Homeबालोद : आकाशवाणी से ‘‘रमन के गोठ‘‘ की आठवीं कड़ी : बालोद जिले में मोहल्लों, कस्बों और चौपाल में उत्साह से सुना गया ‘‘रमन के गोठ‘‘

Secondary links

Search

बालोद : आकाशवाणी से ‘‘रमन के गोठ‘‘ की आठवीं कड़ी : बालोद जिले में मोहल्लों, कस्बों और चौपाल में उत्साह से सुना गया ‘‘रमन के गोठ‘‘

Printer-friendly versionSend to friend

बालोद, 10 अप्रैल 2016

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के लोकप्रिय मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘‘रमन के गोठ‘‘ की आठवीं कड़ी के प्रसारण को आज यहॉ स्थानीय नवीन टाउन हॉल में सामूहिक रूप से बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधियों, नागरिकों, प्रशासनिक अधिकारियों-कर्मचारियों, श्रमिकों, महिलाओं, छात्र-छात्राओं सहित सभी वर्ग के लोगों ने उत्साहपूर्वक ध्यान से सुना और कार्यक्रम की सराहना की। इस अवसर पर कलेक्टर श्री राजेश सिंह राणा, अपर कलेक्टर श्री डी.एस.सोरी, जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती पद्मिनी भोई साहू, एस.डी.एम.श्री आलोक पाण्डेय, नगर पालिका परिषद बालोद के पार्षद श्री विमल साहू, श्रीमती सुनीता मनहर, श्रीमती अम्बिका यादव, श्री रिच्छेद मोहन कलिहारी, एल्डरमेन श्री सुरेश निर्मलकर आदि ने भी कार्यक्रम का श्रवण किया।

 जिले में मुख्यमंत्री की रेडियो वार्ता को शहर से लेकर गॉव तक जगह-जगह लोगों ने उत्साह के साथ सामूहिक रूप से श्रवण कर अपनी-अपनी प्रतिक्रियाएॅ व्यक्त की। नगर पालिका परिषद बालोद के एल्डरमेन श्री सुरेश निर्मलकर ने कहा कि मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने शाला जाने योग्य सभी बच्चों को शाला में प्रवेश दिलाने प्रोत्साहित किया है। हम सबका कर्तव्य है कि शासन की मंशा के अनुरूप शाला जाने योग्य शतप्रतिशत बच्चों को शाला में प्रवेश दिलाएॅ। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री डॉ.सिंह ने गर्मी और तेज धूप के कारण लू, डायरिया, उल्टी दस्त, टाईफाईड और पीलिया जैसी बिमारियों से बचने की सलाह दी जो काफी सराहनीय है। गणमान्य नागरिक श्री सुरेन्द्र देशमुख ने कहा कि मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने भू-जल संरक्षण पर अपना विचार साझा कर सिंचाई के लिए ज्यादा से ज्यादा सतही जलस्त्रोत का उपयोग करने, गॉव, मजराटोला में भू-जल संरक्षण करने और भू-जल को आने वाली पीढ़ी के लिए सुरक्षित रखने की अपील की। मुख्यमंत्री की यह बात प्रेरणादायी है, इस पर अमल करने से वास्तव में भविष्य में हमें पानी का संकट नहीं झेलना पड़ेगा।

 बालोद नगर पालिका क्षेत्र के टिकरापारा वार्ड निवासी श्रीमती सोहद्री बाई ने डॉ.रमन सिंह के लोकप्रिय कार्यक्रम रमन के गोठ सुनकर कहा कि नवरात्रि पर्व के अवसर पर डॉ.रमन सिंह ने इस अंचल की प्रसिद्ध देवी मॉ झलमला की गंगा मैय्या का स्मरण किया, जो प्रशंसनीय है। संजय नगर निवासी कु.मिनी यादव, दुलेश्वरी बाई, केशर बाई ने बताया कि रमन के गोठ में जानकारी मिली कि 14 अप्रैल से विद्यालयों में सामाजिक अंकेक्षण किया जाएगा जिसमें विभिन्न शासकीय स्कूलों में बच्चों की पढ़ाई, लिखाई के बारे में जानकारी ली जाएगी। यह कार्यक्रम बच्चों तथा पालकों के लिए हितकर है। संजय नगर बालोद निवासी अरमान अश्क ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने अपील की है कि गॉव-गॉव में जहॉ भी भू-जल स्तर है उसका संरक्षण किया जाए ताकि गर्मी के समय में कहीं भी पेयजल की समस्या न हो। वास्तव में आज पानी बचाना बेहद जरूरी है। प्रत्येक व्यक्ति अपने स्तर पर जल संरक्षण की दिशा में पहल करे तो कहीं भी जलसंकट नही होगा।



क्रमांक/41/चंद्राकर






 

Date: 
10 Apr 2016