Homeकोरबा : कोरबा में रमन के गोठ का किया गया श्रवण

Secondary links

Search

कोरबा : कोरबा में रमन के गोठ का किया गया श्रवण

Printer-friendly versionSend to friend

कोरबा 12 मार्च 17

मुख्यमंत्री डा रमन सिंह की मासिक रेडियो वार्ता ‘रमन के गोठ’ की 19 वीं कड़ी का प्रसारण सियान सदन घंटाघर कोरबा में किया गया। मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने रमन के गोठ ’ में  बताया कि इस बार का लोक सुराज अभियान तीन चरणों में हो रहा है। पहले चरण में 26 फरवरी से 28 फरवरी तक लोगों से आवेदन लिए गए हैं। दूसरे चरण में पूरे मार्च भर इन आवेदनों का निराकरण किया जा रहा है और तीसरे चरण में तीन अप्रैल से 20 मई तक पूरे राज्य में समाधान शिविर लगाए जाएंगे, जहां इन आवेदनों पर की गई कार्रवाई के बारे में बताया जाएगा। साथ ही नये आवेदन भी लिए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा-हमने इस बार के लोक सुराज अभियान को ’समाधान पर्व’ बना दिया है, ताकि समाधान की मानसिकता सरकार के हर स्तर पर बनें, जनप्रतिनिधि और जनता भी समाधान की प्रक्रिया में शामिल हों और एक सकारात्मक वातावरण बनें।
अचानक पहुंचकर जनता से करेंगे मुलाकात
मुख्यमंत्री ने कहा कि इस अभियान के तहत मैं पहले की तरह किसी भी दिन, किसी भी गांव और किसी भी जिले में अचानक पहुंचकर जनता से मुलाकात करूंगा, समाधान शिविरों में भी जाउंगा और रात को जिलों की समीक्षा भी करूंगा। उन्होंने कहा-यह अभियान सबसे कठिन गर्मी के मौसम में इसलिए आयोजित करते हैं, ताकि जनसुविधाओं और योजनाओं का जायजा इस मौसम में लिया जाए और बारिश के दिनों के लिए भी इंतजाम हो जाए। साथ ही आगे की योजना भी बन जाए। उन्होंने कहा-मेरे अलावा सभी मंत्री, मुख्य सचिव से लेकर सारे वरिष्ठ अधिकारी, विधायक, सांसद आदि जनप्रतिनिधि भी इस दौरान प्रदेश का दौरा करते रहेंगे। मुख्यमंत्री ने लोक सुराज अभियान में प्रदेशवासियों से सक्रिय सहयोग का आव्हान किया और उनसे समाधान शिविरों में आने तथा अपनी समस्याओं का समाधान प्राप्त करने की भी अपील की।
 मुख्यमंत्री ने रमन के गोठ में राज्य सरकार के नये बजट में शामिल संचार क्रांति योजना (स्काई) में 45 लाख स्मार्ट फोन बांटने के लक्ष्य का भी उल्लेख किया। उन्होंने बताया-इस योजना के तहत हमने 39 लाख ग्रामीणों, शहरी क्षेत्रों के तीन लाख परिवारों और कॉलेजों के तीन लाख विद्यार्थियों को स्मार्ट फोन और सिम देने का निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री ने बताया कि ’सखी-वन स्टाप सेंटर’ की स्थापना के सभी 26 जिलों में की गई है। प्रदेश सरकार के आगामी वित्तीय वर्ष 2017-18 के बजट में महिलाओं के लिए किए गए प्रावधानों की चर्चा करते हुए उन्होंने बताया कि कोरबा जिले के कटघोरा,   50 बिस्तरों का मातृ-शुशि क्लिनिक खोला जाएगा। मुख्यमंत्री ने राज्य में शुरू होने वाली ’डायल-112’ योजना की भी जानकारी दी और बताया कि किसी भी दुर्घटना के समय घायल या संकटग्रस्त व्यक्ति की मदद के लिए यह सेवा एक क्रांतिकारी कदम है, जो हमारी पुलिस व्यवस्था का काया-कल्प कर देगी। इसमें रिस्पांस-टाईम के साथ पारदर्शिता, जिम्मेदारी, मदद और राहत के प्रावधान पुलिसिंग को आधुनिक दिशा देंगे। पुलिस फायर ब्रिगेड और एम्बुलेंस जैसी तत्काल मदद की जरूरत पड़ने पर एक ही नम्बर 112 डायल किया जा सकता है।

    सियान सदन में प्रमुख रूप से निगम आयुक्त अजय अग्रवाल,संयुक्त कलेक्टर गजेन्द्र सिंह ठाकुर,एसडीएम श्री देवेन्द्र पटेल,डिप्टी कलेक्टर विश्वास राव मेश्राम,जिला उद्योग प्रबंधक श्री एम एल कुशरे, जिला रोजगार अधिकारी श्री जे पी खाण्डे,तहसीलदार श्री टी आर भारद्वाज सहित आम नागरिक गण उपस्थित थे। जिले के कटघोरा ब्लाक सहित अन्य क्षेत्र में भी रमन के गोठ का श्रवण किया गया।


क्रमांक 1754/कमलज्योति

 

Date: 
12 Mar 2017