रायपुर : चक्रधर समारोह के यश-कीर्ति की खुशबू दूर-दूर तक फैल रही है- केन्द्रीय राज्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय : 10 दिवसीय चक्रधर समारोह का भव्य शुभारंभ

रायपुर, 25 अगस्त 2017

 केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय ने आज रायगढ़ के रामलीला मैदान में दीप प्रज्जवलित कर 33 वें चक्रधर समारोह का विधिवत शुभारंभ किया। इस अवसर पर केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री ने अपने उद्गार व्यक्त करते हुए कहा कि ऐतिहासिक चक्रधर समारोह ने देश में एक विशिष्ट पहचान बनाई है जिसमें छत्तीसगढ़ एवं रायगढ़ की कला पारखी जनता का योगदान है। उन्होंने कहा कि चक्रधर समारोह के इस प्रतिष्ठित मंच में कलाकार अपनी प्रस्तुति देकर स्वयं को धन्य महसूस करते हैं। उन्होंने कहा कि चक्रधर समारोह की यश कीर्ति की खुशबू दूर-दूर तक फैल रही है। संगीत की नित नई परम्परा विकसित हुई है। उन्होंने कहा कि संगीत के क्षेत्र में राजा चक्रधर का योगदान अविस्मरणीय है और इस अवसर पर उन्होंने राजा चक्रधर के अवदानों का स्मरण किया। 

केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री श्री साय ने कहा कि चक्रधर समारोह में जनता की प्रमुख भागीदारी रही है। राजा चक्रधर की कला परम्परा को कला साधकों को आगे बढ़ाना है और आज प्रतिष्ठित चक्रधर समारोह की ख्याति देशभर में फैल रही है। देश के प्रख्यात कलाकार उस्ताद बिस्मिल्ला खॉ, यशुदास, कवि सुरेन्द्र दुबे, हेमामालिनी जैसे कलाकारों ने इस मंच पर अपनी प्रस्तुति दी है। चक्रधर समारोह हर वर्ष इसी तरह व्यापक होता रहे। केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री श्री साय ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी नये भारत के रूप में देश को स्थापित कर रहे है। देश में गांव, गरीब, किसान और मजदूर के उत्थान के लिए निरंतर कार्य कर रहे है। प्रदेश के मुखिया डॉ. रमन सिंह सभी वर्गो की चिंता कर रहे है। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री श्री मोदी एवं मुख्यमंत्री देश को आगे बढ़ाने में सफल होंगे। 

संसदीय सचिव एवं लैलूंगा विधायक श्रीमती सुनीति सत्यानंद राठिया ने कहा कि कला एवं संस्कृति की पवित्र नगरी में राजा चक्रधर जैसे महान व्यक्तित्व का अवतरण हुआ था। आज रायगढ़ कला एवं संस्कृति के नाम से विख्यात है। गणेश उत्सव एवं चक्रधर समारोह की इस परम्परा को छत्तीसगढ़ शासन निर्बाध गति से आगे बढ़ा रहे है। चक्रधर समारोह का यह आयोजन भव्यता लिए हुए है। इस मंच पर अपनी प्र्रस्तुति देने वाले कलाकार स्वयं को गौरवान्वित महसूस करते हैं। आज चक्रधर समारोह देश में संगीत महाकुंभ का रूप ले चुका है। विधायक श्री रोशन लाल अग्रवाल ने कहा कि चक्रधर समारोह आमजनों का कार्यक्रम बन गया है। सुर-ताल एवं छंद से सुसज्जित गायन, वादन, नृत्य की सुरीली परम्परा नित नये आयाम गढ़ रही हैं। जहां देश एवं प्रदेश के ख्याति लब्ध कलाकार अपनी प्रस्तुति दे रहे हैं। 

कलेक्टर श्रीमती शम्मी आबिदी ने स्वागत उदबोधन में कहा कि चक्रधर समारोह गौरवशाली परम्परा का रूप ले चुका है। विगत 32 वर्षो में समारोह का यह मंच अनगिनत अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त कला साधकों का साक्षी रहा है। इस वर्ष के आयोजन में भी राज्य शासन तथा सभी के सहयोग से देश के शीर्षस्थ, विभिन्न विधाओं के सुप्रसिद्ध कलाकारों तथा लोक संस्कृतियों का सुन्दर समागम प्रस्तुत करने का प्रयास किया है। इस वर्ष के आयोजन के विशिष्ट आकर्षण पद्मश्री हरिहरन, सुश्री रेखा भारद्वाज, सुश्री प्राची  शाह, प्रतिभा सिंह बघेल, उस्ताद अहमद हुसैन-मोहम्मद हुसैन आदि फनकार है। इसके साथ ही छत्तीसगढ़ी लोकरंग, नाट्य, विधा, कवि सम्मेलन तथा शास्त्रीय गायन-वादन के सुप्रसिद्ध कलाकार इस दस दिवसीय सांस्कृतिक आयोजन में अपने कलाओं की खुशबु इस मंच पर बिखरेंगे। कव्वाली और राजस्थानी लोक संगीत के कार्यक्रम भी इस वर्ष के आयोजन में शामिल किए गए है। इस मंच पर छत्तीसगढ़ राज्य तथा स्थानीय कलाकारों को भी अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करने का अवसर दिया गया है चक्रधर समारोह के अवसर पर रायगढ़ जिला बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान से जुड़ा रहने के कारण इस वर्ष जिला स्तरीय कबड्डी का आयोजन 27 अगस्त से 29 अगस्त तक तथा अखिल भारतीय महिला कुश्ती का आयोजन 31 अगस्त और 01 सितम्बर को किया गया है जिसमें राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी शामिल होंगी। नाट्य विधा के अंतर्गत बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ पर आधारित नाटक भी प्रस्तुत किया जाएगा, ताकि इस मंच के माध्यम से इस विषय पर जन-जागरूकता लायी जा सके। 

इसके पहले केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री श्री साय ने भगवान गणेश की विधिवत पूजा-अर्चना की और महाराजा चक्रधर सिंह के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित की। इस अवसर पर केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री श्री साय ने प्रख्यात कथक नृत्यांगना सुश्री प्राची शाह को स्मृति चिन्ह एवं शाल देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर विधायक श्रीमती केराबाई मनहर, महापौर मधुबाई, सभापति श्री सलीम नियारिया, श्री जवाहर नायक, सुश्री उर्वशी देवी, श्री विजयश्री सिंह, श्री राजेश शर्मा, संभागायुक्त श्री टी.सी.महावर, पुलिस अधीक्षक श्री बी.एन.मीणा, अपर कलेक्टर श्रीमती प्रियंका ऋषि महोबिया एवं श्रीमती रोक्तिमा यादव, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती चंदन संजय त्रिपाठी सहित बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधि एवं बड़ी संख्या में वरिष्ठ अधिकारी एवं कलाप्रेमी उपस्थित थे। कार्यक्रम में आभार प्रदर्शन कुंवर देवेन्द्र प्रताप सिंह ने किया एवं कार्यक्रम का प्रभावी संचालन प्राचार्य श्री राजेश डेनियल ने किया।  

क्रमांक-2252/उषा किरण


Secondary Links