Homeरमन के गोठ (रमन चो गोठ) : आकाशवाणी ले प्रसारित बिशेष कार्यक्रम(दिनांक 12 फरवरी 2017, समय प्रातः 10.45 से 11.05 बजे)

Secondary links

Search

रमन के गोठ (रमन चो गोठ) : आकाशवाणी ले प्रसारित बिशेष कार्यक्रम(दिनांक 12 फरवरी 2017, समय प्रातः 10.45 से 11.05 बजे)

पुरूष उद्घोषक बाटले

सुतनो लोग मन के जुहार!

  • आकाशवाणी चो बिशेष प्रसारण ‘रमन चो गोठ’ ने आमी, सपाय सुनतो लोग मन चो हार्दिक स्वागत करूंसे, अभिनंदन करूंसे। कार्यक्रम चो अठारा नम्बर चो कड़ी चो काजे आकाशवाणी चो स्टुडियों ने माननीय मुख्यमंत्री साहेब अमरलासोत।?
  • डॉक्टर साहेब जुहार, खुबे-खुबे स्वागत आय, आपन चो येई कार्यक्रम ने ।

मुख्यमंत्री साहेब

  • धन्यवाद! आपन के बले आरू आपलो रेडियों अउर टी.वी. चो पूरे बसुन मोके सुनतो लोग मन के बले।
  • जमाय संगी-संगवारी, सियान-जुवान माय-बहिन मन के जुहार।
  • माघी पुन्नी ले शुरू होतो बिती कबीर धरम -नगर दामाखेड़ा चो मडई ने शामिल होतो चो मौका मिरली। ये आमचो सोभाग आय कि छत्तीसगढ़ के संत कबीर चो खुबे आर्शिवाद मिरलीसें। संत कबीर चो किरपा ने छत्तीसगढ़ समरस्ता चो शांति चो बराबरी चो समानता चो अउर आपसी मया चो राज बनलीसे। जमाय कबीर के मान्तो भाई-बहिन मन के साहेब बंदगी साहेब।
  • परनदिन ले राजिम मडई शुरू होलीसे। जेकि येबे राजीम कुम्भ चो नाव ले देश आरू दुनिया ने परसिद्व होउनगेलीसे।
  • येदंाय चो माघी पुन्नी चो दिन ‘राजिम कुम्भ ’ चो बारह बरख पूरा होयसे अउर मडई चो आखरी महाशिवरात्रि चो दिने होयदे।
  • महाशिवरात्रि आमचो जमाय समाज चो बडे़ तिहार आय।
  • आमचो आदिवासी समाज बूढ़ा देव चो रूप ने पूजा करेसे।
  • भगवान राजीव लोचन, कुलेश्वर महादेव, शिवशंकर भगवान, बूढ़ादेव चो पूजा पाठ चो संगे-संगे ‘छत्तीसगढ़ चो प्रयाग’ ने स्नान चो खुबे बडे महातमय आसे। देश-परदेश चो साधु महात्मा मन चो भागवत, प्रवाचन, कीर्तन, राजिम ने चलेसे, जेचो आनंद अउर पुन-परताप आपन मन के मिरेसे।
  • माघाी पुन्नी चो दिन आमचो गुलाय प्रदेश चो जमाय नदी, तरई ने स्नान करतोर होयसे, डुबकी लगाउक होयसे आरू जगह-जगह ने मडई बले भरूआय।
  • आपन जमाय लोग मन के ये बेरा ले मोचो बाटले बधई आरू शुभकामनॉ आय।
  • आजी मोके लक्ष्मण मस्तुरिया चो गोटोक गीत सुरता येयेसे-

मोर संग चलव रे मोर संग चलव गा

मैं लहरी अंव मोर लहर म

फरौ-फूलो हरियावव

महानदी म अरपा पैरी

तन-मन धो फरियावव

कहां जाहु बड़ दूर हे गंगा

मोर संग चलव रे मोर संग चलव गा

 

‘वेटलैण्ड डेवलपमेंट चो बारे ने मुख्यमंत्री साहेब चो बिशेष कथनी-

  • मोके ये गोठ चो खुबे हरीक होयसे कि परदेश चो गोटोक बडे़ चिंता करतो बिता अउर वैज्ञानिक डॉ. डी. के मरोठिया मोके सांगला कि ‘वेटलैण्ड ’चो संरक्षण, संवर्धन आरू बाढती चो चर्चा ‘रमन चो गोठ’ ने जरूर करंे। ‘वेटलैण्ड ’चो मतलब आय हुन जमीन जे तरई मन चो बिस्तार ने पानी ने बुडुन रहेसे आरू लाम्ब समया तक ले पानी ने बुडुन रतो कारण ने हुन क्षेत्र चो पहचान अलग ले होउआय।
  • छत्तीसगढ़ ने तरई मन चो आपलो बिशेष संस्कृति रलीसे। येचो ऐतिहासिक, धार्मिक आरू आर्थिक महत्व बले रलीसे, जेकि स्थानीय आबादी मन चो बिश्वास चो संगे चे हुन मन चो जीवना ले बले जुडुआय।
  • मछरी चो संगे कमल फूल, मखाना, सिंघाड़ा, पानी कोचई जसन उत्पाद बले येई तरई मन चो बरदान आत, जे हुताय रतो लोग मन चो कमई चो जरिया बनुआत। तरई मन ले भू जल स्तर बनुन रहुआय, जलवायु बदलतोर थमुन रहुआय। चिडई मन चो रतो ठान होउआय अउर ‘जैव-विविधता’ चो संरक्षण होउआय। ये मन चो लगे-लगे दवई बिती आरू सुगंधि बिती बुटा मन चो खेती होउआय। असन प्रकार तरई प्रकृति चो ‘किडनी ’ चो असन काम करूआत।
  •  मोके असन सांगते खुबे हरीक लागे से कि डॉ. मरोठिया चो दल आमचो रतनपुर, दलपत सागर आरू कुटुम्बसर जसन अद्भूत जलीस संरचना  मन के विश्व परसिद्व ‘रामसर साइट’ ने जगह दिलातो चो कोशिश करसोत, जेकि ऐतिहासिक महत्व चो ठान मन के वैश्विक मान्यता बले देउआय।
  • रतनपुर ने जे 160 तरई मन चो प्रणाली आसे, हुन येई जगह के ‘लेक सिटी’ चो अन्तरराष्ट्रीय मान्यता दिलाउक सकुआय। विशेषज्ञ मन चो कहना आय कि कोनी गोटोक जगह उपरे असन अद्भूत संरचना दुनिया ने

सिरप दुई ठानने चे आसे, जे मन ले गोटोक चीन ने आसे अउर दुसर रतनपुर ने।

  • येई काजे तरई मन चो महत्व के दखते आमन मन ‘वेटलैण्ड अथॉरिटी’ चो गठन करलूसे। राज चो वेटलैण्ड पॉलिसी बनाउक जाउंसे।
  • मैं ग्राम पंचायत मन, नगरीय निकाय मन चो संगे चे परदेश चो प्रत्येक जागरूक नागरिक, सामाजिक संगठन मन ले अपील करेंसे कि हुन मन जहंा बले आसोत, हुता आपलो जलाशय (तरई मन) मन के सुरखित राखतो ने योगदान करोत। गहरीकरण आरू सौंदरीकरण उपरे बले धियान दिया जाओ। सौर- ऊर्जा ले उजड़ कराजाओ। असन बले गरमी चो मौसम लगे आसे, जेने आमके तरई मन चो जरूरत चो खुबे एहसास होउआय। आमके येई काम निश्चित कार्य योजना बनाउन करतोर चाईये, ताकि कोनी गोटोक मौसम चो नई, बल्कि बरख भर चो योजना बनाउन काम करूक होउकसको।

महिला उद्घोषक बाटले

  • माननीय मुख्यमंत्री साहेब, येबे स्कूल पीला मन चो परीक्षा चो मौसम एउन गेलीसे। ये असन समया आय, जेबे आमचो पीला मन, हुन मन चो पालक, आया-बाबा मन ले धरून घर चो सपाय सदस्य मन परीक्षा चो चिंता ने रहुआत। असन बोझिल वातावरण सब चो काजे नुकसान देतो बिती आय। असन ने पीला मन आरू हुन मन चो पालक मन के आपन काय संदेेश देउक चाहासे?

मुख्यमंत्री साहेब

  • मैं पीला मन के साफ सांगुक चाहेंसे कि परीक्षा अउर परीक्षा के नेउन चिंता येतो चो सबले बडे़ कारण आय, कि आमन मन चो बरख भर चो तैयारी अउर जसन प्रकार चो परिणाम चो चाहातोर होयसे, हुनचो मंजारे सही ताल मेल नी होयसे।
  • गोटोक शिक्षा सत्र कितलेई कालखण्ड मन ने बटुन रहुआय, जेचो ले आपन आपलो जमाय पाठ्यक्रम के छोटे-छोटे भाग ने पढ़ाई करूआहास। बरख भर चो

परफॉरमेंस ले येई पता चलूआय कि पीला मन चो अंतिम परिणाम काय येतो बिती आसे। परीक्षा चो समया उपरे एकदम ले चमत्कारी सफलता चो उम्मीद नीकरा अउर पीला मन उपरे बडे़ लक्ष्य चो बोझा नी डारा।

  • पीला मन के येई समझुक पडे़दे कि पढ़ाई चो ‘लान्ग-टर्म’ चो रणनीति आरू ‘शार्ट टर्म’ चो रणनीति ने फरक होउआय अउर दुनोचो परिणाम बले हुनी चो अनुरून होउआत। बड़े सफलता चो कोनी ‘शार्ट कर्ट’ नी होय।
  • नियमित रूप ने पढ़ई करतोचो पाठकुति बले पीला मन अउर पालक मन के चिंता रहुआय तो येचो काजे घर चो वातावरण शांत सहयोग करतो बिती आरू मया ले भरलो बिती बनावा। घर ने कोनी असन आयोजन नीकरा जेचो ले पीला के अलग-अलग राहुक पड़ो, नहाले पीलामन चो धियान भटको।
  • पढ़ई करा येई मंझारे समय मिरली जाले आपन योग अभ्यास नहाले हल्का फुल्का व्यायाम ले आपलो तनाव के दूर करूक सकासे।
  • अगर तयारी नीको नी होलीसे, जाले बले आपलो रणनीति स्पष्ट राखा। आपलो ‘स्ट्रांग’ आरू ‘विक पॉइंटस’ के चिन्हित करा अउर हुनचो अनुसार ले चे तयारी के ‘फिनीशिंग टच’ दिया।
  • येई बिचार आपलो मन ने केबेई नी आना कि आपन जे परीक्षा येबे दिया साहास, हुनी जीवना चो आखरी मौका आय। असन हडबडी ने कोनी तरह ले होश नी गंवावा, हिम्मत नी हारा अउर न तो काई गलत कदम उठावा।
  • हरेक पीला मन के आपलो कोनी न कोनी आदर्श व्यतित्व खोज तोर चाईये जेचो ले हुन प्रेरणा नेते रहो। हरेक सफल मनुक केबे नहाले केबे असफलता चो सुवाद चाखुन रहुआय। येई काजे असफलता ले डरा नई, बल्कि येके गोटोक सुधार चो मौका समझा।
  • गेलो बरख मैं आपन मन के सांगुरले कि अगर परीक्षा, परीक्षा प्रणाली नहाले असन समस्या उपरे आपन मन के गोठियातो चो मन होले, जेचो समाधान आपलो स्तर ने नी नीकरूक सकेसे नहाले कहाये या पक्षपात जसन कोनी शिकायत महसूस होयसे होती, जहां आपन सही आहस आरू आपन के गलत शाबित करा जायेसे, तेबे आपन मोचो ले ‘फेसबुक’ ले सम्पर्क करूक सकासे।

पुरूष उदघोषक

  • माननीय मुख्यमंत्री साहेब, छत्तीसगढ़ ने आपन चो नेतृत्व ने शासन आरू प्रशासन चो कायाकल्प होउनगेलीसे। सरकार आरू प्रशासन चो संचालन चो तौर तरीका खुबे बदललीसे। लोकतांत्रिक प्रक्रिया मन आरू संस्था मन तो मजबूत होलासोत, संगेचे बेहतर नतीजा मन चो काजे नुवा ‘एप्रोच’ नुवा रणनीति आरू नुवा तरीका मन ले काम होलीसे, जेके प्रशासन चो भाषा ने ‘‘नवाचार’’ नहाले ‘इनोवेशन’ बलुआत। काय आपन येबे अउर ‘नवाचार’ करूक चाहसाहस याफेर जुना योजना मन उपरे चे जोर देउक चाहसाहस?

मुख्यमंत्री साहेब

  • मैं ज्यादातर ले समया ने जनता चो मंजारे रहुआय। दूरीया-दूरीया गॉव मन चो दौरा करूआय। लोग मन चो मंजारे बसुआय। तेबे समस्या मन बले पता चलुआय अउर समाधान चो तरीका बले निकरू आय। मोके लागेसे कि नवाचार चो सबले अच्छा ‘एप्रोच’ येई आय, कि जे काम नी होउक सकेसे हुन झटके ले झटके, कोनी नवा तरीका ले होउनजावो।
  • उदाहरण चो काजे, जेबे आमन मन पी.डी.एस. के ठीक करतो काजे कम्प्यूटर आरू आई.टी. चो उपयोग करलू, तेबे हुन बले नवाचार रली।
  • प्रोटीन चो कमी ले निपटतो काजे चना आरू दार चो बटवारा करलू तेबे हुन बले नवाचार रली।
  • अउर जेबे 20 हजार करोड़ रूपया चो लागत ले रेल्वे लाईन बिछातो चो सवाल इली, तेबे आनी मन असन गुलाय संस्था मन संगे गोठियालू, जेमनके हुन ले लाभ मिरूआय अउर हुन मन सपाय सहमत होउनगेला, तेबे येई बले गोटक नवाचार आय कि राज सरकार चो खुबे पैसा नी लगलोर खुबे बडे़ काम होउनगेली।
  • माननीय प्रधान मंत्री साहेब डी.एम.एफ. चो बाटले खनिजधारी जिला मन चो विकास चो काजे भरपुर राशि चो व्यवस्था करला अउर आमन मन येई ने ले दुई अढ़ई सौ करोड़ रूपया रेल लाईन बिछातो काजे देउन दिलू, तेबे येई बले गोटोक नवाचार आय कि आपलो काम बनातो काजे पैसा चो व्यवस्था कसन कराजाउआय।
  • हमर छत्तीसगढ़ योजना, सौर सुजला योजना, लाइवलीहुड कॉलेज जसन कितली काम नवाचार चो देन आत।
  • मैं आपलो अधिकारी मन के खुला छुट दिलेसे कि जनहित चो काजे जो बले नुवा कदम उठाउक सकसोत, हुन के जरूर उठावोत। आम जनता के झटके ले झटके सुविधा देतो चे आमचो लक्ष्य आय।
  • नवाचार मन चो कारण छत्तीसगढ़ के गोटक अलग प्रतिष्ठा आरू पहचान मिरलीसे।
  • 26 जनवरी 2017 चो मौका ने मैं जे नुवा घोषणा मन करलेसे, हुन बले ‘नुवाचार’ चो माध्यम ले अभाव मन के झटके ले झटके दूर करतो चो कोशिश आय।
  • छत्तीसगढ़ ने दूरिया ठान चो गॉवकारी आरू वनांचल मन ने विशेषज्ञ डॉ.मन चो व्यवस्था करतोर गोटोक बडे़ चुनौति रलीसे। वामपंथी, उग्रवाद प्रभावित अंचल मन ने येई चुनौति अउर बले खुबे बाढुन जाउआय। असन समया ने नुवा सोच आरू नुवा रणनीति कारगर होउआय। मोके येई सांगते हरीक लागे से कि अभाव मन आरू कठिनाई मन चो मंझि बले कितली

सेवाभावी डॉक्टर दुर्गम ठान मन ने आपलो सेवा मन देउन राष्ट्र निर्माण ने योगदान करूक चाहसोत। असन विशेषज्ञ मन आरू समर्पित डॉक्टर मन चो उपयोग करतो काजे आमी प्रदेश ने ‘मुख्यमंत्री मेडिकल फेलोसिप प्रोग्राम’ शुरू करूंदे। येचो ले येई अंचल मन ने स्वास्थ्य सेवा मन चो गुणवत्ता ने सुधार होयदे, हुताये कितली ठान मन ने बनलो अधोसंरचना, जसन कि- आॅपरेशन थियेटर आरू दुसर अत्याधुनिक उपकरण मन चो उपयोग बले बेहतर क्षमता चो संगे होयदे।

महिला उद्घोषक

  • माननीय मुख्यमंत्री साहेब, गणतंत्र दिवस चो मौका ने आपन ‘मुख्यमंत्री गुड गवर्नेन्स फेलोशिप’ चो घोषणा बले करला साहस। ये काय आय? आरू प्रदेशकारी मन के येचो काय फायदा मिरेदे?

मुख्यमंत्री साहेब

  • मैं अक्सर आई.आई.टी आरू आई.आई.एम. असने अउर संस्था मन ले ताजा-ताजा पढुन नीकरलो जुवान मन ले गोठयायसे, तेबे हुन मन चो प्रतिभा आरू बिचार सुनुन खुबे हरीक लागुआय। हुन मन चो ऊर्जा जोश अउर जज्बा दखुन लागेसे कि येचो उपयोग बले तो कहंाय होतोर चाईये।
  • आमी येई बिचार पोसुन पकालूसे कि नुवा पढ़लो लिखलो जुवान सिरप पैसा काजे काम करसोत, मान्तर हकीकत असन नु आय। सही पहल होउआय तेबे डॉक्टर बीजापुर ने काम करतो काजे अमरून जासोत। सही पहल होउआय तेबे आई.आई.टी. ले निकरलो नव जुवान कोनी गॉव ने काम करूक लागु आय। आमके येई सेवा भावि बिचार चो बले सम्मान करतोर आय।
  • नुवा पिढ़ी चो लगे नुवा-नुवा आइडिया (उपाय) मन आसोत। येचो काजे आमी ‘मुख्यमंत्री गुड गवर्नेन्स फेलोशिप’ चो चलते हरेक जिला कलेक्टर चो संगे गोटोक प्रतिभावान ‘फेलो’ के संगे राखुंदे, जे न सिरप

 

जनहितकारी आरू विकास परख योजना मन चो क्रियान्वयन ने मद्द करेदे बल्कि येई ने येतो बिती समस्या मन चो हल बले करेदे। अउर जनता के बेहतर फायदा दिलातो बिती योजना मन चो बारे ने सोचेदे, सोच-विचार करेदे, हुन चो व्यवहारिक क्रियान्वयन चो बारे ने सुझाव बले देयदे।

पुरूष उद्घोषक

  • माननीय मुख्यमंत्री साहेब आपन गणतंत्र दिवस चो पावन परब ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानी अउर लोकतंत्र सेनानी सम्मान निधि ने वृद्वि करतो चो घोषणा जगदलपुर ने करूनरलास। येचो बारे ने आमचो सुनतो लोग मन केे आपन काय सांगुक चाहसास।

मुख्यमंत्री साहेब

  • भारत के अंग्रेज मन चो गुलामी ले आजाद करातो के खुबे लाम्ब संघर्ष आमचो पूर्वज मन करूरला, जेचो कारण आखिर ने 15 अगस्त 1947 के भारत आजाद होउरली। देश चो स्वतंत्रता संग्राम ने आपलो जवानी के खपातो बिता मन अउर आजादी चो पाठकुति बले आपन चो उसूल मन आपलो आदर्श मन उपरे डटुन रहुन भारत चो नव निर्माण के दिशा देतो बिता स्वतंत्रता संग्राम सेनानी मन चो आमी हमेशा ऋणी रहुंदे।
  • हुन स्वतंत्रता सेनानी मन के हरेक महिना 15 हजार रूपया चो मानदेय देतो चो व्यवस्था आसे।
  • आमी निर्णय निलूसे कि येबे ये सेनानी मन के सम्मान स्वरूप मिरतो बिती ये राशि बढ़ाउन 25 हजार रूपये करूंन दियाजाओ।
  • येचोय असन देश ने गोटोक अउर असन समया येउ रली, जेबे आमचो लोकतंत्र खतरा ने पडु रली। आमचो लोकतंत्र चो रक्षा चो काजे संघर्ष करतो बिता मन के जेल ने डारून देउ रलासोत, जे मन के ‘मीसाबंदी’ चो

रूप ने जाना जायेसे। आमी ये निर्णय निलूसे कि मीसाबंदी मन के ‘लोकतंत्र सेनानी’ चो रूप ने जाना जाओ अउर हुन मन चो मानदेय राशि बले 50 ले 66 प्रतिशत तक बढ़ाउन दिया जाओ।

महिला उद्घोषक

  • डॉक्टर साहब, आपन मन टेमरूपान टुटातो बिता मन चो पारिश्रमिक बढ़ातो चो बले घोषणा करला साहस। काय येने बले कोनी ‘‘नवाचार’’ आसे?

मुख्यमंत्री साहेब

  • हव, आमी टेमरूपान चो पूरे काम काज के सुनियोजित करलूसे ताकि येचो फायदा बनवासी मन के मिरो। असन आगे नी होते रली आमी टेमरूपान टूटातो चो लोग मन चो जीवना के हुन चो कमाई चो संगे चे शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार चो मौका आरू सूचना प्रोद्योगिकी असने अउर ले जोडलू से।
  • येदाय टेमरूपान चो बले ई-नीलामी होयसे, जेचो पूरा फायदा बनवासी मन के मिरेदे। मोचो नजर ने येई गोटोक ‘नवाचार’ चे आय, जे समाज चो सबले पिछडलो लोग मन चो जीवना बदलेसे।
  • आपन के बिश्वास नी होयदे कि टेमरूपान टुटातो लोग मन के 13 बरख पूरे सिरप 350 रूपया प्रतिमानक बोरा जमा करतो पारिश्रमिक (भूति) मिरतेरली, जेके क्रम ले बढ़ाते आमन मन 1500 रूपया तक आनुन दिलूसे। येई काजे येदाय फैसला करलूसे कि नुवा सीजन ने टेमरूपान जमा करतो चो भूति दर (पारिश्रमिक दर) 1800 रूपया प्रतिमानक बोरा करूनदिया जाओ। असने प्रकार आपन दखुन सकासे कि टेमरूपान जमातो लोग मन के मिरतो बिती पारिश्रमिक (भूति) पांच गुणा ले आगर करून दियागेलीसे।
  • मैं सोचे से कि आमचो प्रेरणा स्त्रोत पंडित दीनदयाल उपाध्याय चो अन्त्योदय आरू एकात्म मानववाद चो सिद्वांत मन के अमल ले आनतो अउर सार्थक बनातोर चो येई खुबे अच्छा उदाहरण आय।

पुरूष उद्घोषक

  • माननीय मुुख्यमंत्री साहेब आपन नवाचार नहाले इनोवेशन चो हिमायती आहास। परम्परागत रूप ले चलते येतो बिती योजना मन नहाले प्रशासन चो परिपाटि मन ले अलग गुचुन भाति आपन कितलई नुवा निर्णय निलास, जेचो फायदा खुबे जरूरत मंद मन के मिरलीसे, मान्तर काय आपन ले प्रेरणा नेउन राज चो दुसर संस्था मन नहाले व्यक्तिगत रूप ले लोग बले ‘नवाचार’ करसोत?

मुख्यमंत्री साहेब

  • निश्चित रूप ले करसोत कितले उदाहरण देउक सकेंदे।
  • आमी राजनांदगांव ने कृषि उद्यानिकी कॉलेज खोललूसे, जहां ले गोटोक नुवा खबर ईलीसे, कि कृषि वैज्ञानिक मन यूरोपियन किसम चो स्ट्राबेरी केे छत्तीसगढ़ चो माटी ने उपजातो चो किसम तियार करून पकालासोत। असने तो स्ट्राबेरी चो खेती कश्मीर, शिमला अउर हिमाचलप्रदेश जसन ठण्डा ठान मन ने होउआय।
  • येई किसम ने एक एक्कड़ चो बेडा ने लगतो बिती स्ट्राबेरी ले पांच ले दस लाख रूपया तक चो आमदानी होउक सकुआय, सब्जी-भाजी आरू दूसर उद्यानिकी फसल मन चो खेती करतो बिता किसान मन के स्ट्राबेरी चो फसल नीलो ने खुबे फायदा होयदे।
  • इंदिरा गंाधी कृषि विश्व विद्यालय चो डॉ. ए.के. गेड़ा के भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद, नई दिल्ली बाटले ‘एमेरिटस साइंटिस्ट’ चो पद काजे

चुना गेलीसे। 29 बरख बाद छत्तीसगढ़ चो कोनी वैज्ञानिक के येई सम्मान मिरलीसे।

  • डॉ. गेड़ा औषधीय बुटा हड़जोड ने रतो बिती मुख्य रासायनिक घटक मन चो अध्ययन करदे। आमचो येथा वैद्य मन चो द्वारा असन जड़ी बुटी मन चो उपयोग कराजायेसे। मान्तर हुन उपरे कोनी सुव्यवस्थित शोध नी होउरली। येदाय येई काम येदाय डॉ. गेड़ा करदे।
  • आमचो राज चो गॉव-गॉव ने स्व-सहायता समूह चो मेहरार मन चो द्वारा पापड़, बड़ी, अचार, अगरबत्ती, साबुन, ईटा, रेडिमेंट कपड़ा बनातो आरू हुन के बजार ने बिकतो अउर किराये ने बेडा धरून किसानी करतो तक चो खबर मन तो खुबे दिन ले सुनुसे, मान्तर गरियाबंद चो छुरा विकासखण्ड चो अन्तर्गत जंगल मन ले घिरलो गोटोक गॉव चो मेहरार मन चो कारनामा दखुन भाति तो मैं खुदे हैरत में पढुनगेले।
  • आपन के येई जानुन भाति आश्चर्य होयदे कि येई अनजाना ले रसेला गांव चो मेहरार मन सी.एफ.एल बल्व बनासोत अउर हुन के उतलोचे वारंटी देउन बिकसोत, जितलो बड़े-बड़े कम्पनी मन देउआत। इतलोचे नही, रसेला गॉव चो सी.एफ.एल. बल्व बडे़ कम्पनी मन चो तुलना ने खुबे कम किमत ने बिका जायसे।
  • ग्राम रसेला चो सांई कृपा महिला स्व-सहायता समूह येई काम सीखली अउर खुदे दिन ने 100 सी.एफ.एल. बल्व असेम्बल करून पकाउआत।
  • येई आत्मविश्वास,येई हौसला आरू येई जज्बा के मै सलाम करंेसे।
  • रसेला गॉव ने बनतो बिती सी.एफ.एल. बल्व जिला चो आश्रम, छात्रावास मन के उजड़ करेसे अउर येई काम ले महिला स्व-सहायता समूह चो सदस्य मन के अच्छा आमदानी होयसे।
  • असन कितलेई नवाचारी प्रयास मन अउर सफलता मन चो बारे ने मैं आगे बले सागेंदें। कसन प्रकार सरकार चो सोच आरू समाज चो सोच येदाय गोटकी बाट ने चलेसे।

महिला उद्घोषक

  • सुनतो लोग मन! आपन मन चो प्रतिक्रिया मन आमके आपलो चिठ्ठी, सोशल मिडिया-फेसबुक, ट्विटर चो संगे SMS ले बले खुबे संख्या ने मिरसोत। येचो काजे आपन सपाय के खुबे-खुबे धन्यवाद।
  • आगे बले आपन आपलो मोबाईल चो मेसेस बॉक्स नेRKG चो पाटकुति स्पेश नेउन आपलो बिचार लिखुन 7668-500-500 नम्बर ले पठाते रहा अउर संदेश चो आखिर ने आपलो नाव आरू पता लिखतो के नी भुलका।
  • मुख्यमंत्री साहेबच गेलो कड़ी ने आपन छत्तीसगढ़ चो डिजिटल आर्मी आरू कैशलेस लेनदेन चो बारे ने बिस्ता ले सांगुरलास, जेचो ले आमचो सुनतो लोग मन के खुबे जानकारी मिरूरली। आपन हुन मन चो चिठ्ठी आरू एस.एम.एस. चो जवाब ने काय सांगुक चाहासे।

मुख्यमंत्री साहेब

  • योगेश वर्मा, मोहन सिंह, रोहित साहू, योगेन्द्र वर्मा, कैलाश गोपाल, डॉ. राजेन्द्र पुरोहित, परदेशी भगत सिंह, उत्कर्ष सिंह, विवेक परिहार, छगन लाल नागवंशी, मीना नागवंशी, बेदूराम सिंहा, उमेद निषाद, मोहेश्वरी, देविका, नूतन, निहाल सिंह निर्मलकर, योगेश्वर साहू आदि असने अउर मन आपलो सकारात्मक प्रतिक्रिया पठाउन जे उत्साह बढ़ालासोत, हुन चो काजे खुबे शुक्रिया।

रायपुर हाफ मैराथन-

 

  • मैं आपन लोग मन के आजी गोटोक महत्वपूर्ण सूचना देउक चाहेसे अउर येई ने शामिल होतो काजे आमंत्रित बले करेंसे।
  • पहिल हार राज स्तरीय हाफ मैराथन चो आयोजन 19 फरवरी के नुवा रायपुर ने कराजायेसे। 21 किलो मीटर चो येई हाफ मैराथन के छांडुन 10, 5, 3, 2, आरू 1 किलो मीटर चो दौड़ चो आयोजन करा जायेसे।
  • येई दौड़ 13 समूह ने होयदे, जेने कुल 30 लाख रूपया चो पुरस्कार देतोर होयदे। प्रथम, द्वितीय, तृतीय, चतुर्थ आरू पंचम पुरस्कार क्रम ले 3 लाख, 2 लाख, 1 लाख 50 हजार, आरू 25 हजार रूपया चो आसोत।
  • येई ने आमचो प्रदेश चो सपाय जिला मन चो अलावा राष्ट्रीय स्तर चो प्रतियोगी बले शामिल होदे अउर लेका-लेकी, सियान नागरिक मन अउर दिब्यांग जन चो काजे भिने-भिने वर्ग बले बनालोर होलीसे।
  • येई मौका आपलो जोश दखातो चो, आपलो फिटनेश दखातो चो सेहत आरू विकास चो काजे एकजूटता दखातो चो बले आय। मैं चाहेंसे कि आपन मन येई ने खुबे संख्या ने शामिल हुआ।
  • मैं चाहेंसे येई पहिल मौका चे इतलो अच्छा आरू इतलो सफल होवो कि राष्ट्रीय स्तर ने येचो पहचान बनो अउर  येतो बरख मन ने बड़े-बडे़े लोग येई ने शामिल होतो के येवोत।

पुरूष उद्घोषक

  • आरू सुनतो लोग मन, येदाय बारी आय क्विज चो।

नव नम्बर चो क्विज चो सवाल रली-

  • छत्तीसगढ़ शासन बाटले ‘कैशलेस ट्रांजेक्शन’ चेा काजे जारी करलो मोबाईल एप चो काय नाव आय?
  • जेचो सही जवाब (।) मोर खीसा
  • सबले झटके जोन 5 सुनतो लोग मन सही जवाब पठालासोत, हुन मन चो नाव आय-
  1. पुष्पा पटेल, रायगढ़
  2. दीनू बघेल, कुरूद
  3. प्रज्ञा, रायपुर
  4. आरती फुसेरा- धमतरी आरू
  5. विक्रांत कुमार, कांकेर

महिला उद्घोषक द्वारा

  • अउर सुनतो लोग मन येदाय समया आय दस नम्बर चो क्विज चो,

जेचो सवाल आय-

  • ‘मुख्यमंत्री मेडिकल फैलोशिप योजना’ ले दूरिया अंचल मन ने काय नुवा सुविधा मिरेदे?
  • येचो सही जवाब (।) डॉक्टर नहाले

                  (ठ) एम्बुलेंस

     ने ले कोनी गोटोक आय।

  • आपलो जवाब देतो काजे, आपलो मोबाईल चो मेसेस बॉक्स ने फ। लिखा आरू स्पेश देउंन । नहाले ठ जो बले आपन के नंगद लागेदे, हुन गोटोक अक्षर लिखुन 7668-500-500 नम्बर ले पठाउंन दिया। संगने आपलो नॉव आरू पता जरूर लिखा।
  • आपन सपाय रमन चो गोठ सुनते रहा अउर आपलो प्रतिक्रिया मन ले आमके जनाते रहा। येचोय संगे आज चो गोठ के आमी येताय सारूंसे। येतो गोठ ने 12 मार्च के होयदे आपन ले फेर भेटघाट। तेबे-तक चो काजे आमके दिया इजाजत। जुहार।
Date: 
12 February 2017 - 9pm