Homeसुकमा : रमन के गोठ का सातवां कड़ी का प्रसारण : मुख्यमंत्री ने दिए विद्यार्थियों को सीधे संवाद के लिए सम्पर्क नम्बर

Secondary links

Search

सुकमा : रमन के गोठ का सातवां कड़ी का प्रसारण : मुख्यमंत्री ने दिए विद्यार्थियों को सीधे संवाद के लिए सम्पर्क नम्बर

Printer-friendly versionSend to friend

    सुकमा 13 मार्च,2016

रमन के गोठ कार्यक्रम का सातवीं कड़ी का प्रसारण मार्च माह के दूसरे रविवार को किया गया। जिसमें प्रदेश के ढ़ाई करोड़ जनता से मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने सीधे संवाद किए। कार्यक्रम के माध्यम से उन्होंने रमन के गोठ के प्रति मिल रहे प्रतिक्रियों का आभार माना और मिले आवेदनों को संबंधित जिले के जिलाधीश और संबंधित विभाग को आवश्यक कार्यवाही के लिए निर्देशित किए। छत्तीसगढ़ के सन्त और जनप्रतिनिधि श्री पवन दीवान को श्रद्धांजली दी तथा उनकी इच्छा के आधार पर छत्तीसगढ़ में कौशल्या महतारी के मंदिर बनवाने का निर्णय लिए। साथ ही पवन दीवान सूरता ग्रंथ तैयार करने की योजना का उल्लेख किए। 22 मार्च को होलिका दहन और 23 मार्च को होली की शुभकामनाएं दी। 22 मार्च को विश्व जल दिवस मानते हुए जल बचाव के प्रयास करने की जरूरत कही। 25 मार्च को गुड फ्राईडे और 27 को ईस्टर का भी उल्लेख किए। 8 मार्च महिला दिवस का भी उन्होंने उल्लेख किया। जिसमें महिलाओं के प्रति सम्मान, जिम्मेदारी और प्रतिबधता की बात कही। महिला सशक्तिकरण के लिए प्रदेश सरकार ने कई कदम उटाए हैं। जिसमें पंचायत चुनाव में महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण, महिलाओं के नाम की सम्पत्ति पर स्टाम्प ड्यूटी में छूट, बेटियों के जन्म पर नोनी सुरक्षा योजना, बेटियों को पहली कक्षा से कॉलेज तक मुफ्त शिक्षा, निःशुल्क सरस्वती सायकल योजना, मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत् आर्थिक सहयोग और छत्तीसगढ़ टोनही प्रताड़ना निवारण कानून लागू होने आदि का उल्लेख किया।
    माननीय प्रधानमंत्री का छत्तीसगढ़ प्रवास का उल्लेख इस कार्यक्रम में किए। जिसमें धमतरी के कुंवर बाई का प्रधानमंत्री से सम्मान, जन औषधी केन्द्र का उद्घाटन का उल्लेख किए। मुख्यमंत्री ने जन्म-मृत्यु पंजीयन प्रमाण पत्र अनिवार्य बताया। जन्म-मृत्यु पंजीयन के लिए सरकारी अस्पतालों, पंचायतों और नगरीय निकायों में पंजीयन की मुफ्त सुविधा का उल्लेख किया। साथ ही नया शैक्षणिक सत्र् 1 अप्रैल से प्रारम्भ हो रहा है। 13 अपै्रल तक शाला प्रवेश उत्सव मनाया जाएगा। सभी बच्चों को मुफ्त किताबें दी जाएगी। 2 करोड़ 91 लाख किताबें मुफ्त बांटी जाएगी। असफल होने वाले विद्यार्थियों को उन्होंने आत्मविश्वास जगाने का प्रयास किया। विद्यार्थियों को किसी भी प्रकार की परेशानी होने पर सीधे संवाद के लिए उन्होंने नम्बर 0771-2331001 दिया है।
    मुख्यमंत्री ने बजट के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि 70 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा का बजट पेश किया। जिसमें शिक्षा पर सबसे अधिक 13 हजार करोड़ रुपए का प्रावधान रखा हैं। किसानों को 2 हजार करोड़ रुपए की राहत राशि, पेयजल के लिए 175 गांवों के लिए प्रावधान, स्वच्छ भारत अभियान के लिए 7 सौ करोड़ की राशि, स्वच्छता से संबंधित वस्तुओं को वैट से मुक्त किया गया। रमन के गोठ का अगला प्रसारण 10 अपै्रल को किया जाएगा।
जनता एवं छात्र-छात्राओं की प्रतिक्रिया
    कक्षा 11वीं आरेाहण की छात्रा कुमारी रेशमा परवीन ने कहा कि मुख्यमंत्री जी के द्वारा शासकीय योजनाओं के संबंध में सीधे जनता से चर्चा की जाती है। इससे हम विद्यार्थियों को शासकीय योजनाओं की जानकारी के साथ-साथ प्रदेश के जिलों में विभिन्न गतिविधियों की जानकारी भी प्राप्त होती हैं। अति संवेदनशील क्षेत्र चिन्तलनार का छात्र करको रमेश जो सुकमा में रहकर पढ़ाई कर रहा हैं, उसने कहा कि मुख्यमंत्री जी के द्वारा रमन के गोठ के माध्यम से शासन-प्रशासन द्वारा की जा रही गतिविधियों की जानकारी प्राप्त होती हैं, इन जानकारियों का लाभ लेते हुए हमें अपने भविष्य को उज्जवल बनाने में सहयोग मिलेगा।
    साक्षरता प्रेरक सुजिता कश्यप ने कहा कि रमन के गोठ से लोक शिक्षा केन्द्रों में अक्षर ज्ञान प्राप्त करने वाले नव साक्षरों को शासन की विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी मिलती हैं और ग्रामीण उन योजनाओं के प्रति सक्रियता दिखाने लगे हैं। साक्षरता प्रभारी श्रीनिवास वासु ने कहा कि रमन के गोठ से मुख्यमंत्री द्वारा प्रदेश के आम जनता से सीधा संवाद शासन और आम जनता के बीच की दूरी को कम करती हैं तथा योजनाओं का लाभ लेने का अवसर प्राप्त होता हैं।
150.

 

Date: 
13 Mar 2016