Homeरायपुर : राजधानी रायपुर के तेलीबांधा तालाब किनारे लोगों ने ’रमन के गोठ’ सुनने में दिलचस्पी दिखाई

Secondary links

Search

रायपुर : राजधानी रायपुर के तेलीबांधा तालाब किनारे लोगों ने ’रमन के गोठ’ सुनने में दिलचस्पी दिखाई

Printer-friendly versionSend to friend

रायपुर, 11 दिसम्बर 2016

रायपुर में रेडियो की मासिक वार्ता ‘रमन के गोठ’ की 16वीं कड़ी को कॉलेज स्टूडेंट एवं उपस्थित नागरिकों ने ध्यान से सुना तथा छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा चलायी गयी विभिन्न योनजाओं एवं जनकल्याणकारी कार्यक्रमों के सुचारू संचालन को लेकर खुशी जाहिर किया। लोधीपारा चौक से आए छात्र आदित्य वर्धन, राहूल महिलांग, मनीष मारकण्डेय ने रायपुर को एजुकेशन हब के रूप में विकसित करने पर काफी प्रसन्नता व्यक्त किया और कहा कि रायपुर में आईआईएम, एम्स, एनआईटी, ट्रिपल-आईटी, नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी, उच्च शिक्षण संस्थान के स्थापना से अब दूसरे प्रदेश की ओर रूझान नहीं रहा। श्याम नगर से आए धरमवीर ने सरकार द्वारा लाइवलीहुड कॉलेज की स्थापना से प्रसन्नता व्यक्त किया तथा कहा कि ये कारपेन्टर है तथा इससे उसके कौशल का उन्नयन होगा।
    मुख्यमंत्री द्वारा कैशलेश ट्रांजेक्शन व प्लास्टिक मनी की ओर लोगों को रूझान के विचार को देशकाल परिस्थिति के हिसाब से उपयोगी बताया। अमलीडीह से आए विकास ध्रुव ने बताया कि इससे नगदी राशि की सुरक्षा तथा देख-रेख से राहत मिलेगी। किसी भी व्यक्ति का लेन देन इससे नही छूपेगा तथा यह सभी नागरिकों के लिए सुविधाजनक है, जिससे कि देश की अर्थव्यवस्था को मजबूती मिलेगी।

क्रमांक-4385/कोसरिया/सी.एल.

Date: 
11 Dec 2016