Homeमहासमुंद : रमन के गोठ कार्यक्रम : भू-जल संवर्धन करने मुख्यमंत्री ने की अपील स्कूलों में सामाजिक अंकेक्षण से शिक्षा की स्तर में आएगी सुधार

Secondary links

Search

महासमुंद : रमन के गोठ कार्यक्रम : भू-जल संवर्धन करने मुख्यमंत्री ने की अपील स्कूलों में सामाजिक अंकेक्षण से शिक्षा की स्तर में आएगी सुधार

Printer-friendly versionSend to friend

महासमुंद, 10 अप्रैल 2016

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की रेडियो वार्ता रमन के गोठ कार्यक्रम की आठवीं कड़ी का प्रसारण आज आकाशवाणी केन्द्र, सभी एफ.एम. रेडियो सहित राज्य के सभी निजी चैनलों में आज यहां रविवार को सवेरे 10.45 बजे से 11 बजे तक प्रसारित हुई। नगर पालिका सरायपाली में विधायक सरायपाली श्री रामलाल चौहान सहित अन्य जनप्रतिनिधियों एवं आम नागरिकों ने रमन सुना और इसकी सराहना की। विधायक श्री चौहान ने प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ के यशस्वी मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह द्वारा आज के रमन के गोठ कार्यक्रम में जल संर्वधन एवं शाला प्रवेशोत्सव के बारे में जिक्र किया है वह निश्चित रूप से हमारे के लिए बहुत जरूरी है।
 रमन के गोठ के कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने प्रदेशवासियों को चैत्र नवरात्रि के पर्व पर शुभकामनाएं देते हुए भारत रत्न डॉ. भीमराव अंबेडकर को याद दिया। उन्होंने कहा कि समूचा राष्ट्र डॉ. भीमराव अंबेडकर की 125 वीं जयंती बना रहा है। डॉ अंबेडकर ने शिक्षित बनो, संघर्ष करो और संगठित रहों का संदेश देकर समाज के पिछडे़ तबके को आगे बढ़ाया। उन्होंने 15 अप्रैल को राम नवमी एवं 19 अप्रैल को महावीर जयंती पर प्रदेशवासियों को अपनी बधाई दी। रमन के गोठ के कार्यक्रम पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए ग्राम सराईपाली के जगदीश सिंह राय ने कहा कि मुख्यमंत्री  द्वारा अनुकरणीय पहल अपनाते हुए 14 से 24 अप्रैल 2016 तक तीन चरणों में आयोजित होने वाले कार्यक्रम ग्राम उदय से भारत उदय कार्यक्रम में सामाजिक समरसता कार्यक्रम, किसान सभा एवं ग्राम सभा के विषय में बताते हुए 24 अप्रैल को राष्ट्रीय पंचायत दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री जी के भाष सुनने का अवसर मिलेगा। केना के श्री रूद्रसिंह ने प्रक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री ने स्कूलों में शिक्षा के स्तर सुधारने की दिशा किए जा रहे शाला प्रवेशोत्सव, निःशुल्क किताबे गणवेश एवं स्कूलों में सामाजिक अंकेक्षण से शिक्षा स्तर में काफी सुधार आएगा, यह एक अच्छी शुरूआत है।

रमन के गोठ कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने ग्रीष्म ऋतु में मौसमी बीमारियों से बचने की सलाह देते हुए स्कूलों में पेयजल व्यवस्था सुनिश्चित करने और किसी भी आपात स्थिति में नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्रों पर संपर्क करने, निःशुल्क चिकित्सा सेवा के लिए टोल फ्री नंबर 104 में फोन लगाने का आग्रह किया।
ग्राम बढ़ईपाली के पूनम साहू ने प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा भू-जल के गिरते स्तर पर चिंता जताते हुए उनके संरक्षण के दिशा में वाटर हारर्वेस्टिंग एवं भू-जल को अमूल्य संपत्ति बताते हुए इससे आने वाले पीढ़ी के लिए बचाए रखने का आग्रह किया है। इससे हम सभी को जागरूकत हो भू-जल संर्वधन रखने की आवश्यकता है। इसी प्रकार बागबाहरा कला के लोक शिक्षा केन्द्र सहित विभिन्न स्थानों पर ग्रामीणों ने रमन के गोठ सुना और इसे सराहा। जनपद पंचायत पिथौरा में जनप्रतिनिधि, आधिकारी एवं आम जनता नागरिकों ने भी रमन के गोठ सुना एवं इसके काफी अनुकरणीय पहल बताया।    

 

क्रमांक 35/35  /हेमनाथ
    

 

Date: 
10 Apr 2016