Homeरायपुर : आकाशवाणी पर प्रसारित ’रमन के गोठ’ को सराहा : स्वतंत्रता सेनानियों ने जनसंपर्क विभाग ने भेंट किये छायाचित्र

Secondary links

Search

रायपुर : आकाशवाणी पर प्रसारित ’रमन के गोठ’ को सराहा : स्वतंत्रता सेनानियों ने जनसंपर्क विभाग ने भेंट किये छायाचित्र

Printer-friendly versionSend to friend

रायपुर, 22 सितम्बर 2015

स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर स्थानीय पुलिस परेड ग्राऊन्ड में आयोजित राज्य स्तरीय समारोह और स्थानीय टाऊन हॉल में जनसंपर्क विभाग द्वारा आयोजित सप्ताहव्यापी छायाचित्र प्रदर्शनी ’’सोनहा बिहान’’ में मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह द्वारा स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को शॉल एवं श्रीफल भेंटकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर डॉ. महादेव प्रसाद पाण्डेय सहित सर्वश्री केयूर भूषण, बृजलाल शर्मा, पन्नालाल पंड्या और बिहारी लाल जी उपाध्याय की उपस्थिति से राज्य गौरवान्वित हुआ। जनसंपर्क विभाग के सचिव श्री गणेश शंकर मिश्रा द्वारा अभिनव पहल करते हुए उपरोक्त दोनों कार्यक्रमों से संबंधित छायाचित्र स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को भेंट किए गए। इस पर स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों ने हर्ष व्यक्त किया।
उन्होंने मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह को बधाई दी और उनके द्वारा राज्य के हित में किए जा रहे कार्याे की मुक्तकंठ से प्रशंसा भी की। उन्होंने मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह द्वारा हाल ही में शुरू किए गए कार्यक्रम ’’रमन के गोठ’’ की भी भूरी-भूरी प्रशंसा की। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आकाशवाणी के रायपुर केन्द्र से प्रदेश सरकार के जनसंपर्क विभाग द्वारा आयोजित अपने नियमित मासिक कार्यक्रम ’रमन के गोठ की’ पहली प्रस्तुति में 13 सितम्बर को राज्य की जनता से अपने विचारों को साझा किया। सभी ने कहा कि मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आकाशवाणी की शक्ति को जनता के कल्याण की बात कहने का जो माध्यम बनाया है, उससे आज इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के इस आधुनिक युग में वास्तव में अकाशवाणी को एक नई पहचान मिली है और रेडियो का भी सम्मान बढ़ा है। इस अवसर पर स्वतंत्रता सेनानियों ने उत्साहवर्धक प्रतिक्रिया दी। स्वतंत्रता सेनानी  और पूर्व लोक सभा सांसद श्री केयूर भूषण ने कहा कि ’रमन के गोठ’ बहुत ही रोचक ढंग से अच्छी शैली में प्रस्तुत की गई। इसमें मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ की संस्कृति, तीज-त्यौहारों, ठेठरी, खुरमी जैसे ठेठ छत्तीसगढ़ी पकवानों को याद किया और उनका महत्व सामने रखा। तीजा पर माताओं और बहनों को बधाई दी तो अकाल से आशंकित किसानों के लिए भी राहत कार्य एवं कृषि बीमा की बात की। मुख्यमंत्री का लोगों के साथ व्यक्तिगत रूप से जुड़ाव महसूस हुआ। मुख्यमंत्री जी ने शासकीय योजनाओं को भी व्यापक रूप में प्रस्तुत किया। पद्मश्री सम्मानित डॉ. महादेव प्रसाद पाण्डेय ने कहा कि ’रमन के गोठ’ राज्य के जनसंपर्क विभाग का एक सकारात्मक प्रयास है। इसमें सभी वर्गो एवं समुदाय के लोकहित की भावना समाहित है। इस कार्यक्रम के लिए उन्होंने मुख्यमंत्री को बधाई देते हुए कहा कि अगले प्रसारण का इन्तजार रहेगा।
क्रमाक: 09-62/सीमा
 

Date: 
22 Sep 2015