रायपुर : होम हर्बल गार्डन योजना: प्रदेश की नर्सरियों में 35 वनौषधियों के सात लाख पौधे तैयार

आम नागरिकों स्कूल-कॉलेजों और संस्थाओं को निःशुल्क दिए जा रहे औषधीय पौधे

रायपुर, 29 जुलाई 2017

हरियर छत्तीसगढ़ वृक्षारोपण महाअभियान के तहत राज्य में औषधीय पौधों के प्रति जनजागरण के लिए होम हर्बल गार्डन योजना शुरू हो गई है। इस योजना के तहत प्रदेश के छह वन मंडलों-रायपुर, बलौदाबाजार, धमतरी, कोरबा, पश्चिम भानुप्रतापपुर और बस्तर में 35 वनौषधियों के सात लाख पौधे तैयार किए गए हैं, जिनका निःशुल्क वितरण किया जा रहा है। इनमें सतावर, गिलोय, एलोवेरा, तुलसी, नीम, पथरचट्टा, अडुसा, गुड़मार, आंवला, हर्रा, बहेड़ा, जामुन, अर्जुन, बेल, कचनार, मुनगा, महुआ, अमलतास, निर्गुण्डी, रीठा, ब्राम्ही, स्टीविया, अश्वगंधा, सर्पगंधा, कालमेघ, केवाच, सिन्दुरी, केवकंद, रक्तचंदन, मालकांगणी, चारबीज, मंडूकपर्णी, बच, पुत्रनजीवा, हड़जोड़ शामिल हैं।

प्रधान मुख्य वन संरक्षक (औषधीय पौधे और पराम्परागत वानिकी ज्ञान) तथा राज्य औषधीय पादप बोर्ड के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री शिरीष अग्रवाल ने आज यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार के दिशा निर्देशों के अनुरूप औषधीय पादप बोर्ड ने आम जनता को पौधे उपलब्ध कराने के लिए प्रदेश के आठ वन परिक्षेत्रों की नर्सरियों में समुचित व्यवस्था की है। नया रायपुर के ग्राम झांझ (वन परिक्षेत्र नया रायपुर), बलौदाबाजार वन मंडल  के ग्राम देवपुर (वन परिक्षेत्र देवपुर), धमनी और लटुआ (वन परिक्षेत्र बलौदाबाजार), पश्चिम भानुप्रतापपुर वन मंडल के ग्राम कापसी (वन परिक्षेत्र कापसी), कोरबा वन मंडल के ग्राम कोसाबाड़ी (वन परिक्षेत्र कोरबा), धमतरी वन मंडल के ग्राम कोलियारी (वन परिक्षेत्र-बिरगुड़ी), और मानव वन (गंगरेल) (वन परिक्षेत्र धमतरी) की नर्सरी में ये पौधे पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं। पौधे प्राप्त करने के लिए नागरिक अपने निकटवर्ती वन मंडल कार्यालय अथवा वन परिक्षेत्र कार्यालय से सम्पर्क कर सकते हैं।

उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ राज्य औषधीय पादप बोर्ड द्वारा इस महीने की 19 तारीख से अब तक राजधानी रायपुर के आस-पास डुमरतराई, माना बस्ती और माना कैम्प के स्कूलों तथा अन्य सार्वजनिक स्थानों पर लगभग सात हजार औषधीय पौधे वितरित किए जा चुके हैं। बोर्ड के अध्यक्ष श्री रामप्रताप सिंह ने वितरण कार्य का शुभारंभ किया। यहां मेडिकल कॉलेज रोड स्थित बोर्ड कार्यालय से भी अब तक तीन हजार पौधे बांटे जा चुके हैं। औषधीय पौधे प्राप्त करने के लिए संस्थाओं, स्कूल-कॉलेजों और पर्यावरण प्रेमियों को संबंधित वन मंडल कार्यालय में आवेदन करना होगा। अधिक जानकारी के लिए छत्तीसगढ़ राज्य औषधीय पादप बोर्ड के मुख्यालय से टेलीफोन नम्बर 0771-2522056 पर अथवा विस्तार अधिकारी के मोबाइल नम्बर 99818-35527 पर सम्पर्क किया जा सकता है।

क्रमांक -1836/स्वराज्य


Secondary Links