Homeसुकमा : रमन के गोठ को सुनें सुकमावासी

Secondary links

Search

सुकमा : रमन के गोठ को सुनें सुकमावासी

Printer-friendly versionSend to friend

सुकमा 08 नवम्बर

माननीय मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह के द्वारा आकाशवाणी और टीवी के माध्यम से रमन के गोठ को सुकमा के निवासियों द्वारा सुना गया। रमन के गोठ के कार्यक्रम का तीसरा प्रसारण आज किया गया जिसमें मुख्यमंत्री जी ने कार्यक्रम के लिए प्राप्त पत्रों का जवाब दिये तथा शिक्षा गुणवत्ता अभियान नौनिहालों के भविष्य को लेकर राज्य सरकार सजग है बताया। कार्यक्रम के द्वारा दीवाली त्यौंहार, गोवर्धन पूजा, भाईदूज, कार्तिक पूर्णिमा और गुरूनानक जयंती की मुख्यमंत्री जी ने बधाई दी। गरियाबंद की घटना पर श्रद्धांजली देते हुए ऐसी घटना की पुनरावृत्ति न होने की उम्मीद करते हुए जिम्मेदार कर्मचारियों के खिलाफ कार्यवाही की घोषणा की। किसानों के लिए धान समर्थन मूल्य का उल्लेख करते हुए लगभग 13 लाख किसानों का पंजीयन का भी उन्होने उल्लेख किया। किसानों को धान खरीदी का भुगतान ऑन लाईन करने की बात कही और किसानों को प्रति किसान एक एकड़ पर 15 क्विंटल धान खरीदी करने की योजना का उल्लेख किया। सूखा प्रभावित क्षेत्रों में 110 तहसील को शामिल किया गया इन क्षेत्रों के कृषकों को मनरेगा के तहत् 150 दिन की कार्य रोजगार दिया जाएगा, तथा लगभग 22 लाख किसानों को धान बीज वितरण किया जाएगा। कृषक जीवन ज्योती योजना के तहत् 9000 यूनिट निःशुल्क विद्युत व्यवस्था दी जाएगी।
    सुकमा जिले के तीनों विकासखण्ड के जनपद पंचायत व ग्राम पंचायत में भी रेडियो तथा टीव्ही के माध्यम से सुना गया। स्कूल आश्रम, पोटाकेबिन में भी स्कूली बच्चों तथा ग्रामीणजनों के द्वारा सुना गया। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह नवम्बर माह के दूसरे रविवार आगामी 8 नवम्बर को प्रातः 10ः45 बजे से 11 बजे तक आकाशवाणी के माध्यम से राज्य की जनता के साथ अपने विचारों को साझा किए । डॉ. सिंह ‘‘रमन के गोठ’’ शीर्षक से इस कार्यक्रम मे छत्तीसगढ़ की सामाजिक, सांस्कृतिक और प्रशासनिक गतिविधियों के साथ-साथ अपनी सरकार की विकास योजना के बारे में वार्तालाप शैली से जनता को जानकारी दे रहे हे। उनका यह अभिनव कार्यक्रम भेंट-वार्ता पर आधारित है, जो राजधानी रायपुर सहित राज्य में स्थित आाकाशवाणी के सभी केन्द्रों से एक साथ प्रसारित किया जा रहा है। मुख्यमंत्री इस कार्यक्रम के माध्यम से प्रदेश मे ंघटित समस्त प्रकार की गतिविधियों, क्रियाकलापों और महत्वपूर्ण विषयों पर अपने विचार, मंतव्य या अपील के माध्यम से जनता से सीधे संवाद कर रहे है। रमन के गोठ कार्यक्रम को आकाशवाणी के साथ ही इसी समय पर आईबीसी-24 और ईटीव्ही तथा सभी एफएम रेडियो पर प्रसारित किया गया। सुकमा ता माटा में तकनीकी खराबी के कारण सामुदायिक रेडियो से रमन के गोठ का प्रसारण नहीं किया जा सका।

 

530.
 

Date: 
08 Nov 2015