Home सुकमा : सुकमा ता माटा के माध्यम से सुना गया रमन के गोठ

Secondary links

Search

सुकमा : सुकमा ता माटा के माध्यम से सुना गया रमन के गोठ

Printer-friendly versionSend to friend

सुकमा  14  फरवरी 2016

    रमन के गोठ 6वां संस्करण के माध्यम से माननीय मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने जनता से सीधे संवाद किए। इस कार्यक्रम में श्रोताओं से मिल रही प्रतिक्रिया के लिए आभार व्यक्त किए। साथ ही प्रदेश के त्यौहार 23 फरवरी की पून्नी स्नान और 2 मार्च की जानकी जयंती की शुभकामनाएं दी। स्कली बच्चों को 23 फरवरी से प्रारम्भ हो रही बोर्ड की परिक्षाओं की शुभकामनाएं देते हुए सफल होने की कामना की। प्रदेश के प्रमुख राजिम मेला (छत्तीसगढ़ का प्रयाग) के लिए सभी जनता को आमंत्रित किए। इस कार्यक्रम के माध्यम से शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं का उल्लेख किया गया जिसमें तेन्दुपत्ता संग्राहकों को इस वर्ष 250 करोड़ रुपए की राशि का वितरण 15 लाख तेन्दुपत्ता संग्राहक परिवारों को किया जाएगा। रोजगारपरकता पर सरकार ज्यादा जोर दे रही हैं। सीधी भर्ती के पदों पर आयु सीमा बढ़ाकर 40 साल की गई हैं। तृतीय औ चतुर्थ श्रेणी के पदों के लिए साक्षात्कार का प्रावधान समाप्त किया गया का उल्लेख माननीय मुख्यमंत्री ने किया।
    सभी जिलों में लाईवलीहुड कॉलेज शुरू किए गए हैं। सभी विकासखण्डों में कम से कम एक आईटीआई खोलने का लक्ष्य रखा गया हैं। युवाओं से अपील आत्मनिर्भर बने और प्रदेश के विकास में अमूल्य योगदान दें। मुख्यमंत्री जी ने 21 फरवरी को देश के प्रधानमंत्री का राजनांदगांव प्रवास का भी उल्लेख किया, जिसमें श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूर्बन योजना की शुरूआत किया जाएगा। महिलाओं के खिलाफ अपराध रोकने के लिए कड़े कानून बनाने की बात कही। साथ ही 24 घण्टे हेल्प लाईन की सुविधा देने का उल्लेख किया गया।
    जनता का प्रतिक्रिया
    रमन के गोठ के प्रसारण पर कोसी कवासी ने कहा कि प्रदेश के मुखिया के द्वारा रमन के गोठ कार्यक्रम के माध्यम से सीधे जनता से संवाद करने से शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी के साथ वर्तमान में प्रदेश स्तर में हो रही विभिन्न सांस्कृतिक गतिविधियों व क्षेत्र विशेष की उल्लेखनीय कार्याें की जानकारी मिलती हैं।
    श्रीमती मंगली बारसे ने कहा कि रमन के गोठ से आम जनता में जागरूकता आई हैं। प्रत्येक माह के दूसरे रविवार को प्रसारित होने वाले इस कार्यक्रम से जनता में शासन के प्रति विश्वास जागा हैं। परिणामस्वरूप जनता शासकीय योजनाओं का लाभ आसानी से उठा पा रही है।
    किसान हुंगाराम ने कहा कि मुझे फसल नुकसान के लिए राहत राशि का वितरण की जानकारी रमन के गोठ के माध्यम से मिला।
    रमन के गोठ का 6वां प्रसारण को सुनने के लिए जिला प्रशासन द्वारा सुकमा के नेरो ब्राड कॉस्टिंग रेडियो ‘‘सुकमा ता माटा’’ से प्रसारित किया गया। साथ ही स्कूलों, पोटाकेबिन, छात्रावास, आश्रम और पंचायत भवनों में रेडियो के द्वारा प्रसारण को सुनने की व्यवस्था कराया गया। कलेक्टर श्री नीरज कुमार बनसोड स्वयं सुकमा ता माटा प्रसारण केन्द्र में उपस्थित होकर प्रसारण को सुने साथ ही डिप्टी कलेक्टर श्री विनय कुमार सोनी, खेल अधिकारी व नोडल अधिकारी सुकमा ता माटा श्री वीरूपाक्ष पुराणिक उपस्थि रहें।


101.
    

 

Date: 
14 Feb 2016