Homeरायपुर : राज्य में सुगम आवागमन के लिए तेजी से हो रहा पुलों का निर्माण: श्री राजेश मूणत

Secondary links

Search

रायपुर : राज्य में सुगम आवागमन के लिए तेजी से हो रहा पुलों का निर्माण: श्री राजेश मूणत

Printer-friendly versionSend to friend

चालू वर्ष में अब तक 159 करोड़ के बने 39 महत्वपूर्ण पुल


रायपुर, 25 फरवरी 2017

छत्तीसगढ़ के सुदूर ग्रामीण अंचल तक सुगम आवागमन के लिए आवश्यकतानुसार तेजी से पुल-पुलियों का निर्माण जारी है। चालू वर्ष 2016-17 में अब तक विभिन्न नदी-नालों में 39 महत्वपूर्ण पुलों का निर्माण लोक निर्माण विभाग के सेतु संभाग द्वारा पूर्ण कर लिया गया है। लोक निर्माण मंत्री श्री राजेश मूणत ने बताया कि इन सभी पुलों के निर्माण में एक सौ 58 करोड़ 78 लाख रूपए की लागत आयी है।
इसके तहत सेतु संभाग रायपुर में 26 करोड़ 31 लाख रूपए की राशि से आठ पुल बनाए गए हैं। इनमें गरियाबंद जिले में तुवासमाल गोहरापदर मार्ग पर तुवास नदी में एक करोड़ 92 लाख रूपए और बलौदाबाजार-भाटापारा जिले में ग्राम लुटुडीह से परसवानी के बीच खोरसी नाला पर एक करोड़ 96 लाख रूपए, बिटकुली-जांगड़ा मार्ग पर जमुनैया नाला में दो करोड़ 50 लाख रूपए तथा कसडोल के सिरपुर-बल्दाकछार मार्ग के कोसमसरा नाला पर एक करोड़ रूपए की राशि से पुल का निर्माण किया गया है। इसी प्रकार धमतरी जिले में खपरी (जरवायडीह) से भैंसबोड़ पहुंच मार्ग में चार करोड़ रूपए, सिहावा कुर्रीडीह-पीपरछेड़ी मार्ग पर घोरड़गी नाला पर दो करोड़ 50 लाख रूपए, सरईभदर जड़जड़ा गरियाबंद मार्ग पर सोंढूर नदी में दस करोड़ 18 लाख रूपए और कुरूद चरमुड़िया चिंवरी मार्ग पर सिवनीकला नाला में दो करोड़ 25 लाख रूपए की राशि से पुल का निर्माण किया गया।
इसी तरह सेतु संभाग राजनांदगांव में 29 करोड़ 32 लाख रूपए की राशि से छह पुलों का निर्माण किया गया है। इनमें दुर्ग जिले में मुड़पार से गड़िया महामाया मार्ग पर आमनेर नदी में दो करोड़ 90 लाख रूपए और कबीरधाम (कवर्धा) जिले में पंडरिया के कुई से कुकदूर मार्ग पर स्थित आगर नदी में चार करोड़ रूपए तथा कवर्धा के डेरही से पंडरिया मार्ग पर सकरी नदी में चार करोड़ 30 लाख रूपए की लागत से पुल बनाया गया है। राजनांदगांव जिले में भर्रेगांव रवेली राजनांदगांव मार्ग पर स्थित शिवनाथ नदी में 11 करोड़ 50 लाख रूपए, पनेका मार्ग पर बाकल नदी में चार करोड़ 32 लाख रूपए तथा भोजटोला से मार्री मार्ग पर दो करोड़ 30 लाख रूपए की राशि से पुल का निर्माण किया गया।
सेतु संभाग बस्तर के अंतर्गत 27 करोड़ 54 लाख रूपए की लागत से छह पुलों का निर्माण किया गया है। इनमें सुकमा जिले में छिंदगढ़ से पतिनाईकरास पहुंच मार्ग में जाजल नदी पर तीन करोड़ 36 लाख रूपए और उत्तर बस्तर (कांकेर) जिले में असुलखार-अलपरकला मार्ग में कुकुर नदी पर दो करोड़ 75 लाख रूपए तथा पखान्जूर प्रतापपुर कोयलीबेड़ा मार्ग में कोटरी नदी पर सात करोड़ 47 लाख रूपए से पुल बनाया गया है। बस्तर जिले में मरेठा सोरगुड़ा मार्ग पर मारकंडी नदी पर चार करोड़ 42 लाख रूपए और कोण्डागांव जिले में जैतपुरी-कबोंगा-हाथीपखना मार्ग के भंवरडींग नदी पर सात करोड़ रूपए तथा केशकाल-मुरनार मार्ग के लिंगधारा नदी पर दो करोड़ 13 लाख रूपए की लागत से पुल का निर्माण किया गया है।
सेतु संभाग बिलासपुर के अंतर्गत 53 करोड़ 19 लाख रूपए की लागत से 10 महत्वपूर्ण पुलों का निर्माण किया गया है। इनमें बिलासपुर जिले में चकरभाठा-बोदरी रेलवे मार्ग पर चकरभाठा के पास 25 करोड़ 72 लाख रूपए की लागत से रेल्वे ओव्हर ब्रिज बनाया गया है। इसी तरह बिलासपुर जिले में ही दैजा जोगीपुर मार्ग के करूवा नाला पर एक करोड़ 64 लाख रूपए, हिर्री-बिल्हा के निपनिया नाला पर दो करोड़ 87 लाख रूपए तथा कोलबिर्रा-सिलपहरी मार्ग के बीच सोन नदी एवं खुज्जी नाला पर छह करोड़ 96 लाख और तखतपुर के पंचबहरा-अमलीकापा मार्ग के मनियारी नदी पर दो करोड़ 46 लाख रूपए की लागत से पुल का निर्माण किया गया है। मुंगेली जिले में रामगढ़-मुंगेली मार्ग के आगर नदी में दो करोड़ 94 लाख रूपए तथा मुंगेली शहर के मध्य में प्रवाहित आगर नदी पर एक करोड़ 87 लाख रूपए और कोरबा जिले में ग्राम चोरभट्टी से मदवानी मार्ग पर छिंदई नाला में दो करोड़ 72 लाख रूपए तथा पाली-तानाखार के पोड़ी से बांगो तान नदी पर चार करोड़ 34 लाख रूपए की लागत से पुल बनाया गया है।
सेतु संभाग रायगढ़ के अंतर्गत छह करोड़ 25 लाख रूपए की लागत से दो पुलों का निर्माण किया गया है। इनमें रायगढ़ जिले में रैरूमाखुर्द-भालूपखना मार्ग पर मांड नदी में चार करोड़ 47 लाख रूपए और कटाईपाली (सी) से चीतापाली के बीच सखिया नाला में एक करोड़ 78 लाख रूपए की राशि से पुल बनाया गया है। सेतु संभाग सरगुजा के अंतर्गत 16 करोड़ 17 लाख रूपए की राशि से सात पुलों का निर्माण किया गया है। इनमें सूरजपुर जिले में प्रेमनगर के महोरा विध्यांचल मार्ग पर चितखई नाला पर तीन करोड़ 80 लाख रूपए तथा तिलसिया सरस्वतीपुर मार्ग पर रेहण्ड नदी में चार करोड़ चालीस रूपए की लागत से पुल बनाया गया है। बलरामपुर-रामानुजगंज जिले में ग्राम लटुआ से भोदना के बीच गेऊर साकड़ी बेड़ा नदी में एक करोड़ सात लाख रूपए, बलरामपुर मुख्य मार्ग से केरता मार्ग पर सिन्दूर नदी में एक करोड़ 34 लाख तथा डीपाडीह चांगरो मार्ग पर कन्हर नदी में एक करोड़ 82 लाख रूपए की लागत से पुल बनाया गया है। इसी तरह जशपुर जिले में जुजगू कुरडेग पसिया पहुंच मार्ग पर मैनी नदी में एक करोड़ 36 लाख रूपए तथा बगीचा सन्ना मार्ग पर ईब नदी में दो करोड़ 38 लाख रूपए की लागत से पुल का निर्माण किया गया है।


क्रमांक-5777/प्रेमलाल

Date: 
25 Feb 2017