Homeकोण्डागांव : ‘‘रमन के गोठ‘‘ की 13वीं कड़ी का हुआ प्रसारण : ग्राम पल्ली के ग्रामीणो ने कार्यक्रम को प्रेरणादायी बताया

Secondary links

Search

कोण्डागांव : ‘‘रमन के गोठ‘‘ की 13वीं कड़ी का हुआ प्रसारण : ग्राम पल्ली के ग्रामीणो ने कार्यक्रम को प्रेरणादायी बताया

Printer-friendly versionSend to friend

कोण्डागांव 11 सितम्बर 2016

‘‘रमन के गोठ‘‘ कार्यक्रम की हर कड़ी में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के प्रेरक और उत्साहवर्धक संदेशो का समावेश होता है। जिससे हमे अपने गांव में कुछ नया कार्य करने की प्रेरणा मिलती है। यह कहना है कोण्डागांव विकासखण्ड से 30 कि.मी. दूर स्थित ग्राम पल्ली के सरपंच सुग्रीव सिंह मरकाम का।
 आज रमन के गोठ के प्रसारण को सुनने के लिए ग्रामीणो की उत्साहवर्धक भीड़ ग्राम पल्ली के पंचायत भवन में जुटी हुई थी और सभी ने धैर्यपूर्वक मुख्यमंत्री के प्रसारण को सुना। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री द्वारा स्वच्छता, शिक्षा, चिकित्सा, उज्जवला योजना की जानकारी देने के साथ-साथ मानव तस्करी एवं फर्जी चिटफंड कंपनियों के गतिविधियों से सावधान रहने की जरुरत पर बल दिया गया। मुख्यमंत्री ने सार्वजनिक गणेश उत्सव की शुरुवात करने के लिए लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक के योगदान को याद करते हुए कहा कि तिलक जी ने ही गणेश उत्सव को आजादी की लड़ाई से जोड़कर सार्वजनिक बनाया इसके साथ ही उन्होंने ईद-उल-जुहा पर्व के लिए मुस्लिम समाज सहित सभी लोगो को शुभकामनाएं देते हुए विश्वकर्मा जंयती ओणम और नवरात्रि के लिए अग्रिम शुभेच्छा प्रगट की। डॉ. सिंह ने कहा कि सभी त्यौहार हमें आज के समय की चुनौतियो एवं जीवन को सरल बनाने में सहायक होते है।
 मुख्यमंत्री ने उज्जवला योजना पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में दो साल 25 लाख परिवारो को योजना के तहत लाभान्वित करने का लक्ष्य रखा गया है, मात्र 200 रुपये के पंजीयन शुल्क पर महिलाओं को निःशुल्क रसोई गैसे कनेक्शन, डबल बर्नर चुल्हा और भरा हुआ सिलेण्डर दिया जायेगा। रसोई गैस सिलेण्डरो का सुरक्षित तरीके से इस्तेमाल करने का आग्रह करते हुए उन्होंने कहा कि उज्जवला योजना के तहत गैस सिलेण्डर के साथ संबंधित एजेंसी का टोल फ्री नंबर भी दिया जा रहा है जहां किसी भी प्रकार की आशंका होने पर सूचित किया जा सकता है। ग्राम पल्ली के ग्रामीण कृषक सोमाराम, जगतूराम, फगनू राम, ग्राम पुजारी कमलूराम ने मुख्यमंत्री के प्रसारण को उपयोगी बताते हुए कहा कि वे मुख्यमंत्री द्वारा कही बातो से अन्य ग्रामीणो को भी अवगत कराते है जो उनके लिए फायदेमंद सिद्ध होती है। ग्राम सचिव मनीराम कोर्राम ने बताया कि उज्जवला योजना के तहत गांव में 250 पंजीयन हो चुके है। इसके साथ ही अन्य ग्रामीणों को भी योजना के तहत लाभान्वित किए जाने के प्रयास किए जा रहे है। इस दौरान नोडल अधिकारी के.एल.गुप्ता, उप सरपंच सामनाथ मरकाम सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।  

क्रमांक/1422/रंजीत


 

Date: 
11 Sep 2016