Homeबलौदा बाजार-भाटापारा : ग्राम पंचायतों में सुना गया रमन के गोठ : रमन के गोठ क्वीज में ससहा की श्रीमती रेखा साहू हुए पुरस्कृत

Secondary links

Search

बलौदा बाजार-भाटापारा : ग्राम पंचायतों में सुना गया रमन के गोठ : रमन के गोठ क्वीज में ससहा की श्रीमती रेखा साहू हुए पुरस्कृत

Printer-friendly versionSend to friend

बलौदा बाजार-भाटापारा, 12 मार्च, 2017

रमन के गोठ कार्यक्रम का 19वीं कड़ी का प्रसारण भाटापारा विकासखंड के ग्राम पंचायत सेम्हराडीह, ग्राम पंचायत दतरेंगी, ग्राम पंचायत परसवानी, ग्राम पंचायत अकलतरा, नगर पंचायत सिमगा सहित जिले के सभी ग्राम पंचायतों, लोक शिक्षा केन्द्रों तथा नगरीय निकाय में किया गया। ग्राम पंचायत अकलतरा के लोक शिक्षा केन्द्र में रमन के गोठ सुनने वाले साक्षर भारत प्रेरक रामनाथ ध्रुव, सोनिया साहू, पंच श्रीमती कौशिल्या ध्रुव, श्री रमेश साहू, श्रीमती ईतवारा साहू, श्रीमती हेमिन यादव, अमरसिंह साहू, होरीलाल साहू, रोजगार सहायक होमचंद ध्रुव, कु. वर्षा यादव, रमेश ध्रुव, ब्यासनारायण वर्मा, प्रमोद ध्रुव, राकेश साहू, खोगेश्वर प्रसाद साहू, ईश्वर महादेव सागर ध्रुव ने कहा कि रमन के गोठ कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह द्वारा आमजन की हित में अनेक जानकारी दी जाती है। जिससे प्रदेश में संचालित विभिन्न योजनाओं एवं शासन की रणनीति की जानकारी 15 मिनट में ही प्राप्त हो जाती है। रमन के गोठ कार्यक्रम के 10वें क्वीज में पूछे गये प्रश्न मुख्यमंत्री मेडिकल फैलोशिप योजना से दूरस्थ अंचलों में क्या नई सुविधा मिलेगी का उत्तर तत्काल देने वाली बलौदा बाजार-भाटापारा जिला अन्तर्गत ग्राम ससहा की श्रीमती रेखा साहू मुख्यमंत्री द्वारा सम्मानित किये जाने पर जिलावासियों ने पर हर्ष प्रकट किया।
    रमन के गोठ कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने प्रदेश वासियों को होली त्यौहार की बधाई देते हुए सबके जीवन में खुशी के नए रंग बिखरने की कामना की। उन्होंने सभी को भाईचारे के साथ होली पर्व मनाने के लिये कहा। मुख्यमंत्री डॉ सिंह ने महिलाओं के सम्मान में नारी स्वरूप में विराजमान जननी, शक्ति, करूणा, दया, साहस को नमन किया। साथ ही छत्तीसगढ़ में विराजमान मां दंतेश्वरी, मां बम्लेश्वरी, मां चन्द्रहासिनी, मां महामाया का वर्णन किया। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर प्रदेश की महिला आरक्षक स्मिता तांडी को राष्ट्रीय नारी शक्ति पुरस्कार राष्ट्रपति श्री प्रणव मुखर्जी द्वारा एवं दुर्ग जिले की एक ग्राम पंचायत चीचा (पाटन) सरपंच उत्तरा ठाकुर को प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के द्वारा सम्मानित किये जाने की जानकारी दी। मुख्यमंत्री डॉ सिंह ने जानकारी दी कि सरस्वती सायकल योजना, कन्या छात्रावास, पोर्टाकेबिन, कस्तूरबा विद्यालय, शालाओं का उन्नयन आदि सुविधाओं के कारण 15 से 17 आयु वर्ग की बेटियों का प्रतिशत 65 प्रतिशत से 90 प्रतिशत होे गया है। स्कूलों में बेटियों की दर्ज संख्या में हम राष्ट्रीय औसत 84 प्रतिशत से काफी ऊपर और देश में नवमें स्थान पर हैं। छत्तीसगढ़ की बेटियां स्कूल से लेकर कॉलेज तक निःशुल्क पढ़ाई कर रही हैं। ऐसी व्यवस्था करने वाले छत्तीसगढ़  देश में पहले राज्य हैं। प्रदेश के 26 जिलों में सखी वन स्टाप सेन्टर की स्थापना कर रहे हैं। प्रदेश में अनेक आदर्श आंगनवाड़ी केन्द्र, बालोद, कोंडागांव में 100 बिस्तरीय मातृ शिशु क्लिनिक, कटघोरा, गौरेला, नगरी और पण्डरिया में 50 बिस्तरीय मातृ शिशु क्लिनिक की स्थापना की जा रही है। पूरक पोषण आहार के लिए 514 करोड़ रूपए तथा एकीकृत बाल विकास सेवा के लिए 582 करोड़ रूपए का बजट प्रावधान किया गया है। सबला योजना, एकीकृत बाल संरक्षण, मुख्यमंत्री अमृत योजना, महतारी जतन योजना, नोनी सुरक्षा योजना आदि के लिए बजट प्रावधानों बनाया गया जिससे महिलाएॅ लाभान्वित होंगी। 39 लाख ग्रामीणों, शहरी क्षेत्रों के 3 लाख परिवारों और महाविद्यालय के 3 लाख विद्यार्थियों को स्मार्ट फोन और सिम दिए जाएंगे। योजना की लागत 800 करोड़ रूपए है, जिसमें से इस साल के लिए 2 सौ करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया है। डायल-112 सेवा प्रारंभ होगा जो एक क्रांतिकारी कदम हैं। जो पुलिस व्यवस्था का कायाकल्प कर देगी। इसमें पारदर्शिता, जिम्मेदारी, जवाबदेही, मदद राहत सब कुछ मिलेगा, जो पुलिसिंग को आधुनिक दिशा देगा। मुख्यमंत्री ने रमन के गोठ कार्यक्रम के 10वें क्वीज में पूछे गये प्रश्न मुख्यमंत्री मेडिकल फैलोशिप योजना से दूरस्थ अंचलों में क्या नई सुविधा मिलेगी, का सही उत्तर देने वाली जिला बलौदा बाजार-भाटापारा अन्तर्गत ग्राम ससहा कि श्रीमती रेखा साहू सहित अन्य चार विजेताओं को बधाई दिया।


क्रमांक 27/2017


 

Date: 
12 Mar 2017