Homeमुंगेली : बालक छात्रावास के बच्चों ने उत्साह से सुना रमन के गोठ : मुख्यमंत्री ने रेडियोवार्ता में स्वतंत्रता आंदोलन की दी जानकारी

Secondary links

Search

मुंगेली : बालक छात्रावास के बच्चों ने उत्साह से सुना रमन के गोठ : मुख्यमंत्री ने रेडियोवार्ता में स्वतंत्रता आंदोलन की दी जानकारी

Printer-friendly versionSend to friend

मुंगेली 14 अगस्त 2016

मुख्यमंत्री डॉं.रमन सिंह मासिक रेडियो वार्ता कार्यक्रम के माध्यम से प्रदेश की जनता से सीधे संवाद स्थापित करने के उद्देश्य से रमन के गोठ कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे है। मुख्यमंत्री ने आज रविवार 14 अगस्त को रेडियो वार्ता प्रसारण की बारहवीं कड़ी में मुखातिब हुए। जिला मुख्यालय स्थित बालक छात्रावास के विद्यार्थियों ने उत्साह के साथ रमन के गोठ का श्रवण किया। रमन के गोठ को गांवों, चौपालों एवं दुकानों में लोगों ने सुना।
मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने मासिक रेडियोवार्ता रमन के गोठ कार्यक्रम की बारहवीं कड़ी की प्रसारण के साथ एक वर्ष पूरा होने पर तथा 69 वां स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रदेशवासियों को बधाई दी। उन्होने देश की आजादी में लड़ाई लड़ने वाले छत्तीसगढ़ के स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों एवं महानविभूतियों का स्मरण किया। उन्होने कहा कि स्वतंत्रता आंदोलन में वीर नारायण सिंह ने भाग लिया। वे अंग्रेजी हुकुमत का विरोध करते हुए अनाज गरीबों को बांट दिया। उन्होने कहा कि महात्मा गांधी सन 1920 और 1933 में छत्तीसगढ़ आये थे। उन्होने रमन के गोठ कार्यक्रम में जानकारी देते हुए बताया कि आदिवासी अंचलों के लोगों ने भी आजादी के लड़ाई में योगदान दिया है। विगत 01 दशक में छत्तीसगढ़ सरकार ने लोगों को जागरूक करने का कार्य किया है। उन्होने कहा कि बस्तर बटालियन में 744 युवकों की भर्ती की गई है। रमन के गोठ कार्यक्रम प्रसारण का पत्र, एसएमएस, फेसबुक एवं ट्विटर के माध्यम से लोगों ने सराहना की है। मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने कहा कि सुझावो का समुचित विस्तार किया जायेगा।
 रमन के गोठ कार्यक्रम को छात्रावास के कक्षा 8 वीं के छात्र राहुल कुमार, आकाश कुमार, कक्षा 9 वीं के मिथलेश कुमार बर्मन, विनय कुमार माथुर, भूपेंद्र बघेल, नीतिश सत्यम सहित सैकड़ों विद्यार्थियों ने सुना। विद्यार्थियों ने बताया कि हर माह रमन के गोठ सुनते है। यह कार्यक्रम ज्ञानवर्द्धक, उपयोगी एवं सार्थक है। रमन के गोठ कार्यक्रम के माध्यम से तीज-त्यौहार, पर्व, उत्सव एवं योजनाओं की जानकारी मिलती है। छात्रावास के अधीक्षक श्री एचडी डहरिया ने भी सुना।



 

Date: 
14 Aug 2016