Homeरायपुर : ‘रमन के गोठ’ की छठवीं कड़ी के प्रसारण पर विभिन्न वर्गों की प्रतिक्रिया

Secondary links

Search

रायपुर : ‘रमन के गोठ’ की छठवीं कड़ी के प्रसारण पर विभिन्न वर्गों की प्रतिक्रिया

Printer-friendly versionSend to friend

रायपुर, 14 फरवरी 2016

रमन के गोठ के छठवी कड़ी के प्रसारण को पूरे प्रदेश में सुना गया। विभिन्न जिलों से इस पर सकारात्मक प्रतिक्रिया प्राप्त हुई है, जो इस प्रकार है:-
‘रमन के गोठ’’ को सुनने के बाद अम्बिकापुर के संतोष कुमार एक्का ने कहा कि मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने रमन के गोठ में विद्यार्थियों को परीक्षा की तैयारी के लिए दिए गए सुझाव प्रशंसनीय है। इससे परीक्षा की तैयारी में लगे विद्यार्थियों को सम्बल मिलेगा। बारहवीं कक्षा के छात्र पंकज यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह द्वारा छात्र-छात्राओं को दिए गए संदेश छात्र हित में है और इससे उन्हें तैयारी में मदद मिलेगी। सुरेश कुमार पैंकरा ने कहा कि तेंदूपत्ता की संग्रहण दर 1200 रूपये से बढ़ाकर 1500 रूपये करने से तेंदूपत्ता संग्राहको को फायदा मिलेगा। बेमेतरा के महाविद्यालयीन छात्र श्री विजय कुमार, श्री आशुतोष, श्री गिरधर गोस्वामी और नेहा भागवत, कुमारी अनुपमा देशलहरे और कुमारी चित्रांशा ने अपनी प्रतिक्रिया कहा कि मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के परीक्षर्थियों को दिए गए संदेश से छात्र-छात्राओं का उत्साहवर्धन होगा।
बिलासपुर की विभिन्न महिला स्व सहायता समूह की महिलाओं ने अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि अब रमन के गोठ सुनने के लिए हर माह इंतजार रहता है। गरियाबंद जिले के मैनपुर विकासखण्ड के आदिवासी बाहुल्य ग्राम फरसरा के सरपंच अघनता राम एवं ग्रामीण खमतुराम राठौर, समारू राम, पंचूराम, रोहित कुमार, कुवंर प्रसाद ने कहा कि इस कार्यक्रम से शासकीय योजनाओं को समझने में मदद मिली है। उन्होंने कहा कि टाइगर रिजर्व एवं अभ्यारण्य क्षेत्र के वनवासी जो प्रतिबंधित क्षेत्र होने के कारण तेंदूपत्ता का तोड़ाई नहीं कर सकते थे, उन्हें अब मुआवजा के रूप् में प्रति परिवार दो हजार रूपये मिलेंगे। तेंदूपत्ता का पारिश्रमिक दर बढ़ाने पर भी उन्हें खुशी जाहिर की। जांजगीर-चाम्पा नगर पालिका परिषद सक्ती के श्री विजय गुप्ता ने महिलाओं की सुरक्षा के लिए रायपुर में स्थापित वन स्टाफ सेंटर की सराहना की और कहा कि इससे महिलाओं में आत्मविश्वास जागेगा और वो निर्भय होकर कहीं भी आ जा सकेंगी। बस्तर जिले की जयमती ने मुख्यमंत्री द्वारा महिला उत्पीड़न को रोकने के लिए की गई चर्चा पर प्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में आज भी जादू-टोने की अफवाह फैलती रहती है। इससे कई बार ग्रामीणों में ही आपसी मनमुटाव की स्थिति उत्पन्न हो जाती है, जिसकी शिकार अक्सर महिलाएं होती हैं। उन्होंने कहा कि ‘सखी-वन स्टॉप सेंटर की स्थापना करने के साथ ही हेल्प लाईन नम्बर 181 की स्थापना करने से महिलाओं को अपने विरुद्ध हुए अपराध की जानकारी देने में आसानी होगी। उसने कहा कि वह खुद तथा अन्य महिलाएं तेंदूपत्ता संग्रहण का कार्य करती हैं। तेंदूपत्ता के प्रति मानक बोरा का दर बढ़ाने से निश्चित तौर पर परिवार की आर्थिक स्थित मजबूत होगी। उन्होंने कहा कि तेंदूपत्ता का संग्रहण साल में एक बार किया जाता है इसलिए इस बार अधिक से अधिक तेंदूपत्ता का संग्रहण करेंगी, जिससे परिवार की आय अधिक हो। मालती इन पैसों से अपने बच्चों की खुशियों को पूरा करने में इस्तेमाल करेंगी। छात्रावास में अध्ययनरत छात्र संतोष ने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा परीक्षा में सफलता के लिए बहुत अच्छा संदेश दिया गया है। उन्होंने कहा कि समय का सदुपयोग और अनुशासन से हर परीक्षा आसान हो जाती है। कांकेर के श्री बी.आर.नायक ने कहा कि मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह द्वारा आज के आकाशवाणी कार्यक्रम रमन के गोठ के माध्यम से छत्तीसगढ़ की संस्कृति, शिक्षा और विद्यार्थियों, युवकों के हितों से जुड़ी महत्वपूर्ण कार्यक्रमों योजनाओं की जानकारी दी।विकासखण्ड कांकेर के ग्राम कोदागांव के श्री भावेश कुमार आरदे ने कहा कि रमन के गोठ कार्यक्रम से आज आम श्रोताओं से शासन की नवीनतम योजनाओं, छत्तीसगढ़ की संस्कृति युवकों, तेंदूपत्ता संग्राहकों, महिलाओं की सुरक्षा की अद्यतन जानकारी मिली जो प्रशंसनीय है। कवर्धा की कक्षा नवमीं में अध्यनरत कुमारी गेतेश्वरी बंजारे ने प्रदेश के सभी महिलाओं तथा बालिकाओं के लिए सुरक्षा की दृष्टि से तथा महिलाओं के खिलाफ अपराध रोकने प्रारंभ किए गए ’सखी-वन स्टाप सेंटर’ को अभिनव पहल बताते हुए कहा कि इस सेंटर के प्रारंभ होने से महिलाओं के साथ-साथ स्कूली बालिकाओं में भी आत्मविश्वास बढ़ा है। दिव्यारानी गेंड्रे ने अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि हम सब लोग यहां प्रत्येक माह के दूसरे रविवार को मुख्यमंत्री डॉ.रमन के गोठ को सुनते हैं और ये बाते उन्हे भी बताते है, जो किसी कारणवश इस कार्यक्रम को सुन नहीं पाए। कोंडागांव जिले के ग्राम पंचायत माकड़ी की महिला सरपंच लुदोदेवी मौर्य ने बताया कि गांव में प्रतिमाह मुख्यमंत्री के रेडियो प्रसारण को नियमित रुप से सुना जाता है और इससे शासन की योजनाओं की जानकारी मिलती है। कक्षा 10वीं के छात्र मिथिलेश नाग एवं रोहित कुमार मौर्य ने मुख्यमंत्री द्वारा परीक्षा के संदर्भ में शुभकामनाएं देने पर कहा कि उनकी परीक्षा की तैयारी पूर्ण हो चुकी हैं। इसी प्रकार स्व-सहायता समूह की महिलाओं ने भी तेंदुपत्ता के मानदेय बढ़ाने पर प्रसन्नता जतायी। कोरबा जिले के ग्राम दर्रीपारा सरोटियामुड़ा के सुखराम सिंह ने रमन के गोठ शुरू से सुन रहा हूं। मुख्यमंत्री को सुनकर अच्छा तो लगता ही है साथ ही हर बार प्रदेश के संबंध में कुछ नया जानने का मौका भी मिलता है। सुकमा की कोसी कवासी ने कहा कि प्रदेश के मुखिया के द्वारा रमन के गोठ कार्यक्रम के माध्यम से सीधे जनता से संवाद करने से शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी के साथ वर्तमान में प्रदेश स्तर में हो रही विभिन्न सांस्कृतिक गतिविधियों व क्षेत्र विशेष की उल्लेखनीय कार्याें की जानकारी मिलती हैं। श्रीमती मंगली बारसे ने कहा कि रमन के गोठ से आम जनता में जागरूकता आई हैं। परिणामस्वरूप जनता शासकीय योजनाओं का लाभ आसानी से उठा पा रही है। किसान हुंगाराम ने कहा कि मुझे फसल नुकसान के लिए राहत राशि का वितरण की जानकारी रमन के गोठ के माध्यम से मिला। जिले के साहित्यकार डॉ. मोहन लाल साहू ने कहा कि रमन के गोठ कार्यक्रम के 6वीं कड़ी में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने शासन द्वारा चलाई जा रही जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी देते हुये बताया की छत्तीसगढ़ में अब रोजगार मांगने वाले रोजगार देने की स्थिति में है। कौशल विकास के माध्यम से युवा हुनर मंद बन रहे हैं लाइवली हुड कॉलेज को इंडिया लेवल पर बहुत सराहा गया है जिसके माध्यम से युवा विकास के पथ पर अग्रसर हो रहे हैं। महासमुंद जिले के ग्राम मनकी के श्री भूपेन्द्र नेताम ने बताया कि मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने पैरी सोंढुर और महानदी के संगम पर हर वर्ष मांघ पूर्णिमा में आयोजित होने वाले राजिम कुंभ में संतो के समागम का लाभ उठाने के लिए न्योता दिया है, इससे राजिम कुंभ के प्रति लोगों का जुड़ाव और बढ़ेगा। बालोद के ग्रीन कमाण्डो श्री विरेन्द्र सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने युवाओं का उत्साहवर्धन किया है। कौशल उन्नयन के बाद रोजगार मॉगने वाले नही बल्कि रोजगार देने वाले की भूमिका निभाने की बात कही। युवाओं के लिए मुख्यमंत्री की यह बात प्रेरणादायी साबित होगी। पार्षद श्री कमलेश सोनी ने कहा कि मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने आगामी 23 फरवरी से 10वीं एवं 12वीं बोर्ड की परीक्षाओं में सम्मिलित हो रहे छात्र-छात्राओं का हौसला बढ़ाया है। मुख्यमंत्री ने छात्र-छात्राओं से अच्छी मेहनत कर परीक्षा की तैयारी करने की सलाह दी है।  नगर पालिका परिषद बालोद के एल्डरमेन श्री विनोद जैन ने कहा कि राजिम कंुभ के लिए जनता को ‘‘पीले चांवल‘‘ के साथ न्यौता देकर मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों का दिल जीत लिया। बलौदाबाजार के ग्राम पुरान के सरपंच श्री रवीन्द्र वर्मा, नंदलाल वर्मा, पुरूषोत्तम ध्रुव, सत्यनारायण, ग्राम कोसमंदी के रामेश्वर, साहेबदास, नंदकुमार, बालूराम तथा ग्राम पंचायत सकरी के सरपंच श्रीमती प्रतिभा साहू, ईश्वर साहू, उर्मिला साहू, देवचरण, नेतराम, केशव साहू आदि ग्रामीणों ने रमन के गोठ कार्यक्रम को शासकीय योजनाओं के बारे में विस्तृत जानकारी देने का एक सशक्त माध्यम बताया।

क्रमांक 5615/सुदेश/कुशराम
 

Date: 
14 Feb 2016