Homeदुर्ग : रमन के गोठ में कैशलेस को बढ़ावा देने पर जोर : लोगों ने देश में सुधार की दिशा में बड़ा कदम बताया

Secondary links

Search

दुर्ग : रमन के गोठ में कैशलेस को बढ़ावा देने पर जोर : लोगों ने देश में सुधार की दिशा में बड़ा कदम बताया

Printer-friendly versionSend to friend

कैशलेस की ओर अग्रसर सांसद आदर्श ग्राम मोहलई अन्य ग्रामों के लिए बना प्रेरणा स्त्रोत
ग्रामवासियों को कैशलेस भुगतान के लिए किया जा रहा है जागरूक

दुर्ग, 08 जनवरी 2017

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का मासिक रेडियो वार्ता रमन के गोठ का प्रसारण आज आकाशवाणी के साथ ही समाचार चैनलों में प्रसारित किया गया। मुख्यमंत्री ने कैशलेस को बढ़ावा देने पर जोर दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि कैशलेस भुगतान से जहां लोगों को नगद लेन-देन में आने वाली परेशानी से छूटकारा मिलेगा। वहीं देश में भ्रष्टाचार, कालाधन, जमाखोरी जैसे अनेक बुराईयों पर अंकुश लगाने में भी मदद मिलेगा। इस पहल से देश को आर्थिक स्तर पर मजबूत बनाने में भी मदद मिलेगा। रमन के गोठ को जिले के अनेक स्थानों पर उत्सुकतापूर्वक सुना गया। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के कैशलेस को बढ़ावा देने की योजना को दुर्ग जिले में सभी तरह के लोगों का समर्थन मिल रहा है। व्यापारी, ग्राहक सभी में स्व-स्फूर्त सकारात्मक सहयोग देखने को मिल रहा है। जिले में कैशलेस को बढ़ावा देने की पहल को ग्रामीण स्तर पर भी देखा जा सकता है।

पहल और संकल्प से कोई भी मुहिम आसान हो सकती है। लोग किसी भी कार्य को भविष्य की सुखद कड़ी मानकर करते हैं, वहां सफलता की राह आसान हो जाती है। शुरूआत में भले ही कुछ परेशानियां आए लेकिन भविष्य की आशाएं से वह तकलीफ छोटी हो जाती है। अगर एक समुदाय या क्षेत्र में रहने वाले सभी लोग आपसी सहभागिता और संकल्प से करें फिर तो निश्चित ही आशा की किरण बनती जाती है। इस बात को चरितार्थ करते हुए सांसद आदर्श ग्राम मोहलई के ग्रामवासियों ने कैशलेस को बढ़ावा देने की दिशा में कर दिखाया है।
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की देश को कैशलेस बनाने की महत्वकांक्षी योजना को सफल बनाने के लिए ग्राम मोहलई के ग्रामवासियों ने भी बीड़ा उठाया है। यहां राशन दुकान में मार्फो डिवाइस रखा गया है। हितग्राहियों को इसके माध्यम से भुगतान करने प्रेरित किया जा रहा है। ग्राम के सरपंच श्री भरत निषाद स्वयं उपस्थित होकर हितग्राहियों को प्रेरित कर रहे हैं। हितग्राहियों को कैशलेस भुगतान से होने वाले फायदे और सुविधा से अवगत करा रहे हैं। सरपंच ने बताया कि वह अपने घर का बिजली बिल का भुगतान, अपने तथा अपने परिवार सहित मित्रों का मोबाईल रिचार्ज, ई-पेमेंट के माध्यम से कर रहा है। वे अपने गांव में किसी प्रकार की पंचायत भुगतान करने के लिए ग्रामवासियों को ई-पेमेंट के माध्यम से करने को प्रेरित कर रहे हैं।
यहां छोटी सी किराने की दुकान चलाने वाली श्रीमती लक्ष्मी देवांगन ने अपने दुकान में स्वाईप मशीन रखी है। उनके यहां समान खरीदने के लिए आने वाले ग्राहकों को वह नगद भुगतान के बजाय स्वाईप मशीन से भुगतान करने को प्रेरित करती है। उन्होंने बताया कि अब ग्राहकों को समान लेने पर चिल्हर(छुट्टा) देने की समस्या नहीं है। कैशलेस के माध्यम से सुविधाजनक तरीके से समान खरीदा जा सकता है। समान खरीदने के लिए आने वाले ग्राहकों को इस तकनीकी से होने वाले फायदे की जानकारी भी दे रही हैं।

क्रमांक-24/प्रभाकर/नोहर

 

Date: 
08 Jan 2017