Homeबालोद : आकाशवाणी से ‘‘रमन के गोठ‘‘ की सत्रहवीं कड़ी : मुख्यमंत्री ने बालोद जिले में कैषलेस लेनदेन को बढ़ावा देने के प्रयास को सराहा

Secondary links

Search

बालोद : आकाशवाणी से ‘‘रमन के गोठ‘‘ की सत्रहवीं कड़ी : मुख्यमंत्री ने बालोद जिले में कैषलेस लेनदेन को बढ़ावा देने के प्रयास को सराहा

Printer-friendly versionSend to friend

बालोद जिले में उत्साह से सुना गया ‘‘रमन के गोठ‘‘

बालोद, 08 जनवरी 2017

 मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने आज आकाषवाणी के रायपुर केन्द्र से प्रसारित अपनी मासिक रेडियो वार्ता ‘‘रमन के गोठ‘‘ में बालोद जिले मे जिला प्रषासन द्वारा कैषलेस लेनदेन को बढ़ावा देने के प्रयास की सराहना की। उन्होंने बालोद जिले में कैषलेस लेनदेन के लिए स्थापित पीओएस मषीन और दुकानदारों द्वारा पीओएस मषीन लगाने के लिए दिए गए आवेदन का जिक्र कर उसकी सराहना की।
    मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह के लोकप्रिय मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘‘रमन के गोठ‘‘ की सत्रहवीं कड़ी के प्रसारण को आज यहॉ नवीन टाउन हॉल में सामूहिक रूप से बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिकों, प्रषासनिक अधिकारियों, कर्मचारियों, छात्र-छात्राओं सहित सभी वर्ग के लोगों ने उत्साहपूर्वक ध्यान से सुना और कार्यक्रम की सराहना की। इस अवसर पर कलेक्टर श्री राजेष सिंह राणा, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री राजेन्द्र कुमार कटारा, एसडीएम श्री हरेष मण्डावी, डिप्टी कलेक्टर श्री जी.एस.नाग, पार्षद श्री कमलेष सोनी, श्री रिच्छेद मोहन कलिहारी, श्री सुरेष निर्मलकर, श्री नरेन्द्र सोनवानी, गणमान्य नागरिक श्री अमित चोपड़ा ने भी कार्यक्रम का श्रवण किया।
    ‘‘रमन के गोठ‘‘ सुनकर पार्षद श्री कमलेष सोनी ने कहा कि मुख्यमंत्री ने बालोद जिले में कैषलेस लेनदेन को बढ़ावा देने किए जा रहे प्रयास की सराहना की। मुख्यमंत्री ने कैषलेस इकॉनामी को गॉव, गरीब, किसान के लिए वरदान बताया, क्योंकि यह उन्हें अपने मेहनत और हक का पूरा पैसा दिलाने का माध्यम बनेगी। मुख्यमंत्री ने प्रदेषवासियों के लिए नए साल की सुख, समृद्धि और सफलताओं की कामना की। यह उसे बहुत अच्छा लगा। रमन के गोठ सुनकर गणमान्य नागरिक श्री अमित चोपड़ा ने बताया कि मुख्यमंत्री ने नए साल की षुभकामनाएॅ देने के साथ ही यह भी उल्लेख किया कि पॉच जनवरी को गुरू गोविंद सिंह जी का 350वॉ प्रकाष पर्व पूरी दुनिया में हर्ष और उल्लास के साथ मनाया गया। कल सात जनवरी को राजिम भक्तिन माता की जयंती मनायी गई। अब आगे 12 जनवरी को छत्तीसगढ़ का बहुत लोकप्रिय पर्व छेरछेरा है, जो किसान और ग्रामीण जीवन के साथ दान-पुण्य की महिमा का बखान करता है। युवाओं के प्रेरणा स्त्रोत और भारतीय संस्कृृति के उन्नायक स्वामी विवेकानंद का जन्म दिवस 12 जनवरी को है। 14 जनवरी को मकर संक्राति, पांेगल है, इस दिन सूर्य देवता उत्तरायण होते हैं और जो ऋतु बदलने का संकेत भी है। 19 जनवरी को डॉ.सैयदना साहब का जन्मदिन है। 23 जनवरी को नेताजी सुभाषचन्द्र बोस की जयंती है। इन सभी अवसरों को हम सब उत्साह के साथ मनाकर अपने जीवन को तरोताजा करते हैं और इसका सकारात्मक संदेष ग्रहण करते हैं। श्री चोपड़ा ने कहा कि मुख्यमंत्री ने यह भी बताया कि छत्तीसगढ़ में ‘‘मोर खीसा एप्प‘‘ लॉच किया गया है, जो एक क्लिक पर सभी विकल्पों को दिखाएगा, इसमें से अपनी पसंद के विकल्प का इस्तेमाल कैषलेस भुगतान के लिए किया जा सकता है। श्री चोपड़ा ने कहा कि यह राज्य षासन की एक अच्छी पहल है।
    कलेक्टर श्री राणा ने इस अवसर पर बताया कि जिले में कैषलेस सोसायटी के निर्माण हेतु जिला स्तर, जनपद और ग्राम पंचायत स्तर पर जिले के विभागीय अधिकारियों-कर्मचारियों, स्वच्छतादूतों, ग्राम पंचायत सचिवों, रोजगार सहायक, संकुल समन्वयक, आंगनबाड़ी पर्यवेक्षक, स्कूलों एवं कॉलेजों के षिक्षक तथा छात्र-छात्राओं को कैषलेस लेनदेन के विभिन्न तरीकों के बारे में विस्तार से प्रषिक्षण दिया गया है और उन्हें ज्यादा से ज्यादा लोगों को कैषलेस लेनदेन के प्रति जागरूक करने प्रेरित किया गया है।


क्रमांक/946/चंद्राकर

Date: 
08 Jan 2017