Homeगरियाबंद : सोरिद खुर्द गांव में चौपाल लगाकर लोगों ने सुना ’’रमन के गोठ’’ का सीधा प्रसारण

Secondary links

Search

गरियाबंद : सोरिद खुर्द गांव में चौपाल लगाकर लोगों ने सुना ’’रमन के गोठ’’ का सीधा प्रसारण

Printer-friendly versionSend to friend

आम जनता, जनप्रतिनिधि सहित बच्चे और प्रशासनिक अधिकारी भी पहुंचे

गरियाबंद 11 अक्टूबर 2015

आकाशवाणी के माध्यम से प्रत्येक माह के दूसरे रविवार को सुबह 10.45 से 11 बजे तक प्रसारित होने वाले बहुप्रतिक्षित ’’रमन के गोठ’’ का सीधा प्रसारण आज विकासखण्ड छुरा के सोरिद खुर्द ग्राम के गायत्री मंदिर परिसर में ग्रामीणों ने चौपाल लगाकर सुना। इस अवसर पर जनप्रतिनिधियों और ग्रामीणों के साथ अपर कलेक्टर, अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी सहित प्रशासनिक अधिकारियों ने भी रेडियो कार्यक्रम का सामूहिक श्रवण किया। अपने रेडियो संवाद के माध्यम से मुख्यमंत्री ने कहा कि अवर्षा की स्थिति वाले विकासखण्डों को पुनः चिन्हाकिंत करने के लिए कहा गया है ताकि उन्हें ज्यादा मदद दी जा सके। उन्होंने छत्तीसगढ़ के महापुरूषों एवं तीज-त्योहारों को याद करते हुए पितृ पक्ष, शक्ति पूजा- नवरात्र पर्व, विजयदशमी - दशहरा इत्यादि परम्पराओं को अनूठा एवं छत्तीसगढ़ के लिए महत्वपूर्ण बताया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू की गई मुद्रा योजना से युवाओं को लाभ उठाने की अपील करते हुए कहा कि इससे बिना जमानत के 50 हजार से 10 लाख रूपये तक के ऋण प्राप्त होंगे। उन्होंने इस योजना से लाभ उठाने लोगों को बैंकों से संपर्क करने कहा तथा व्यवसायों से जुड़ने की अपील की। मुख्यमंत्री ने शिक्षा और स्वास्थ्य तथा स्वच्छता से संबंधित योजनाओं की जानकारी भी अपने रेडियो संवाद में दिया और स्वच्छता अभियान से जुड़ने को कहा। उन्होंने बताया कि 31 अक्टूबर सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती को क्रांति दिवस के रूप में मनाया जायेगा तथा स्वच्छता के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले ग्राम पंचायतों को जिला स्तर पर पुरस्कृत किया जायेगा।
    ’’रमन के गोठ’ के दूसरे प्रसारण को सुनने ग्रामीणों में गजब का उत्साह देखा गया और पूर गांव उमड़ पड़ा। ग्रामीणों सहित बुजुर्ग, गांव के मुखिया, युवा, महिलाएं व बच्चों द्वारा इस कार्यक्रम का बेसब्री से इंतजार किया जा रहा था। जैसे ही 10.45 बजे रमन के गोठ का प्रसारण शुरू हुआ लोगों ने ताली बजाकर खुशी जाहिर की। मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के उद्बोधन में कहे गये महत्वपूर्ण बातों को अपने कापी-पेड में भी नोट किया। कुछ लोगों ने कहा कि 15 मिनट का समय कब बीता पता ही नहीं चला। जिला पंचायत सदस्य श्री पन्ना लाल धु्रव ने कहा कि इस कार्यक्रम से योजनाओं को जानने, समझने में मदद मिलेगी और विकास कार्यो को गति मिलेगा। मुख्यमंत्री ने अपने रेडियो संवाद में विभिन्न नई योजनाओं से अवगत कराया। स्वास्थ्य एवं शिक्षा तथा प्रधानमंत्री मुद्रा योजना का जिक्र महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि रमन के गोठ से प्रेरणा मिलती है। जनपद पंचायत छुरा के उपाध्यक्ष श्री अवधराम साहू ने कहा कि जनता से संवाद और संपर्क स्थापित करने का यह अच्छा प्रयास है। मुख्यमंत्री ने अपने रेडियो कार्यक्रम में मुद्रा योजना की जानकारी देकर और स्वच्छता के संबंध में बताकर लोगों को जागरूक किया है, लोग इसका फायदा उठायेंगे।
    टेलर का काम करने वाला सोरिद निवासी कोमल राम सिन्हा ने बताया कि यह कार्यक्रम अत्यन्त सराहनीय है और इससे डॉ रमन सिंह सीधे जनता सके जुड़ जाते है। कक्षा 11वीं में पढ़ने वाली कुमारी सोम्मी यादव ने बताया कि उसे इस कार्यक्रम का सुबह से इंतजार था, वह अपने सहपाठियों के साथ रेडियो कार्यक्रम सुनने आई है। सोरिद के ही सियान श्री घसिया राम यादव ने कहा कि इस कार्यक्रम से प्रदेश के मुखिया डॉ. रमन सिंह जनता के सुख-दुःख में शामिल होते है, जिससे अपनापन का भाव जागृत होता है। ग्राम पंचायत की महिला सरपंच श्रीमती चंपा बाई ध्रुव अपने वार्ड पंचों के साथ कार्यक्रम सुनने आई थी। सरपंच ने कहा कि यह बहुत ही सराहनीय प्रयास है। डॉ रमन सिंह के उद्बोधन से हमें उत्साह मिलता है और अच्छे कार्य करने की प्रेरणा मिलती है। ग्राम के युवा होरीलाल ध्रुव और नंद कुमार यादव ने इसे लोगों को जोड़ने वाल बताया।
    रेडियो कार्यक्रम सुनने गांव में उत्सव का माहौल था। हर वर्ग के लोगों ने रमन के गोठ को शांतचित और ध्यानपूर्वक सुना। कार्यक्रम में जनप्रतिनिधि, जनपद सदस्य डेमन सिन्हा, उपसरपंच हेमन्त सिन्हा, मोतिलाल चन्द्राकर, गांव के सियान, बच्चे, महिलाएं, युवा सहित अपर कलेक्टर रामजी साहू, जिला पंचायत के अतिरिक्त मुख्यक कार्यपालन अधिकारी एच.एस चौहान, जनसंपर्क अधिकारी सुरेन्द्र ठाकुर, आर.ई.एस के अनुविभागीय अरूण वर्मा,  पोषण साहू, तहसीलदार राकेश साहू, उप वनमण्डलाधिकारी राजिम, वन परिक्षेत्र अधिकारी फिंगेश्वर  सहित जनपद पंचायत के अधिकारी उपस्थित थे।

 

समाचार क्रमांक - 1298/पोषण-सुरेन्द्र
 

Date: 
11 Oct 2015