महासमुंद : जगह-जगह सुना गया ’रमन के गोठ’

महासमुंद, 13 अगस्त 2017

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह द्वारा आज आकाशवाणी तथा दूरदर्शन के विभिन्न चैनलों के द्वारा प्रसारित ’रमन के गोठ’ को महासमुंद जिले में जगह-जगह सुना गया। मुख्यमंत्री ने आकाशवाणी के विशेष प्रसारण ‘रमन के गोठ’ के सफलतापूर्वक दो वर्ष पूरे होने पर सभी श्रोताओं का अभिनंदन किया।   
डॉ. रमन सिंह ने मुख्यमंत्री के रूप में कार्यकाल के 5 हजार दिन पूरे होने पर कहा कि जनता की सेवा करने का जो सपना मन में था, उसको पूरा करने का अवसर प्रदान करने के लिए मैं प्रदेश की जनता को धन्यवाद देता हूं। उन्होंने कहा कि मुझे खुशी है कि आज राज्य निर्माण के इस यात्रा में हम सफल हुए हैं। माननीय प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी ने 3 नए राज्यों को जन्म दिया। जब छत्तीसगढ़ बना तो इसमें 16 जिले इसमें थे। हमने जिला प्रशासन सेवाओं को जनता के नजदीक ले जाने के लिए 11 नए जिलों का निर्माण किया, जिससे बढ़कर अब 27 जिले छŸाीसगढ़ में हो गए हैं। इसी तरह प्रदेश के तहसीलों की संख्या 98 से बढ़कर 150 हुई है। नगर पंचायत की संख्या 49 से 112 हो गए हैं, नगर पालिका परिषद की संख्या 28 से बढ़कर 43 हो गए हैं और नगर निगमों की संख्या 10 से बढ़कर 13 हो गई है। इसके अलावा हमने विशेष आवश्यकता वाले क्षेत्रों में समन्वित प्रशासनिक व्यवस्था कायम की है। बस्तर एवं दक्षिण क्षेत्र विकास प्राधिकरण, सरगुजा एवं उत्तर क्षेत्र विकास प्राधिकरण, अनुसूचित जाति विकास प्राधिकरण, छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण विकास प्राधिकरण का गठन करके आदिवासी, अनुसूचित जाति तथा अन्य पिछड़े क्षेत्रों में प्राथमिकता और तेजी के साथ विकास का रास्ता बन गया है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘मुख्यमंत्री खाद्य एवं पोषण सुरक्षा कानून’ और ‘‘पैडी प्रौक्योरमेन्ट सिस्टम’’, के माध्यम से हमने छत्तीसगढ़ में ‘भूख’ को हराया है। लगभग 59 लाख परिवारों को एक रूपए किलो चावल, आयोडीनयुक्त नमक, प्रोटीनयुक्त चना आदि का लाभ मिल रहा है। ‘कौशल उन्नयन कानून’ लागू करने में हम देश के पहले राज्य में हैं। हर साल एक लाख युवाओं को प्रशिक्षण, हुनर सिखाने का काम सिर्फ छत्तीसगढ़ कर रहा है। किसानों को बिना ब्याज ऋण देने वाली योजना की राशि 150 करोड़ रूपये से बढ़कर 3 हजार करोड़ रूपए हो गई है। तेन्दूपत्ता की मजदूरी की दर 350 रूपए से बढ़ाकर 18 सौ रूपए कर दी है। ‘स्वास्थ्य बीमा योजना’, में राज्य प्रथम स्थान पर हैं, 58 लाख परिवारों को ‘स्मार्ट कार्ड’ के माध्यम से निःशुल्क इलाज की सुविधा दी गई है। महिलाओं को पंचायत चुनावों से लेकर सरकारी नौकरी तक में आरक्षण, महिला समूहों को मात्र 3 प्रतिशत ब्याज दर पर ऋण तथा अनेक शासकीय योजनाओं मे भागीदारी के माध्यम से महिला सशक्तीकरण का बड़ा अभियान चलाया जा रहा हैं। युवाओं को निःशुल्क लेपटॉप, टेबलेट, एक प्रतिशत ब्याज दर पर ऋण, बेटियों को निःशुल्क शिक्षा देने जैसी अनेक योजनाएं हैं, जिससे युवा प्रदेश की विकास योजनाओं से जुड़े हैं। सरगुजा और बस्तर में मेडिकल कॉलेज प्रारंभ हुए है। सभी जिलों में लाईवलीहुड कॉलेज का संचालन नवाचार के सफल मॉडल का प्रतीक है। प्रधानमंत्री माननीय नरेन्द्र मोदी जी ने विगत 3 वर्षों में अनेक नवाचार किए, जिनमें छत्तीसगढ़ की उपलब्धि अग्रणी है। चाहे वह जन-धन का खाता हो, मुद्रा योजना हो, स्वच्छता अभियान हो, उज्ज्वला योजना हो, मेक इन इण्डिया हो, स्टार्ट-अप इण्डिया हो, आवास योजनाएं हों या बीमा योजनाएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि 9 सितम्बर को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें उपस्थित होकर आप अपनी समस्या का हल करा सकते हैं। अतः आप लोग ज्यादा से ज्यादा संख्या में इस अवसर का लाभ उठाएं और विवादों और तनावों से मुक्त होकर सुखद जीवन की ओर कदम बढ़ाएं।
उल्लेखनीय है कि ’’रमन के गोठ’’ के संबंध में नागरिक अपना प्रतिक्रिया या सुझाव फेसबुक
drramansingh.official या ट्युटर @drramansingh या ई-मेल ramankegoth@gmail.com या एसएमएस RKG<space> सुझाव लिखकर 76685-00500 के माध्यम से भेज सकते हैं।
 

क्रमांक 50/686/हेमनाथ/एम  

 


Secondary Links