Home जांजगीर-चांपा : ‘‘रमन के गोठ‘‘ की आठवीं कड़ी प्रसारित: लोगों ने बड़ी उत्सुकता से सुना मुख्यमंत्री की रेडियो वार्ता

Secondary links

Search

जांजगीर-चांपा : ‘‘रमन के गोठ‘‘ की आठवीं कड़ी प्रसारित: लोगों ने बड़ी उत्सुकता से सुना मुख्यमंत्री की रेडियो वार्ता

Printer-friendly versionSend to friend

      जांजगीर-चांपा, 10 अप्रैल 2016

 मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की रेडियो वार्ता ’रमन के गोठ’ कार्यक्रम की आठवीं कड़ी आकाशवाणी के सभी केन्द्र, सभी एफ.एम. रेडियो सहित राज्य के सभी निजी चैनलों में आज रविवार को सवेरे 10.45 से 11 बजे तक प्रसारित हुई। जिसे बड़ी संख्या में जिलेवासियों ने बहुत ही उत्सुकता से मुख्यमंत्री जी की रेडियो वार्ता को सुना और उसे सराहा।
     मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने रेडियो वार्ता के जरिए भू-जल स्तर में आ रही गिरावट पर गहरी चिंता जताते हुए प्रदेशवासियों से जमीन के नीचे के पानी को बचाने के लिए सहयोग का आव्हान किया। गर्मी के मौसम को देखते हुए उन्होंने लोगों को लू, डायरिया और पीलिया जैसी मौसमी बिमारियों से बचाव के लिए आवश्यक सावधानी भी बरतने की सलाह दी। मुख्यमंत्री ने इस कार्यक्रम के जरिए प्रदेशवासियों को चैत्र नवरात्रि, रामनवमीं, संविधान निर्माता डॉ. भीमराव अम्बेडकर की 125वीं जयंती और महावीर जयंती की बधाई और शुभकामनाएं दी, वहीं उन्होंने अम्बेडकर जयंती पर 14 अप्रैल से 24 अप्रैल तक आयोजित हो रहे ‘ग्राम उदय से भारत उदय अभियान’ में ग्रामीणों से अधिक से अधिक सहभागिता का आव्हान किया।
         मुख्यमंत्री ने भू-जल संरक्षण और संवर्धन के लिए पंचायत भवन, स्कूल भवन और अन्य सरकारी भवनों में वाटर हार्वेटिंग संरचना बनाने और इसके लिए ग्रामीण क्षेत्रों में मनरेगा की राशि का उपयोग करने को कहा। उन्होंने कहा कि यदि गांव का पानी गांव में ही रोका जाए, इसके लिए बेहतर संरचनाओं का निर्माण हो तो भविष्य में पानी का संकट नही होगा। डॉ. सिंह ने गर्मी के मौसम को ध्यान में रखते हुए लोगों को ‘लू’, पीलिया तथा डायरिया जैसी मौसमी बीमारियों से बचाव के लिए आवश्यक सावधानी बरतने की सलाह दी साथ ही आवश्यकता होने पर टोल फ्री नम्बर 104 पर निःशुल्क ‘स्वास्थ्य परामर्श सुविधा’ का लाभ लेने की अपील की।
       मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा पिछले साल शिक्षा गुणवत्ता अभियान चलाया गया था, इस बार स्कूलों का सामाजिक अंकेक्षण किया जाएगा। सामाजिक अंकेक्षण डॉ. भीमराव अम्बेडकर की जयंती पर 14 अप्रैल से शुरू होगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि सामाजिक अंकेक्षण के तहत अभिभावक अपने बच्चों के स्कूलों में यह देखेंगे कि कक्षाओं में क्या चल रहा है, शिक्षक रोज पढ़ा रहे हैं या नहीं, बच्चों में अच्छी आदतों और नैतिक मूल्यों का विकास हो रहा है या नहीं। मुख्यमंत्री ने कहा - इस बार हमने माताओं को भी स्कूलों में बच्चों की शिक्षा में सक्रिय सहयोग के लिए प्रेरित करने का प्रयास किया है। उन्होंने माताओं से आग्रह किया कि वे अपने बच्चों की रोज की पढ़ाई के बारे में शिक्षकों से नियमित रूप से जानकारी लें और अच्छा पढ़ने के लिए भी प्रेरित करें।
           डॉ. रमन सिंह ने अपने रेडियो प्रसारण में कहा कि राज्य सरकार ने स्कूली बच्चों के लिए पुस्तकों का वितरण एक अप्रैल से शुरू कर दिया है। उन्होंने बच्चों के माता-पिता और बड़े भाई-बहनों से आग्रह किया कि वे गर्मी की छुट्टियों में घरों में बच्चों को इन पाठ्य पुस्तकों को पढ़ाएं तो स्कूल जाने की उनकी झिझक समाप्त होगी।
       जिला मुख्यालय जांजगीर के सांस्कृतिक भवन में मुख्यमंत्री जी की रेडियोवार्ता को सुनने के लिए आवश्यक व्यवस्था की गई थी। यहां नगर पालिका परिषद जांजगीर-नैला के उपाध्यक्ष श्री आशुतोष गोस्वामी, अपर कलेक्टर श्री एस.अहिरवार सहित बड़ी संख्या में नागरिकगण उपस्थित थे।

’रमन के गोठ’  सुनने चौपालों में रही भीड़
      मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह जी की मासिक रेडियो वार्ता कार्यक्रम ‘‘रमन के गोठ‘‘ की आठवीं कड़ी का आज आकाशवाणी सहित सभी एफएम व निजी टेलीविजन चैनलों में प्रसारण हुआ। ‘‘रमन के गोठ‘‘ के कार्यक्रम को सुनने के लिए कलेक्टर डॉ. एस.भारतीदासन के मार्गनिर्देशन में जिला मुख्यालय जांजगीर सहित सभी नगरीय निकायों व ग्राम पंचायतों में विशेष व्यवस्था सुनिश्चित की गई थी जहां चौपालों में लोगों की भीड़ देखने को मिली और यहां लोगों ने बड़े ही उत्साह के साथ मुख्यमंत्री जी की रेडियो वार्ता को सुना।
क्रार्यक्रम का पुनः प्रसारण आज
      कार्यक्रम के पुनः प्रसारण को लेकर मुख्यमंत्री को भारी तादाद में श्रोताओं से पत्र मिले हैं। श्रोताओं के पत्रों में की गयी मांग को देखते हुए इसके पुनः प्रसारण का निर्णय लिया गया। कार्यक्रम का पुनः प्रसारण सोमवार 11 अप्रैल को प्रातः 10.45 बजे से 11 बजे तक होगा। कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन ने सभी स्कूलों व लोक शिक्षण केन्द्रों में भी मुख्यमंत्री जी की रेडियो वार्ता को सुनने के लिए आवश्यक इंतजाम सुनिश्चित करने के निर्देश जिला शिक्षा अधिकारी को दिए।


क्रमांक//पवन

 

Date: 
10 Apr 2016