Homeदंतेवाड़ा : रमन के गोठ ने मन मोह लिया दंतेवाड़ा का

Secondary links

Search

दंतेवाड़ा : रमन के गोठ ने मन मोह लिया दंतेवाड़ा का

Printer-friendly versionSend to friend

दंतेवाड़ा, 11 अक्टूबर 2015

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने अपने गोठ के माध्यम से दंतेवाड़ावासियों का दिल जीत लिया। पंद्रह मिनट के अपने भाषण में जो बातें डॉ. सिंह ने कही, उसने जनता का दिल छू लिया। इस अवसर पर आडिटोरियम पहुँची श्रीमती सविता नाग ने कहा कि मैं इस बार तीज-त्योहार के मौके पर अपने घर नहीं जा पाई लेकिन डॉ. सिंह को सुना तो ऐसा लगा कि अपने पिता को सुन रही हूँ। राज्य सरकार हमारे रीति-रिवाजों से कितनी गहराई से जुड़ी है यह बात पता चली। श्रीमती नाग ने कहा कि मुझे जानकारी मिली कि गीदम ब्लाक के आडिटोरियम में मुख्यमंत्री का संदेश सुनाया जाएगा तो काम से जल्दी फुरसत होकर मैंने अपनी जगह बना ली। इत्मीनान से 15 मिनट मैंने डॉ. साहब का गोठ सुना। यह बहुत अच्छी बात है कि वे हम बहनों के इतने महत्वपूर्ण पल में भागीदार हो रहे हैं। श्रीमती नाग के साथ आई दशरी बाई ने कहा कि मैं रोज शाम को रेडियो सुनती हूँ लेकिन इस बार तीजा पर्व में रेडियो में मुख्यमंत्री आएंगे, ऐसा मैंने नहीं सोचा था। यह मेरे लिए सुखद आश्चर्य है। गीदम स्थित आडिटोरियम में पहुँचे लोकेश ने बताया कि वो प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी का संदेश मन की बात हमेशा सुनता है। इस बार उसने सुबह के अखबार में देखा कि मुख्यमंत्री भी जनता से गोठ कहेंगे तो उसे बहुत अच्छा लगा। लोकेश को उम्मीद है कि अगली बार मुख्यमंत्री का गोठ युवाओं पर केंद्रित होगा। लोकेश ने कहा कि मुख्यमंत्री ने इतने भावपूर्ण ढंग से अपनी बात कही कि मुझे तीज त्योहारों की परंपरा के महत्व की पूरी समझ हो गई। इस अवसर पर उपस्थित हिड़मा पोडियामी ने कहा कि मुख्यमंत्री तीज-त्योहार पर अपना संदेश दे रहे हैं बड़ी खुशी हो रही है। इससे पहले भी वे जब दंतेवाड़ा आए थे उन्होंने बड़ी आत्मीयता से हमें संबोधित किया था। इस तरह का संवाद मन को बहुत खुशी देता है। इस अवसर पर उपस्थित नगर पंचायत अध्यक्ष श्री अभिलाष तिवारी ने कहा कि मुख्यमंत्री ने अपना संदेश तीज त्योहार के अवसर पर दिया, इससे प्रदेश की लाखों बहनों- बेटियों को बहुत खुशी हुई है। एसडीएम श्री हरेश मंडावी ने बताया कि जिले में मुख्यमंत्री का संदेश आम जनता तक सुनाने के लिए जिला मुख्यालय तथा ब्लाक मुख्यालय में व्यापक प्रबंध किए गए थे और चौक-चौराहों में भी बड़ी संख्या में एकत्रित होकर जनता ने मुख्यमंत्री महोदय का संदेश सुना।

Date: 
11 Oct 2015