Homeरायपुर : हेमंत अब मजदूर नही बल्कि दुकान का है मालिक

Secondary links

Search

रायपुर : हेमंत अब मजदूर नही बल्कि दुकान का है मालिक

Printer-friendly versionSend to friend

रायपुर, 20 मार्च 2017

रायपुर जिले के अभनपुर विकासखंड के ग्राम टीला का रहने वाला श्री हेमंत निषाद अब किसी दुकान का मजदूर नही है बल्कि उसकी अपनी खुद की दुकान है। हेमंत के परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नही होने के कारण वह 10वीं तक की ही पढ़ाई कर सका और मजदूरी कर परिवार के भरण-पोषण में हाथ बटाने लगा। माता-पिता तथा छोटा भाई और बहिन की जिम्मेवारी हेमंत के कंधों में आन पड़ी थी। मजदूरी से बमुश्किल से वह अपने परिवार का भरण-पोषण कर पा रहा था। ऐसे समय में प्रधानमंत्री मुद्रा योजना उसके जीवन में आशा की नई किरण बन कर आई।
इस योजना के तहत हेमंत ने बैंक से लोन लेकर अपने गांव में ही ऑटो सेंटर खोला और गाड़ियों की मरम्मत करने लगा। आज हेमंत किसी दुकान में जाकर मजदूरी नही करता बल्कि उसकी अपनी खुद की दुकान हो गई। गांव और आस-पास क्षेत्र के वाहनों की मरम्मत से उसे अच्छी आमदनी प्राप्त होने लगी है। जिससे वह बैंक का ऋण और परिवार का भरण-पोषण आसानी से कर पा रहा है। हेमंत का कहना है कि प्रधानमंत्री मुद्रा योजना से उसके जैसे अनेक युवा न केवल आत्मनिर्भर बने है बल्कि उन्हें जीवन की एक नई दिशा मिली है।
क्रमांक: 03-79/सांडिया

Date: 
20 Mar 2017