Homeरायगढ़ : एक अप्रैल से शुरू होगा शाला प्रवेशोत्सव-मुख्यमंत्री डॉ. सिंह

Secondary links

Search

रायगढ़ : एक अप्रैल से शुरू होगा शाला प्रवेशोत्सव-मुख्यमंत्री डॉ. सिंह

Printer-friendly versionSend to friend

सभी बच्चों का स्कूल में दाखिला कराने पालकों से अपील
मुख्यमंत्री का गोठ सुनने जगह-जगह आयोजित हुए कार्यक्रम


रायगढ़, 13 मार्च 2016

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज रेडियो मासिक वार्ता रमन के गोठ की सातवीं कड़ी को सुनने के लिए रायगढ़ जिले में जगह-जगह लोग सामूहिक रूप से एकत्र हुए। जिले की सभी ग्राम पंचायतों, लोक शिक्षा केन्द्रों, आश्रमों एवं छात्रावासों में रमन के गोठ को लोगों ने पूरी तन्मयता से सुना। जिला प्रशासन द्वारा प्रत्येक जनपद के एक-एक चिन्हित ग्राम पंचायत में रमन के गोठ की सातवीं कड़ी को सुनने के लिए खण्ड स्तरीय कार्यक्रम आयोजित हुआ। रायगढ़ जनपद के विधायक आदर्श ग्राम लोईंग के लोग शिक्षा केन्द्र में सरपंच श्रीमती बिमला सिदार एवं ग्रामीणों, नवसाक्षरों ने मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की गोठ को सुना और सराहा। लोक शिक्षा केन्द्र में टेलीविजन के साथ-साथ रेडियो का भी प्रबंध किया गया था। लोक शिक्षा केन्द्र लोईंग में आयोजित रमन के गोठ को लेकर बेहद उत्साह का वातावरण था। इस अवसर पर ब्लाक परियोजना अधिकारी रामदीन गुप्ता, गांव के बुजुर्ग नारायण प्रधान, दामोदर प्रसाद, महेन्द्री भस्मा वैरागी तथा प्रेरक कु. रजनी निषाद, इंदिरा त्रिपाठी सहित अन्य ग्रामीणजन मौजूद थे।
    मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने अपने गोठ की सातवीं कड़ी के प्रारंभ में छत्तीसगढ़ के लोकप्रिय संत कवि स्वर्गीय श्री पवन दीवान को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए और प्रदेशवासियों को होली तथा विश्व जल दिवस की शुभकामनाएं दी। मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने कहा कि नया शिक्षा सत्र इस वर्ष 1 अप्रैल से शुरू होने जा रहा है। उन्होंने कक्षा पहली से लेकर 10 वीं तक के बच्चों को नये शिक्षा सत्र से पहले नि:शुल्क पाठ्य-पुस्तकें उपलब्ध कराए जाने की राज्य शासन की प्रतिबद्धता को दोहराते हुए विद्यार्थियों को आत्म विश्वास बनाए रखने की बात कही। उन्होंने कहा कि परीक्षा में असफलता को लेकर निराश होने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि दुनिया के महत्वपूर्ण व्यक्तियों को भी कभी न कभी असफलता से दो-चार होना पड़ा है। असफलता हमें सफलता की ओर ले जाने का विश्वास जगाती है। मुख्यमंत्री ने विद्यार्थियों से कहा कि यदि कहीं आपको ऐसा लगता हो कि परीक्षा में अथवा पेपर के नंबर में कहीं कोई गड़बड़ी हुई हो तो आप मुझसे सीधे टेलीफोन नम्बर 0771-2331001 पर संपर्क कर सकते है। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने अपने गोठ में प्रदेशवासियों को होली पर्व की अग्रिम शुभकामनाएं भी दीं।
मुख्यमंत्री के गोठ पर प्रतिक्रिया-
रामदीन गुप्ता - लोईंग में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की गोठ सुनने के बाद खण्ड परियोजना अधिकारी रामदीन गुप्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री जी द्वारा शिक्षा को लेकर विशेष रूप से ध्यान दिया जा रहा है। शिक्षा गुणवत्ता अभियान से स्कूलों में अध्ययन-अध्यापन का स्तर सुधरा है। मुख्यमंत्री जी द्वारा 1 से 13 अप्रैल तक शाला प्रवेशोत्सव मनाए जाने की घोषणा तथा बजट में शिक्षा के लिए सर्वाधिक 13 हजार करोड़ रुपए की राशि का प्रावधान किए जाने की भी उन्होंने सराहना की। श्री गुप्ता का मानना है कि रमन के गोठ कार्यक्रम एक लोकप्रिय कार्यक्रम बन चुका है। इसके माध्यम से मुख्यमंत्री डॉ. सिंह कई नयी जानकारियां लोगों को देते है।
दामोदर प्रसाद- 80 वर्षीय दामोदर प्रसाद ने कहा कि मुख्यमंत्री जी राज्य के सभी वर्गो की चिंता करते है और सबको खुशहाल देखना चाहते है। परीक्षा के समय में मुख्यमंत्री द्वारा विद्यार्थियों की हौसला अफजाई बेहद अच्छी बात है इससे छात्र-छात्राओं में विश्वास जगेगा।
रजनी निषाद- लोईंग ग्राम की साक्षर प्रेरक सुश्री रजनी निषाद ने प्रदेश के लोगों को सस्ती और अच्छी गुणवत्ता वाली जेनरिक दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए उनके द्वारा किए जा रहे प्रयासों की सराहना की। रजनी का मानना है कि जनऔषधि केन्द्र प्रदेश की जनता के लिए सौगात है। जनऔषधि केन्द्र खोलने के लिए ढ़ाई लाख रुपए की सहायता राशि दिए जाने की मुख्यमंत्री की घोषणा की भी उन्होंने सराहना की।
सरपंच श्रीमती विमला सिदार- ने मुख्यमंत्री द्वारा राज्य की महिलाओं एवं बालिकाओं की बेहतरी एवं सम्मान के लिए किए जा रहे प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने त्रिस्तरीय पंचायत राज व्यवस्था में महिलाओं को 50 फीसदी का आरक्षण दिया है। यही वजह है कि उनके जैसी हजारों अनुसूचित जाति एवं जनजाति वर्ग की गरीब परिवार की महिलाओं की सत्ता में भागीदारी सुनिश्चित हुई है। उन्हें अपने गांव का मुखिया बनने और विकास में सहभागी बनने का अवसर मिला है।     


स.क्र./88/नसीम अहमद 
 

Date: 
13 Mar 2016