Homeदुर्ग : ’’रमन के गोठ ’’: सरकार का जनता से जुड़ने स्वागत योग्य कदम

Secondary links

Search

दुर्ग : ’’रमन के गोठ ’’: सरकार का जनता से जुड़ने स्वागत योग्य कदम

Printer-friendly versionSend to friend

दुर्ग,  11 अक्टूबर 2015

सरकार का जनता से जुड़ने की यह पहल स्वागत योग्य है। इस गोठ-बात से सरकार की नीतियों योजनाओं और उपलब्धियों का ब्यौरा सीधे जनता को मिलता है। आज की बात सुनकर मुझे भी अनेक योजनाओं का पता चला। यह कहना है संस्कृति कर्मी और अध्यापन कार्य से जुड़ी भिलाई  सेक्टर-04 निवासी सुश्री सुनीता वर्मा का। इनका कहना है कि राज्य के संस्कृति कर्मियों के लिए मुख्यमंत्री द्वारा संदेश दिया जाना चाहिए। संस्कृति कर्मियों के लिए दी जा रही सुविधाओं की जानकारी भी ’’ रमन के गोठ’’ के माध्यम से मिलनी चाहिए।
    ’’रमन के गोठ’’ पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए साहित्यकार श्री एन.पी. सिंह राठौर ने कहा कि कार्यक्रम के माध्यम से राज्य के हर क्षेत्र में हो रहे विकास और योजनाओं की जानकारी मिली है। राज्य के महापुरूषों, रीति-रिवाजों, पितर पक्ष की विस्तृत जानकारी मिली है। राज्य के युवाओं के स्वावलंबी बनने और रोजगार स्थापित करने में प्रधानमंत्री मुद्रा योजना का निश्चित ही महत्वपूर्ण योगदान होगा। कार्यक्रम में शिक्षा, स्वास्थ्य, स्वच्छता की बात की गई है। उन्होंने पर्यावरण संरक्षण के लिए भी ’’रमन के गोठ’’ के माध्यम से प्रदेश के नागरिकों को प्रेरित किए जाने की बात कही है।
नंदिनी नगर भिलाई के सामाजिक संस्था हेल्प-अस  से जुड़े श्री दसवीर सिंह अहलुवालिया ने कहा है कि निराश्रित, घुमन्तु व बेघर बच्चों की देख-रेख, स्वास्थ्य, शिक्षा के प्रयास की बात रमन के गोठ के माध्यम से होनी चाहिए। जिससे इन तबके के बच्चों का भविष्य भी उज्जवल और सुदृढ़ हो सकेगा। क्षेत्र की साहित्यकार सुश्री मीना मयूरी इस बात से उत्साहित है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री तक आमजन की बात पहुंचती है और मुख्यमंत्री उसका जवाब देते हैं। इनका कहना है कि छत्तीसगढ़ को सुन्दर और स्वच्छ बनाने के लिए जन-जन का सहयोग जरूरी है। पितर पक्ष पर पूर्वजों के आशीष, छत्तीसगढ़ महतारी के सपूतों को नमन, मातृ शक्ति का आशीर्वाद लेते हुए बस्तर दशहरे का उल्लेख, आसुरी शक्तियों के विनाश की मुख्यमंत्री की अपील, मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह को राज्य के हर छोटे-बड़े से जोड़ती है। बच्चों के शिक्षा और स्वास्थ्य के बेहत्तरी के लिए संचालित योजनाएं मुख्यमंत्री दूर दृष्टि का परिचय देती है और अपनत्व का भाव जगाती है।
महाविद्यालयीन अध्यापन कार्य से जुड़े श्री कैलाश वनवासी मुख्यमंत्री के द्वारा जनता को दिए जा रहे संदेश को महत्वपूर्ण मानते हैं। साथ ही प्रसारण अवधि बढ़ाने की बात भी करते हैं। प्रधानमंत्री मुद्रा बैंक योजना का लाभ बिना किसी कठिनाई के मिल सकें। ऐसी व्यवस्था सुनिश्चित करने पहल की बात करते हैं। शिक्षकीय कार्य से जुड़े होने के कारण प्रदेश की स्कूलों की गुणवत्ता सुधार हेतु ठोस नीतियां और उनका क्रियान्वयन चाहते हैं। मुख्यमंत्री द्वारा एक दिवसीय राज्योत्सव के आयोजन की बात सुनकर उसे मित्तव्ययता प्रतीत बताते हैं। राज्य के युवाओं को नशा-खोरी से दूर रहकर राज्य के विकास में सहभागी बनने का संदेश भी मुख्यमंत्री के माध्यम से चाहते हैं।

 

क्रमांक 1065/नायक

Date: 
11 Oct 2015