Homeबिलासपुर : शिक्षा के साथ बच्चों के चरित्र निर्माण पर ध्यान दें-संभागायुक्त श्री बोरा

Secondary links

Search

बिलासपुर : शिक्षा के साथ बच्चों के चरित्र निर्माण पर ध्यान दें-संभागायुक्त श्री बोरा

Printer-friendly versionSend to friend

कैरियर प्वाईंट स्कूल का वार्षिकोत्सव  


बिलासपुर/10 जनवरी 2016

बच्चों को शिक्षा के साथ बौद्धिक, आत्मिक एवं मानसिक विकास के लिए अच्छा माहौल दें। ताकि उनके चरित्र निर्माण के साथ व्यक्तित्व विकास हो सकें। संभागायुक्त श्री सोनमणि बोरा ने उक्त बातें 9 जनवरी 2016 को कैरियर प्वाईंट वर्ल्ड स्कूल बिलासपुर के पहले वार्षिकोत्सव समारोह में कही।
         संभागायुक्त श्री बोरा ने कहा कि हम बच्चों को जितना भी समय देते हैं, वह कम है। आज का युग प्रतियोगिता का है। पालकों को चाहिए कि वे रोजमर्रा के जीवन के साथ बच्चों के लिए भी समय निकाले। उन्होंने कैरियर प्वाईंट स्कूल की सराहना करते हुए कहा कि यह अच्छी परम्परा है, जहां बच्चों के साथ पालकों का भी सम्मान किया जा रहा है। श्री बोरा ने कहा कि पालकों और शिक्षकों पर यह निर्भर करता है कि बच्चे क्या और कैसे सीखेगें। बच्चों को आत्मविश्वास के साथ बौद्धिक रूप से ताकतवर बनाएं। जिससे वे आज की चुनौतियों का सामना कर सकें। उन्होंने कहा कि मन-मस्तिष्क को परिष्कृत करना चाहिए। इस उम्र में कई तरह की भावनाएं आती रहती है। बच्चों को हार्ड के साथ सॉफ्ट भी बनाना होगा। हमें सूचनात्मक ज्ञान के साथ, ज्ञान पर आधारित संवेदना का भी परिचय कराना चाहिए। जो व्यक्तित्व विकास के लिए आवश्यक है। स्कूली जीवन एक तपस्या की तरह है। आज बच्चों के रोल मॉडल बदल गये है। इंटरनेट युग में बच्चें क्या सीखना पढ़ना चाहते है। उन्होंने कहा कि बच्चों को शिक्षा के साथ चरित्र निर्माण पर भी ध्यान दें।
          मरवाही विधायक श्री अमित जोगी ने कहा कि कैरियर प्वाईंट स्कूल में बच्चों का भविष्य सुरक्षित हाथों में है। बच्चे खूब पढ़ें, सक्षम बने और जीवन में कुछ खास बनें। उन्होंने कहा कि केवल खुद आगे बढ़ जाना महत्वपूर्ण नहीं बल्कि दूसरों के लिए भी कुछ करते हुए आगे बढे। श्री जोगी ने कहा कि प्रकृति अपने लिए भी कुछ नहीं करती, नदियॉ अपना पानी नहीं पीती, सुरज खुद रोशनी नहीं लेता, बल्कि वह दूसरों को देता है। उन्होंने कहा कि आप भी इतना सक्षम बने कि दूसरों को भी कुछ दे सके। इस अवसर पर मस्तुरी विधायक श्री दिलीप लहरिया ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम में सी.वी. रमन के कुलसचिव श्री शैलेष पाण्डे, मोटिवेटर डॉ.अजय शेष, श्री करन पॉल सिंह चावला, श्री राजेन्द्र सिंह चावला, श्री सुरेन्द्र सिंह चावला उपस्थित थे। कार्यक्रम में स्कूल की प्राचार्या प्रेरणा हीराधर ने स्कूल का प्रतिवेदन पढ़ा। श्री सुरेन्द्र सिंह चावला ने स्वागत भाषण दिया। कार्यक्रम में मोटीवेटर डॉ. अजय शेष को शाल श्रीफल एवं स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया गया। समारोह में स्कूली बच्चों को अतिथियों ने पुरूस्कार वितरण किया। कार्यक्रम का शुभारंभ मॉ सरस्वती के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर किया गया। समारोह में बड़ी संख्या में स्कूल के बच्चे उनके अभिभावकगण, शिक्षक-शिक्षिकाएं उपस्थित थे।  


समाचार क्रमांक/1869/साय

 

Date: 
10 Jan 2016