रायपुर : रमन के गोठ की 24 वीं कड़ी प्रसारित ग्राम निलजा के लोगोें ने बड़े ही उत्साह से सुना

सरकार नेे 5000 दिनों में गढे़ विकास के नये आयाम

         रायपुर, 13 अगस्त 2017

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की मासिक रेडियो वार्ता ‘‘रमन के गोठ‘‘ की 24वीं कड़ी का प्रसारण आज यहां पूर्वान्ह 10:45 से 11:05 बजे तक आकाशवाणी के सभी केन्द्रों, एफ.एम. और राज्य के निजी टेवीविजन चौनलों में हुआ। रायपुर जिले के धरसींवा विकासखण्ड के ग्राम निलजा में ग्रामीणों ने बड़े ही उत्साह से मुख्यमंत्री की रेडियो वार्ता को सुना और उसे सराहा।
     ग्रामीण श्रीमती जानकी बाई, श्रीमती खेदीया बाई, श्री राम रतन, श्री लक्ष्मण वर्मा, श्री ओम धीवर, श्री दाऊलाल देवांगन और श्री अशोक साहू ने कहा कि सरकार द्वारा जनता के सपनों को पूरा किया जा रहा है। छत्तीसगढ़ को आदर्श राज्य बनाने से कोई नही रोक सकता। इस राज्य को विरासत मे मिली समस्याओं को दूर किया जा रहा है। राज्य बनने के बाद लोगों के प्रति व्यक्ति आय में वृद्धि हुआ है। जन-जन तक शासन के क्रियाकलापों को पहुचाने विकेन्द्रीकरण के रूप में जिलों की संख्या में वृद्धि किया गया है।
श्री सोमनाथ, श्री घनश्याम, श्रीमती संतोषी और श्रीमती राधाबाई ने कहा कि सरकार द्वारा उचित मुल्य की दुकानों से न्यूनतम दरों पर राशन उपलब्ध कराया जा रहा है। स्वास्थ्य के क्षेत्र में स्मार्ट कार्ड के माध्यम से निःशुल्क इलाज की सुविधा उपलब्ध कराया जा रहा है। राज्य में शिशु मृत्यु दर और मातृ मृत्यु दर में कमी आयी है। स्वास्थ्य बीमा से लाखों परिवारों को लाभ पहुचाया जा रहा है। दुरस्त क्षेत्रों में चिकित्सा महाविद्यालयों के साथ-साथ अस्पताल खोल कर चिकित्सकों की भर्ती किया गया। इसी तरह सरकार के 5000 दिन की यात्रा में शिक्षा के क्षेत्र मंे अभिनव परिवर्तन किये गये है। स्कूलों की संख्या में वृद्धि हुई है। शाला अप्रवेशी बच्चों की संख्या में कमी आयी है। राज्य में सरकारी महाविद्यालय की संख्या में वृद्धि हुई है। शिक्षा की गुणवत्ता में निरंतर वृद्धि हो रही है। दुर्गम क्षेत्र कि बच्चे की राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर के संस्थाओं मे अध्ययन कर रहे है।
इसी तरह ग्रामीण श्री बिसहत, श्री अर्जुन, श्री लोकनाथ और श्री जनक राम ने कहा कि राज्य में बिजली उत्पादन मे वृद्धि कर कटौती को पूर्णतः बंद किया गया, जो प्रशंसनीय है। किसानांे को निर्बाध रूप से बिजली दी जा रही है। राज्य के विकास के लिए सड़कों का जाल बिछाने के साथ-साथ 1300 किलोमीटर रेलवे लाइन बिछाया जा रहा है। छत्तीसगढ़ को रचनात्मक एक नवाचार पर अलग पहचान मिली है। कौशल उन्नयन कानून से युवाओं को प्रशिक्षित करने वाला पहला राज्य है। राज्य के जनता को विभिन्न विवादों को सुलझाने लोक अदालतों की व्यवस्था की गई है। इसके लिए 9 सितम्बर को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया जा रहा है।

क्रमांकः 08-59/विष्णु

 

 


Secondary Links