Homeकवर्धा : कवर्धा उपजेल में कैदियों सहित जवानों ने सुना मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के गोठ

Secondary links

Search

कवर्धा : कवर्धा उपजेल में कैदियों सहित जवानों ने सुना मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के गोठ

Printer-friendly versionSend to friend

स्कूली बच्चों तथा आश्रम छात्रावासों के बच्चों ने सुना रमन के गोठ
मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने दीपावली, गोवर्धन पूजा, भाई दूज, कार्तिक पूर्णिमा और गुरूनानक जयंती की बधाई और शुभकामनाएं दी।
13 दिसम्बर को होगा चौथी कड़ी का प्रसारण


    कवर्धा, 8 नवम्बर 2015

प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने प्रति माह के दूसरे रविवार को प्रसारित होने वाले रमन के गोठ कार्यक्रम के माध्यम से प्रदेश वासियों संबोधित किया। आकाशवाणी रायपुर सहित आईबीसी 24, ईटीवी, जीटीवी, स्वराज एक्सप्रेस एवं साधना न्यूज सभी एफएम रेडियो पर आज लोकहित में सीधा प्रसारित होने वाले मुख्यमंत्री डॉ. रमन के गोठ शीर्षक कार्यक्रम में कबीरधाम जिले में ग्रामीण अंचल से लेकर शहरी क्षेत्रों में संचालित होने वाली शैक्षणिक संस्थाओं के अध्यानरत बच्चों एवं कवर्धा के उपजेल सभी 172 कैदियो ने भी सुना। उपजेल कवर्धा के जेल अधीक्षक श्री  डीडी टोण्डर द्वारा कैदियों को डॉ. रमन सिंह के गोठ के सुनने और देखने के लिए केबल टीवी की व्यवस्था कराई गई थी, जिसके माध्यम से सभी कैदियो ने मुख्यमंत्री के गोठ को पुरी गंभीरता से सुना और समझा भी। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के गोठ को सुनने के लिए कबीरधाम जिले के किसानों, मजदूरों, जनप्रतिनिधियों और स्कूलों में अध्ययनरत स्कूली बच्चो में पहली से ही उत्सुकता बनी हुई थी। जिला कलेक्टर श्री धनंजय देवांगन के निर्देशानुसार जिले के सभी नगरीय निकायों,ग्राम पंचायतों,आश्रम छात्रावासों में अध्ययनरत स्कूली बच्चों ने इस कार्यक्रम को सुना। स्कूली विभाग और जनपद पंचायत ने मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के गोठ को जन-जन तक पहुंचाने के लिए व्यापक इंतजाम किए गए थे। मुख्यमंत्री डॉ. रमन के गोठ कार्यक्रम के चौथी कड़ी का 13 दिसम्बर को प्रातः 10ः45 से 11 बजे तक किया जाएगा।  मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज आकाशवाणी से प्रसारित अपनी मासिक रेडियो वार्ता रमन के गोठ की तीसरी कड़ी में प्रदेश की जनता को यह विश्वास दिलाया कि छत्तीसगढ़ के नौनिहालो के भविष्य को लेकर पूरी तरह सतर्क है, तोकि उन्हे उच्च स्तर की उत्कृष्ट शिक्षा मिले और वे राष्ट्रीय स्तर की प्रतिस्पर्धाओं में सफल हो सके। डॉ. सिंह ने कहा कि कहीं न की स्कूली शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार के लिए पूर्व राष्ट्रपति डॉ.एपीजे अब्दूल कलाम के नाम पर प्रदेश व्यापी शिक्षा गुणवत्ता अभियान शुरू किया गया है,जिसके अच्छे परिणाम आने की संभावना है।


         समाचार क्रमांक- गुलाब डडसेना
 

Date: 
08 Nov 2015