Homeदंतेवाड़ा : रमन के गोठ में मुख्यमंत्री ने सराहा छत्तीसगढ़ के पहले कैशलेस गाँव पालनार को

Secondary links

Search

दंतेवाड़ा : रमन के गोठ में मुख्यमंत्री ने सराहा छत्तीसगढ़ के पहले कैशलेस गाँव पालनार को

Printer-friendly versionSend to friend

       दंतेवाड़ा, 08 जनवरी, 2017

रमन के गोठ में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने छत्तीसगढ़ के पहले कैशलेस गाँव पालनार के ग्रामीणों एवं व्यवसायियों को अपने गाँव में डिजिटल पेमेंट को अपनाने के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि दंतेवाड़ा में डिजिटल पेमेंट को लोकप्रिय करने की दिशा में अच्छा काम हुआ है। पालनार जैसे अंदरूनी क्षेत्रों में भी डिजिटल पेमेंट की जागरूकता को लेकर किया गया काम काबिलेतारीफ है। उल्लेखनीय है कि जिले के कुआकोंडा विकासखंड के अंदरूनी गाँव पालनार को प्रदेश का पहला कैशलेस ट्रांजेक्शन वाला जिला होने का गौरव हासिल हुआ है। यहाँ पूरा शापिंग काम्प्लेक्स वाईफाई है। इसके लिए प्रशासन ने इजीटॉप पीओएस मशीनें उपलब्ध कराई। पूरे शापिंग कामप्लेक्स में चाहे दूध की दुकान हो, किराया हो या पंचर की दुकान हो। सभी दुकानदार ई-पेमेंट की सुविधा प्रदान करते हैं। जिला पंचायत सदस्य श्री नंद लाल मुड़ामी ने बताया कि पहले जब ईपेमेंट का विचार जिला प्रशासन ने दिया तो हम लोग हिचके, इतने अंदरूनी गाँव में लोग कैसे ई-पेमेंट अपनाएंगे, क्या व्यवसायी इसके लिए तैयार होंगे।  दो दिन में जब जिला प्रशासन के सदस्य और जनप्रतिनिधि घूमे और डिजिटल पेमेंट के फायदों के संबंध में बताया तो सब लोग मान गए। अब पालनार की पहचान पूरे प्रदेश में है। हमें इस बात का गर्व है कि हमने सबसे पहले डिजिटल पेमेंट को अपनाया। हम डिजिटल आर्मी दंतेवाड़ा के सबसे अग्रणी सदस्य हैं। उल्लेखनीय है कि पालनार में मिले अनुभव के पश्चात कुआकोंडा के जनप्रतिनिधियों ने कैशलेस कबड्डी प्रतियोगिता की जिसे काफी लोकप्रियता मिली। पालनार में पूरी तरह वाईफाई की सुविधा देने के पश्चात अब जिला प्रशासन ने शहर के केंद्र स्थल दंतेश्वरी सरोवर को चुना है यहाँ निःशुल्क वाईफाई की सुविधा दी जाएगी। इसके साथ ही नकुलनार, बारसूर और कटेकल्याण में भी निःशुल्क वाईफाई की सुविधा दी जाएगी। डिजिटल पेमेंट के मामले में पालनार ने जो पहल की, उससे पूरे जिले के लोग प्रभावित हुए हैं। दंतेवाड़ा और किरंदुल में लगभग ९० प्रतिशत व्यापारी कैशलेस पेमेंट को अपना चुके हैं। अन्य जगहों में भी डिजिटल पेमेंट लोकप्रिय हो रहा है।

 

Date: 
08 Jan 2017