराम को जयपुर पैर लगवाने का आश्वासन दिया और स्वेच्छानुदान से दस हजार रूपए भी मंजूर कर दिए। इसी तरह स्थानीय कृषक श्रीमती गजरा बाई की फसल को जंगली सुअर द्वारा नष्ट किए जाने की जानकारी मिलने पर मुख्यमंत्री ने उनके आवेदन पर उन्हें 15 हजार रूपए की सहायता राशि तत्काल मंजूर कर दी। डॉ. सिंह ने एक स्कूली बालिका कुमारी भुवनेश्वरी को सायकल देने का वायदा किया। मुख्यमंत्री के ग्राम लिलर के आकस्मिक प्रवास के दौरान उनके प्रमुख सचिव श्री एन. बैजेन्द्र कुमार और विशेष सचिव श्री सुबोध कुमार सिंह भी उनके साथ थे। इस अवसर पर नि:शक्तजन आयोग के अध्यक्ष एवं पूर्व विधायक श्री इन्दर चोपड़ा सहित धमतरी जिले के प्रभारी सचिव श्री दिनेश श्रीवास्तव, कलेक्टर श्री एस. प्रकाश और प्रशासन के अन्य अधिकारी भी लिलर पहुंच गए थे। जिला पंचायत सदस्य सुश्री विद्यादेवी साहू, जनपद पंचायत मगरलोड के अध्यक्ष श्री माधव सिंह ठाकुर और ग्राम पंचायत लिलर के सरपंच श्री सखाराम नेताम सहित ग्रामीणों ने लिलर में मुख्यमंत्री के अचानक आगमन पर उनका गर्मजोशी से आत्मीय स्वागत किया।

क्रमांक-324/स्वराज्य

 

Date: 
20 Apr 2012