Homeनारायणपुर : नारायणपुर जिले में उत्साहपूर्वक सुना गया ‘‘रमन के गोठ’’

Secondary links

Search

नारायणपुर : नारायणपुर जिले में उत्साहपूर्वक सुना गया ‘‘रमन के गोठ’’

Printer-friendly versionSend to friend

नारायणपुर, 11 सितम्बर 2016

मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के आज आकाशवाणी से प्रसारित मासिक रेडियो वार्ता रमन के गोठ कार्यक्रम की 13वीं कड़ी को नारायणपुर जिले के नागरिकों और ग्रामीणों ने उत्साहपूर्वक सुना। प्रदेश के मुखिया डॉ रमनसिंह के इस मासिक रेडियो वार्ता को विशेषकर ग्रामीण क्षेत्र में उत्साहपूर्वक सुना गया। वहीं नगरीय क्षेत्र में भी नागरिकों ने रमन के गोठ कार्यक्रम को ध्यानपूर्वक सुना। इस दौरान नक्सल प्रभावित धौड़ाई, बेनूर, भाटपाल, फरसगांव सहित खड़कागांव, देवगांव, गरांजी इत्यादि स्थानों में ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री डॉ रमनसिंह के रेडियो वार्ता को तन्मयता के साथ सुना। अपने मासिक रेडियो वार्ता में मुख्यमंत्री डॉ रमनसिंह ने प्रदेश की जनता को गणेश चतुर्थी, ईद-उल-जुहा सहित विश्वकर्मा जयंती और ओणम पर्व की बधाई देते हुए कहा कि देश में सभी धर्मो-समुदायों के पर्व-त्यौहारों को मिल-जुलकर मनाने की आदर्श परम्परा है। इससे समाज में भाईचारा, समरसता और सद्भाव बना रहता है।
 जिले में रमन के गोठ कार्यक्रम का श्रवण करने वाले श्रोताओं ने मुख्यमंत्री डॉ रमनसिंह के प्रेरक संदेश को सराहा और इसे प्रशंसनीय निरूपित किया। इस दौरान फरसगांव के उप सरपंच श्री सोनारू राम पोटाई, पंच वंदना कचलाम, राजू गावड़े, श्रीमती सुगन्ती बाई आदि ने निर्धन परिवारों के गृहणियों को उज्जवला योजनांतर्गत निःशुल्क गैस कनेक्शन प्रदाय करने की योजना को महिला सशक्तिकरण के लिए उपयोगी बताया। वहीं पोस्ट मेट्रिक बालक छात्रावास नारायणपुर में रमन के गोठ कार्यक्रम श्रवण करने वाले स्नातकोत्तर के छात्र रामूराम कड़ियाम, दलपत पोटाई, डमरूराम राणा, मासोराम कर्मा, काशीराम नुरेटी, सोमारू राम कोवाची सहित बीएससी अंतिम के छात्र अनिल कुमार तथा बीए अंतिम वर्ष के छात्र उमेश कुमार कर्मा को प्रजातांत्रिक ढंग से छात्रसंघ का गठन करने के बारे में मुख्यमंत्री के विचार पसंद आये। इन छात्रों ने कहा कि छात्र जीवन में ही विद्यार्थियों को सीखने-समझने का बेहतर अवसर मिलता है। वहीं छात्रसंघ से नेतृत्व क्षमता का विकास होता है।

 

Date: 
11 Sep 2016