Homeबिलासपुर : प्रयास आवासीय विद्यालयों की छात्राओं ने सुना ’’रमन के गोठ’’ : पर्यावरण और जल संरक्षण के लिए मिली प्रेरणा

Secondary links

Search

बिलासपुर : प्रयास आवासीय विद्यालयों की छात्राओं ने सुना ’’रमन के गोठ’’ : पर्यावरण और जल संरक्षण के लिए मिली प्रेरणा

Printer-friendly versionSend to friend

बिलासपुर, 12 जून 2016

बिलासपुर में संचालित प्रयास आवासीय विद्यालय में आज रमन के गोठ के 10वीं कड़ी के प्रसारण सुनने की व्यवस्था की गई थी। छात्राओं को पर्यावरण और जल संरक्षण के लिए प्रेरणा मिली। छात्राओं को ज्ञात हुआ कि सरकार द्वारा कृषकों, महिलाओं के लिए क्या कार्य किये जा रहे हैं। प्रयास विद्यालय में 12वीं कक्षा में पढ़ने वाली गरियाबंद की रितु चन्द्राकर ने रमन के गोठ सुनने के बाद कहा कि सरकार द्वारा चलाये जा रही योजनाओं के बारे में पता चला। साथ ही किसानों के बारे में जो बातें कही गई है उससे वे बहुत प्रभावित हुई है। जशपुर से आकर यहां पढ़ाई करने वाली 12वीं कक्षा की छात्रा भानु प्रिया ने कहा कि धान का समर्थन मूल्य 60 रूपये बढ़ाया गया है। यह कदम किसानों के हित के लिए अच्छा है, क्योंकि किसान बच्चों की तरह अपनी फसल को पालते हैं और फसल में भी नुकसान होता है तो किसानों को भी बहुत कष्ट होता है। वृक्षारोपण के लिए योजनाएं बनाई गई हैं इस बारे में भी जानकारी हुई। आज वृक्षारोपण हमारे लिए सबसे जरूरी है और हर किसी को अपने आसपास को हराभरा रखने के लिए वृक्षारोपण करना चाहिए। वह जब अपने घर लौटेगी तो वह अपने घर के आसपास तीन पेड़ जरूर लगायेगी। कु. पायल ठाकुर ने कहा कि भारत माता स्कूल बिलासपुर के बच्चों द्वारा जल संरक्षण एवं संवर्धन के लिए जो कार्य किया है। उससे हमें भी इस दिशा में कुछ करने की प्रेरणा मिली है। कु. दिव्या पाण्डेय को हमर छत्तीसगढ़ योजना के बारे में सुनकर बहुत अच्छा लगा। मुख्यमंत्री ने अपने गोठ में बताया कि प्रदेश के 20 हजार गांव के जनप्रतिनिधि अपने-अपने क्षेत्र का मिट्टी का पानी लाकर नया रायपुर में वृह्द वृक्षारोपण करेंगे। इससे पर्यावरण को हराभरा करने के साथ-साथ विभिन्नता में एकता भी दिखाई देगा। कु. सुशीला खुंटे ने कहा कि गांव की महिलाओं के लिए उज्जवला योजना की जानकारी मिली। चूल्हे से निकलने वाले विषैले धुएं से महिलाओं को बीमारियां होती हैं। उन्हें गैस चूल्हा और सैलेण्डर 200 रूपये में मिलेगा, जिससे उनकों मुसीबतों से छूटकारा मिलेगा और उनका जीवन भी सुविधाजनक होगा।
छात्राओं ने कहा कि वे प्रत्येक माह के दूसरे रविवार को प्रसारित होने वाले इस प्रसारण को सुनने के लिए हमेशा उत्सुक रहती हैं। सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग श्रीमती गायत्री नेताम और छात्रावास अधीक्षिका ने भी छात्राओं के साथ बैठकर रमन के गोठ सुना।
देवकीनंदन दीक्षित सभागृह में लोगों ने सुना ’’रमन के गोठ’’-
बिलासपुर के देवकीनदंन दीक्षित सभागृह में ’’रमन के गोठ’’ सुनने की व्यवस्था की गई थी। रमन के गोठ के 10वीं कड़ी का प्रसारण आज आकाशवाणी के माध्यम से किया गया। जिसे लोगों ने उत्साहपूर्वक सुना। इस अवसर पर उपायुक्त नगर निगम श्री टामसन रात्रे, मुख्य कार्यपालक यंत्री यूजिन तिर्की सहित उपस्थित लोगोें एवं महिला स्वसहायता समूह के महिलाओं ने रमन के गोठ की सराहना की।  


समाचार क्रमांक/ 2784/अग्रवाल  

 

Date: 
12 Jun 2016