Homeकवर्धा : रमन के गोठ को लेकर कबीरधाम जिले में अभूतपूर्व उत्साह के साथ देखा और सुना : समाज के विभिन्न वर्गो के लिये संचालित योजनाएं एवं बजट से जुड़ी व्यवस्थाओं पर लोगों ने प्रसन्नता व्यक्त की

Secondary links

Search

कवर्धा : रमन के गोठ को लेकर कबीरधाम जिले में अभूतपूर्व उत्साह के साथ देखा और सुना : समाज के विभिन्न वर्गो के लिये संचालित योजनाएं एवं बजट से जुड़ी व्यवस्थाओं पर लोगों ने प्रसन्नता व्यक्त की

Printer-friendly versionSend to friend

रमन के गोठ कार्यक्रम की सातवीं कड़ी का प्रसारण

कवर्धा, 13 मार्च 2016

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने रमन के गोठ कार्यक्रम के तहत आज मार्च माह के दूसरे रविवार 13 मार्च को पूर्वान्ह 10.45 बजे से 11.00 बजे तक आकाशवाणी के माध्यम से राज्य की जनता के साथ अपने विचारों को आज साझा किया। मुख्यमंत्री डॉ.रमन के गोठ के सातवी कड़ी का सीधा आकावाणी सहित आईबीसी 24 और ईटीवी तथा सभी एफएम रेडियो में भी प्रसारित किया गया। कबीरधाम जिले के सभी ग्राम पंचायतों, लोक शिक्षण केन्द्रों में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के गोठ कार्यक्रम को सुनने की व्यवस्था की गई थी। इसके अलावा जिले की सभी ग्राम पंचायतों के साथ-साथ शासकीय स्कूल,उपजेल के कैदियों तथा कवर्धा के बस स्टैण्ड, नवीन बाजार चौक, गुरूगोविंद सिंह चौक,भारत माता चौक सहित ग्राम पंचायत भवनों में व्यवस्था की गई थी। इसके अलावा जिले के दूर-दराज के अंचलों, आदिवासी इलाकों में भी इस कार्यक्रम के सुनने की व्यवस्था की गई थी।
    मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह के गोठ की सातवीं कड़ी को सुनने के लिए कबीरधाम जिले के विभिन्न स्थानोें पर जिला कलेक्टर श्री धंनजय देवांगन के मार्गदर्शन में समाज के लोगों के सुनने के लिए व्यवस्था की गई थी, और उसे सुनकर लोगों ने अपनी प्रतिक्रयाएं भी दी। आज मुख्यमंत्री के गोठ कार्यक्रम के प्रसारण में उन्होंने छत्तीसगढ़ के स्व. संत पवन दीवान जी के योगदान को रेखांकित किया और उन्हें अपनी विनम्र श्रंद्धाजलि दी। उन्होंने आगे कहा कि राज्य शासन द्वारा महिलाओं के लिये अनेक कार्यक्रम चलाये गये है और इन कार्यक्रमों के जरिये उन्हें लाभान्वित किया जा रहा है और सशक्त बनाने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने इस वर्ष के बजट में शासन के विभिन्न कल्याणकारी कार्यक्रम और योजनाओं की जानकारी भी दी और यह भी बताया कि किस प्रकार से सूखा राहत के तहत किसानों के लिये व्यवस्था की गई है और अन्य योजनाओं के लिये राशि का प्रावधान कर विकास को और तेज गति दी जायेगी। उन्होंने आगामी विश्व जल दिवस के लिये प्रदेश के सभी लोगों को आव्हान करते हुए कहा कि हम सभी को जल संरक्षण पर विशेष ध्यान देना और इसके लिये हम सभी को प्रतिबद्ध होना है।
    कवर्धा जिले में सातवीं कड़ी के प्रसारण पश्चात् अलग-अलग क्षेत्रों से जुड़े लोगों ने अपनी मनोविचारों को व्यक्त किया। साहित्य सेवी श्री नीरज मंजीत ने कहा कि वे माननीय मुख्यमंत्री जी के रमन के गोठ कार्यक्रम का प्रसारण हमेशा बड़े ध्यान से सुनते है। आज उन्होंने इस संबंध में प्रतिक्रिया भी दी और कहा कि आज की कड़ी में माननीय मुख्यमंत्रीजी ने बजट में जो भी विकासमूलक कार्यो के लिये व्यवस्थाएं की है, वे अत्यंत सराहनीय एवं प्रशसंनीय है। उन्होंने आगे बताया कि माननीय मुख्यमंत्रीजी ने महिलाओं को विशेष रूप से सशक्त बनाने और उन्हें अपने पैरों पर खड़े होने के लिये योजनाएं संचालित की है, वहीं उन्होंने इस वर्ष शिक्षा के लिये बजट में एक बड़ी राशि की व्यवस्था कर शिक्षा को गुणात्मक एवं वर्तमान जरूरतों के अनुसार बनाने पर जोर दिया है। इसके अलावा उन्होंने छात्रों को वर्तमान में चल रही बोर्ड परीक्षाओं के लिये बधाई और शुभकामनाएं दी है और उन्हें सहज एवं आत्म विश्वास से पूर्ण होकर परीक्षा में शामिल होने के लिये प्रेरणा दी। मुख्यमंत्रीजी ने साहित्य सेवी होने के साथ छत्तीसगढ़ में अपना अमूल्य योगदान करने वाले स्व. पवन दीवान को श्रद्धाजलि भी दी है और उनके कार्यो को भी याद किया है। कवर्धा उपजेल में कैदियों ने भी इस कड़ी के संबंध में अपनी प्रतिक्रियां दी है और बताया कि वे हर बार ध्यान से सुनते है। इसके अलावा कबीरधाम जिले के दूर-दराज के अंचलों में भी मुख्यमंत्रीजी के इस लोकप्रिय कार्यक्रम के सुनने की व्यवस्था आमजनों के लिये की गई थी।  
समाचार क्रमांक-273/एस.शुक्ल

Date: 
13 Mar 2016