Home रायपुर : एक जज्बे ने गांव को बना दिया खुशहाल : डॉ. रमन सिंह

Secondary links

Search

रायपुर : एक जज्बे ने गांव को बना दिया खुशहाल : डॉ. रमन सिंह

Printer-friendly versionSend to friend

ग्रामीणों के श्रमदान से पांच सौ एकड़ में आयी हरियाली
मुख्यमंत्री ने अपनी रेडियो वार्ता में खुले दिल से की तारीफ


    रायपुर, 09 अक्टूबर 2016

छत्तीसगढ़ राज्य के एक गांव में किसानों और ग्रामीणों को श्रमदान से सात सौ मीटर लम्बी नहर बनाकर अपने लगभग पांच सौ एकड़ खेतों को हरा-भरा बनाने में शानदार कामयाबी मिली है। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आकाशवाणी के रायपुर केन्द्र से प्रसारित अपनी मासिक रेडियो वार्ता ’रमन के गोठ’ में इसका उल्लेख किया और खुले दिल से ग्रामीणों की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा-एक जज्बे ने गांव को खुशहाल बना दिया। उन्होंने श्रोताओं को राजनांदगांव और दुर्ग जिले की सीमा पर बसे ग्राम तुमड़ीकसा के लोगों की सफलता की यह कहानी बड़े गर्व के साथ सुनाई। मुख्यमंत्री ने कहा-छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण से विकास का जो वातावरण बना है, उसका ही यह नतीजा है कि गांव-गांव में लोग अपनी समस्या का हल स्वयं निकालने में लगे हैं। एक ताजा उदाहरण राजनांदगांव और दुर्ग जिले की सीमावर्ती ग्राम तुमड़कसा का है, जहां 100 किसान परिवार सूखे की मार झेल रहे थे। गांव के उत्साही युवक विजय साहू, अशोक रावटे, डामनलाल मसिया और उनके साथियों ने बंधिया तालाब से पानी की दिशा बदलने का फैसला किया, ताकि उसे क्षेत्र के मटियामोती सिंचाई जलाशय के जल निकास मार्ग से जोड़ा जा सके। इसके लिए ग्रामीणों ने आपस में चंदा किया, श्रमदान किया और सात मीटर लम्बी नहर-नाली बनाकर 500 एकड़ खेतों को हरा-भरा कर दिया। मैं चाहूंगा कि ऐसी और भी सफलता की कहानियां लोग मुझे भेंजे। इससे पता चलता है कि राज्य के विकास के लिए लोग किस तरह जी-जान से जुटे हुए हैं।


क्रमांक-3445/स्वराज्य
 

Date: 
09 Oct 2016