Homeजगदलपुर : भारी वर्षा के बीच ‘रमन के गोठ‘ सुनने के लिए पंचायत भवन में जुटे बड़े मारेंगावासी

Secondary links

Search

जगदलपुर : भारी वर्षा के बीच ‘रमन के गोठ‘ सुनने के लिए पंचायत भवन में जुटे बड़े मारेंगावासी

Printer-friendly versionSend to friend

जगदलपुर, 10 जुलाई 2016

बस्तर में शुक्रवार से झमाझम बारिश हो रही है और मौसम में लोग खेती-किसानी में व्यस्त हैं, इसके बावजूद बस्तरवासियों में हर माह की दूसरी रविवार को रेडियों में प्रसारित होने वाले कार्यक्रम ‘रमन के गोठ‘ की ग्यारवहीं कड़ी को सुनने की उत्सुकता देखी गई। तोकापाल विकास खण्ड के बड़े मारेंगा में स्थित ग्राम पंचायत भवन में भी ग्रामीण रमन के गोठ को सुनने के लिए जुटे रहे।
    मुख्यमंत्री द्वारा अपने रेडियो संदेश में खेती-किसानी, शिक्षा, युवा नीति और चिटफंड को लेकर कही गई बातों पर ग्रामीणों ने प्रशंसा व्यक्त की। यहां के किसान विरेन्द्र नाग ने राज्य के किसानों को खेती के लिए पांच लाख रूपए तक ब्याज मुक्त अल्पकालीन कृषि ऋण देने की व्यवस्था किए जाने पर प्रशन्नता व्यक्त की। यहीं के युवा किसान अजय मौर्य ने ब्याज अनुदान की पात्रता के लिए प्रति हेक्टेयर, असिंचित भूमि पर 20 हजार रूपए और सिंचित भूमि पर 25 हजार रूपए की पूर्व प्रचलित ऋण सीमा को समाप्त करने के निर्णय को किसानों को आर्थिक रुप से सक्षम बनाने में मददगार बताया। दसवीं की पढ़ाई कर रहे मंगलू ने छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा युवाओं के कल्याण के लिए किए जा रहे कार्यों की प्रशंसा की। उन्;होंने कहा कि यह पूरे प्रदेश के लिए बहुत ही अच्छी बात है कि छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य होगा, जो युवाओं की सहभागिता से प्रदेश की नई युवा नीति बनाने जा रहा हैं। इसके लिए मुख्यमंत्री की इच्छा को देखते हुए प्रत्येक ग्राम सभा में गहन चर्चा और लोगों द्वारा इसकी सम्पूर्ण प्रक्रिया पर अपने सुझाव निश्चित तौर पर दिया जाना चाहिए। प्रदेश के युवाओं को राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय संस्थानों में शिक्षा ग्रहण करने का अवसर देने के लिए एनआईटी, ट्रिपल आईटी, एम्स, राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय, आई.आई.एम जैसी संस्थाएं अब हमारे यहां हैं, इससे प्रदेश के युवाओं का भविष्य निश्चित तौर पर उज्जवल होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा नक्सली हिंसा पीड़ित क्षेत्रों के बच्चों को बेहतर शिक्षा देने के लिए शुरु किए गए ‘प्रयास आवासीय विद्यालय के परिणाम उत्साह जनक हैं। परचनपाल में स्थित प्रयास आवासीय विद्यालय की सावित्री कश्यप ने जेईई एडवांस की परीक्षा में सफलता अर्जित कर बस्तर के बच्चों का हौंसला बढ़ाया है।
    यहां के किसान झिमटूराम बघेल ने प्रधानमंत्री कृषि बीमा योजना के संबंध में मुख्यमंत्री द्वारा जानकारी देने पर खुशी जताई। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के इस संदेश से उन्हें जानकारी मिली कि 31 जुलाई तक इस योजना का लाभ लिया जा सकता है और वे भी इस योजना का लाभ अवश्य लेंगे। इस योजना में बैंक तथा सोसायटी से ऋण लेने वाले किसान और ऋण नहीं लेने वाले किसान तथा बटाईदार-किसानो्रं को शामिल किए जाने पर उन्होंने खुशी जताई। इस योजना में सिंचित और असिंचित धान, मक्का, सोयाबीन, मूंगफली, अरहर, मूंग और उड़द की फसल के लिए लागू किए जाने पर अधिक से अधिक किसानों को इसका लाभ मिलने की उम्मीद भी जताई। उन्होंने कहा कि खरीफ फसल के लिए इस योजना में किसानों को सिर्फ दो प्रतिशत का प्रीमियम देना होगा, जो किसानों के लिए काफी अच्छा है।
राज्य सरकार द्वारा फर्जी बैंकिंग और फर्जी चिटफंड कम्पनियों से निपटने के लिए उन वित्तीय संस्थाओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने और दोषियों को कड़ी सजा देने का प्रावधान किए जाने पर भूतपूर्व उप सरपंच श्री सुनील बघेल ने खुशी जताई। उन्होंने कहा कि बिना कलेक्टर को सूचना दिए वित्तीय कारोबार प्रारंभ नहीं करने की नीति अच्छी है। आम नागरिक अब कलेक्टर कार्यालय में जाकर उस संस्थान की जानकारी ले सकते हैं, जो वित्तीय लेनदेन कर रही है। इससे ग्रामीणों को भी ऐसी संस्थानों की सही जानकारी आसानी से मिल जाएगी।

 

Date: 
10 Jul 2016