Homeरायपुर : ओड्रा मागधी नृत्यांजलि की प्रस्तुतियों ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया

Secondary links

Search

रायपुर : ओड्रा मागधी नृत्यांजलि की प्रस्तुतियों ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया

Printer-friendly versionSend to friend

रायपुर 12 फरवरी 2017

 

ओड्रा मागधी नृत्यांजलि कार्यक्रम के प्रथम दिवस कलाकारों ने नृत्य के एक से बढ़कर एक कार्यक्रम प्रस्तुत किये। कलाकारों की मनोहारी प्रस्तुतियों ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। राजधानी रायपुर के महंत घाीसदास स्मारक संग्रहालय परिसर स्थित मुक्ताकांशी मंच पर राज्य शासन के संस्कृति विभाग द्वारा दो दिवसीय आयोजन किया गया है।
कार्यक्रम की पहली प्रस्तुति संयुक्त राज्य अमेरिका की नृत्य कलाकार शॉरेन लोयेन ने दी। उन्होंने पुष्पांजलि के जरिये कवि कालीदास की रचना  ‘‘कुमार संभवम्’’ की शानदार प्रस्तुति दी। इसके बाद कवि जयदेव की कृति गीत गोविंदम् की सखी हे केसी मथना उदारम् की प्रस्तुति दी। उनके इस ओडिसी नृत्य को दर्शकों ने सराहा। इसके बाद कोलकाता की कलाकार आलोका   कानूगो और उनके दल द्वारा ओडिसी नृत्य शैली में पल्लवी की बेहतरीन प्रस्तुति दी। दूसरी प्रस्तुति में इन्होंने गोपियांे और कृष्ण के रोचक प्रसंगों के प्रस्तुत किया। जगन्नाथपुरी उड़ीसा के आये अभिन्न सुंदर गोट़ीपुओ नृत्य परिषद के पुरूष कलाकारों ने लड़कियों का रूप धारण कर नृत्य किया। इसके बाद चंद्रिका राणा और उनकी टीम ने देवदासी नृत्य की आकर्षक प्रस्तुति दी। कलाकारों को संस्कृति विभाग के संचालक श्री आशुतोष मिश्रा ने स्मृति चिन्ह भेंट किया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में दर्शक मौजूद थे।   

क्रमांक-5573/चौधरी

Date: 
12 Feb 2017