उत्तर बस्तर (कांकेर) : न्यायालयों के लंबित प्रकरणों का निपटारा लोक अदालत के माध्यम से किया जाएगा- मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह, : रमन के गोठ का 24वीं कड़ी का प्रसारण

, प्रदेश वासियों को तीज त्योहारों की बधाई दी

उत्तर बस्तर (कांकेर) 13 अगस्त 2017

‘‘रमन के गोठ‘‘ कार्यक्रम की 24वीं कड़ी का सामुहिक रेडियो श्रवण कार्यक्रम का प्रसारण आज कांकेर विकासखण्ड के ग्राम भिरावाही के पंचायत भवन में सम्पन्न हुआ। रमन के गोठ कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने प्रदेशवासियों को कृषि प्रधान छत्तीसगढ़ के लोक जीवन के प्रमुख पर्व ‘हरेली’ की हार्दिक बधाई दी है। उन्होंने इस मौके पर सभी लोगों के लिए अपनी शुभेच्छा प्रकट की। डॉ. सिंह ने अपने बधाई संदेश में कहा कि बारिश और खेती-किसानी के मौसम में श्रावण महीने की अमावस्या के दिन मनाया जाने वाला हरेली का त्यौहार वास्तव में अपने नाम के अनुरूप हमारे जीवन में ‘हरियाली’ का संदेश लेकर आता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस पर्व से हमें अपने गाँव, शहर, राज्य और अपने देश में हरियाली की रक्षा के लिए जल-जंगल और जमीन की रक्षा करने और अधिक से अधिक संख्या में वृक्षारोपण करने की प्रेरणा मिलती है। यह हमारे जीवन में ‘हरियाली’ के महत्व को भी प्रदर्शित करता है। डॉ. रमन सिंह नेे कहा कि किसान हरेली के दिन जहां खेती के लिए उपयोगी नांगर, गैंती, फावड़ा आदि उपकरणों की पूजा करते हैं, वहीं इस दिन बैलों की भी पूजा की जाती है, जो पशुधन के प्रति किसानों के आत्मीय जुड़ाव का प्रतीक है। उन्होंने कहा किहरेली त्योहार मेहनतकश किसानों की आस्था, उनके उत्साह और विश्वास का भी एक प्रमुख पर्व है। डॉ. रमन सिंह ने कहा कि बच्चे और युवा हरेली के दिन ‘गेड़ी’ का भी आनंद लेते हैं।
    मुख्यमंत्री ने हरेली के पावन अवसर पर छत्तीसगढ़ सहित पूरे देश में किसानों की खुशहाली के लिए ईश्वर से अच्छी बारिश और अच्छी फसल की प्रार्थना की । उन्होंने सभी लोगों से हरेली के दिन ‘हरियर छत्तीसगढ़’ वृक्षारोपण महा अभियान की भावना के अनुरूप छत्तीसगढ़ को हरा-भरा बनाने का संकल्प लेने, अधिक से अधिक संख्या में पौधे लगाने और लगाए गए पौधों की बेहतर देखभाल करने की भी अपील की। मुख्यमंत्री ने प्रदेश वासियों को अदालतों के लंबित प्रकरणों का निराकरण लोक अदालतों के माध्यम से कराए जाने की अपील की। आने वाले  9 सितंबर को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किए जाने की जानकारी प्रदेशवासियों को दी। उन्होंने 2003 से तुलना करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ का विकास कोसो आगे निकल चुका है। 2003 में बिजली कटौती से लोग परेशान होते थे अब प्रदेश में 6350 मेगावॉट विद्युत का उत्पादन किया जा रहा है। प्रदेश के 59 लाख परिवारों को खाद्यान्न सुरक्षा योजना के तहत लाभान्वित किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने रमन के गोठ के माध्यम से प्रदेश के 58 लाख परिवारों को स्मार्ट कार्ड के माध्यम से लाभान्वित किए जाने की जानकारी दी।
आज रमन के गोठ रेडियो श्रवण कार्यक्रम में उपस्थित मुख्य अतिथि एवं प्रदेश के मछुआ कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष श्री भरत मटियारा ने उपस्थित लोगों को राज्य सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ उठाने की अपील की।
    इस अवसर पर सरपंच भिरावाही श्रीमती संगीता कोमरा, उपसरपंच उत्तम जैन, वरिष्ठ नागरिक मनिराम नाविक, नाथू राम सोनवानी, वार्ड पंच श्री जनक गुरू, राम कुमार, श्रीमती यशोदा मंडावी, श्रीमती विमला पोया, श्रीमती गायत्रि बगरिया, श्रीमती संध्या जैन, ग्राम पटेल नाथू राम सिन्हा, ग्राम प्रमुख अर्जुन कावड़े, प्रधान पाठक मांझापारा श्रीमती गीरजा सलाम, माध्यमिक शाला की माधूरी साहसी, सहायक शिक्षक पार्वती मरकाम, करारोपण अधिकारी श्री संतोष कौशिक सहित ग्रामीणजन उपस्थित थे।                              

 क्र/संत

 


Secondary Links