Homeजशपुरनगर : रमन के गोठ की पन्द्रहवीं कड़ी का प्रसारण : मुख्यमंत्री ने कहा- बचपन बचाने की जिम्मेदारी सभी पर : 15 नवंबर से होगी धान खरीदी

Secondary links

Search

जशपुरनगर : रमन के गोठ की पन्द्रहवीं कड़ी का प्रसारण : मुख्यमंत्री ने कहा- बचपन बचाने की जिम्मेदारी सभी पर : 15 नवंबर से होगी धान खरीदी

Printer-friendly versionSend to friend

जशपुरनगर 13 नवम्बर 2016

जशपुर जिले में रमन के गोठ की पन्द्रहवीं कड़ी का प्रसारण उत्साह के साथ सुना गया। रेडियो के साथ विभिन्न समाचार चैनलों में इसके प्रसारण की व्यवस्था होने से जिले भर में इसे सुना गया। जिला मुख्यालय के जिला गं्रथालय में सामूहिक रूप से रमन के गोठ सुनने के लिए प्रोजेक्टर की व्यवस्था की गई थी। यहां नगर पालिका अध्यक्ष श्री हीरूराम निकुंज, कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला, एसडीएम श्री एस.के.दुबे, नगर पालिका सीएमओ श्री पी.सी. कश्यप, बीईओ श्री डी.के. यादव, परियोजना समन्वयक आरएमएसए श्री बी.पी. जाटवर, सहित अन्य अधिकारियों -कर्मचारियों, शिक्षकों, स्कूल एवं छात्रावास के विद्यार्थियों सहित बड़ी संख्या में जनसामान्य उपस्थित थे। ’रमन के गोठ’ को सामूहिक रूप से सुनने के लिए जनपद एवं नगर पंचायतों सहित अन्य स्थानों में व्यवस्था की गई थी। लोक शिक्षा केन्द्रों में भी प्रसारण को सुना गया। नवसाक्षरों सहित जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिकों सहित ग्रामीणजनों ने लोक शिक्षा केन्द्रों में रमन के गोठ को सुना। यहां लोगों ने उत्साहपूर्वक मुख्यमंत्री की बातें सुनी। जिले के सभी अनुभाग और सभी विकासखण्ड के क्षेत्रों में नागरिकों ने टेलीविजन एवं रेडियो पर मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की वार्ता ’रमन के गोठ’ को बड़े उत्साह एवं उमंग से सुना। नगर एवं गांव में महिलाओं, पुरूषों, बुजुर्गो के अलावा बच्चों ने भी प्रदेश के मुखिया की वार्ता को सुना। सभी ने 20 मिनट के कार्यक्रम ’रमन के गोठ’ का प्रसारण धैर्यपूर्वक सुना।
उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री हर महीने के दूसरे रविवार को सबेरे 10.45 से 11.05 बजे तक टी.व्ही एवं आकाशवाणी के जरिये राज्य की जनता के साथ अपने विचारों को साझा करते हैं। डॉ. सिंह ‘रमन के गोठ’ शीर्षक इस कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ की सामाजिक-सांस्कृतिक और प्रशासनिक गतिविधियों तथा अपनी सरकार की विकास योजनाओं के बारे में वार्तालाप शैली में जनता को जानकारी देते हैं। उनका यह अभिनव कार्यक्रम भेंटवार्ता पर आधारित होता है, जो राजधानी रायपुर सहित राज्य में स्थित आकाशवाणी के सभी केन्द्रों और विभिन्न न्यूज चैनल और सभी एफएम रेडियो में भी प्रसारित होता है।
मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने रमन के गोठ में समर्थन मूल्य पर 15 नवम्बर से धान खरीदी के लिए की गई तैयारियों की जानकारी दी। उन्होंने इस बात पर खुशी जताई कि इस वर्ष समर्थन मूल्य के अनुसार धान बेचने के लिए 14 लाख 54 हजार किसानों ने पंजीयन कराया है। किसानों की यह संख्या पिछले साल के मुकाबले डेढ़ लाख से भी ज्यादा है । उन्होंने कहा कि दीवाली के बाद धान खरीदी का उत्सव शुरू हो रहा है। मुख्यमंत्री ने 14 नवम्बर को देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू की जयंती पर मनाये जाने वाले बाल दिवस का उल्लेख किया और प्रदेश के बच्चों की शिक्षा और उनके भविष्य निर्माण के लिए किए जा रहे प्रयासों के बारे में बताया। मुख्यमंत्री ने बच्चों के अधिकारों के संरक्षण के लिए राज्य में लागू विभिन्न कानूनों की भी जानकारी दी । उन्होंने कहा कि बच्चों के भविष्य की बुनियाद को मजबूत करने और वर्तमान में उनके बचपन को बचाने की जिम्मेदारी सम्पूर्ण समाज की है। डॉ सिंह ने प्रधानमंत्री द्वारा काले धन की विकराल समस्या पर अंकुश लगाने के लिए पांच सौ और एक हजार के नोटों को बंद करवाने के निर्णय का स्वागत करते हुए कहा कि यह भारत की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने का एक ऐतिहासिक कदम उठाया है। उन्होंने सभी लोगों को गुरूनानक जयंती, कार्तिक पूर्णिमा और पुन्नी मेला सहित सभी तीज-त्यौहारों की शुभकामनाएं दी।


स.क्र./30/

Date: 
13 Nov 2016