Homeकोण्डागांव : सुदूर ग्राम बयानार में भी उत्सुकतापूर्वक सुना गया ‘‘रमन के गोठ‘‘ : कार्यक्रम में बड़ेडोंगर प्रवास का भी जिक्र किया मुख्यमंत्री ने

Secondary links

Search

कोण्डागांव : सुदूर ग्राम बयानार में भी उत्सुकतापूर्वक सुना गया ‘‘रमन के गोठ‘‘ : कार्यक्रम में बड़ेडोंगर प्रवास का भी जिक्र किया मुख्यमंत्री ने

Printer-friendly versionSend to friend

कोण्डागांव 08 मई 2016

   जन-जन के गोठ के रुप में चर्चित रेडियो कार्यक्रम ‘‘रमन के गोठ‘‘ कोण्डागांव जिले के ग्रामों में अपनी पैठ बना चुका है। इस कड़ी में कोण्डागांव जिले के दूरस्थ अंचल ग्राम बयानार में भी उक्त रेडियों कार्यक्रम का प्रसारण हुआ। इस अवसर पर रेडियो श्रवण हेतु जिला कलेक्टर श्रीमती शिखा राजपूत तिवारी एवं पुलिस अधीक्षक जे.एस.वट्टी की उपस्थिति में ग्रामीणों की भारी संख्या में भीड़ थी।
    ज्ञात हो कि जिला कोण्डागांव कलेक्टर के निर्देशानुसार पहली बार बयानार जैसे दूरस्थ अंचल ग्राम को इस कार्यक्रम के तहत चयन किया गया था। रमन के गोठ कार्यक्रम में सर्वप्रथम मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने दसवीं एवं बारहवी की परीक्षा में उत्तीर्ण छात्रों को बधाई देते हुए। उन्होंने हर्ष जताया कि बड़ी संख्या में बेटियो ने प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त किया है। इसके साथ ही उन्होंने परीक्षा में असफल छात्रों को निराश न होने की सलाह देते हुए कहा कि आने वाले समय में दुनी तैयारी के साथ पढ़ाई में जुट कर सफल होंवे। वर्तमान में चल रहे लोक सुराज अभियान के उद्देश्य एवं महत्व पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने कहा कि प्रशासन के यह दायित्व है कि मुख्यालय से उठकर वह गांव-गांव में जाकर चौपाल में ग्रामीणों की समस्याओं एवं मांगो को समझने एवं उनके निराकरण करने का प्रयास करें। शासन की अनेक महत्वपूर्ण योजनाओं का जन्म ऐसे ही चौपालों में विचार विमर्श के बाद हुआ है। लोक सुराज अभियान गुजरे 12 साल में किए गए कार्यो पर खुद के आकलन का जरिया होने के साथ-साथ कमियों को दूर करने का बेहतर उपाय है। शत्-प्रतिशत पारदर्शी क्रियान्वयन के लिए लोक सुराज जरुरी है।
    अपने उद्बोधन में उन्होंने विगत् दिवस 29 अप्रैल 2016 को लोक सुराज अभियान के अंतर्गत बड़ेडोंगर प्रवास के दौरान 80 वर्षीय स्थानीय ग्रामीण महिला ‘‘सुलबति‘‘ से आत्मीयता पूर्वक बातचीत का उल्लेख किया। उन्होंने बताया कि वह ग्रामीण केवल धन्यवाद एवं आर्शीवाद के लिए ही मुझसे मिलना चाह रही थी। उस महिला ने मुख्यमंत्री को बताया कि शासन द्वारा प्रदत्त अधिकांश योजनाओं से ग्रामीण लोगो के जीवन स्तर में परिवर्तन आया है। अब उन्हें पूर्व की अपेक्षा भटकना नहीं पड़ता। योजनाओं के माध्यम से उनके रोजमर्रा का जीवन सरल हो गया है। अब उन्हें समय में राशन सामग्री के साथ-साथ स्वास्थ्य सेवाऐं, पेंशन आदि प्राप्त करने में दिक्कत नहीं होती।
    अपने क्षणिक भेंट में महिला ने सरलता से जो बात कही उससे मुख्यमंत्री प्रभावित हुए बिना नहीं रह सके। उन्होंने प्रसन्नता जाहिर किया कि बड़ेडोंगर जैसे सुदुरवनांचल गांव में भी योजनाओं को क्रियान्वयन हो रहा है और ग्रामीणों के जीवनस्तर को सुधारने में मदद मिली है। इसे स्थायी एवं टिकाउ रखना ही प्रशासन की जिम्मेदारी के साथ-साथ एक बड़ी चुनौती भी है। इसके अलावा उन्होंने दंतेवाड़ा जिले में स्थानीय किसानों द्वारा की जा रही जैविक खेती का सराहना करते हुए कहा कि इसका प्रचार-प्रसार पूरे देश में किया जायेगा।
    अपने नवीं कड़ी के उद्बोधन में उन्होंने बताया कि गांव के पटवारी के माध्यम से खसरा नक्शा बी-1 एवं आबादी जमीन का पट्टा निःशुल्क प्रदाय किया जायेगा। जन औषधि केन्द्र का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि इन केन्द्रो में 400 प्रकार की जेनेरिक दवाईयाँ उपलब्ध है जो सस्ती होने के साथ-साथ गुणवत्ता मंे ऊंची ब्रान्डेड दवाईयों से भी अच्छी है। अपने संबोधन के अंत में उन्होंने अक्षय तृतीया पर्व की बधाई देते हुए कहा कि किसी भी परिस्थिति में बाल विवाह न करे न होने देवें। इसके अलावा उन्होंने बुद्ध पूर्णिमा, शंकराचार्य जयंती, परशुराम जयंती, वल्लभाचार्य जयंती की भी शुभकामनाएं दिया।
    इस दौरान कलेक्टर श्रीमती शिखा राजपूत तिवारी ने मुख्यमंत्री के संबोधन को सुनने के बाद ग्रामीणों से रुबरु होते हुए बताया कि शासन की योजनाओं से लाभान्वित होने के लिए अपील किया। इस दौरान उन्होंने ग्रामीणों को मुनगा वृक्ष के पौधे वितरित किए। मुनगा के विषय में उन्होंने बताते हुए कहा कि मुनगा के वृक्ष आयरन, कैल्शियम एवं अन्य विटामिनों का अच्छा स्त्रोत है। जो विशेष तौर पर महिलाओं के लिए लाभप्रद होते है।  अतः हर घर में मुनगा के पौधे लगाकर उसकी अच्छी तरह देखभाल करे। इस अवसर पर अनुविभागीय अधिकारी (रा.) राजेश पात्रे, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत योगिता देवांगन, सरपंच जयन्ती नेताम सहित ग्रामवासी उपस्थित थे।


क्रमांक/1164/रंजीत


    






 

Date: 
08 May 2016