रायपुर : गौसेवा आयोग के चार सदस्यों की नियुक्ति निरस्त

रायपुर 28 अगस्त 2017

राज्य सरकार ने दुर्ग और बेमेतरा जिले की तीन गौशालाओं में काफी संख्या में गायों की मृत्यु के मामले को गंभीरता से लिया है और इस सिलसिले में छत्तीसगढ़ गौसेवा आयोग के चार अशासकीय सदस्यों की नियुक्ति तत्काल प्रभाव से निरस्त कर दी है। इस आशय का आदेश पशुधन विकास विभाग ने मंत्रालय (महानदी भवन) से जारी कर दिया। विभागीय अधिकारियों ने आज यहां बताया कि छह मई 2016 को इन अशासकीय सदस्यों की नियुक्ति तीन वर्ष के लिए की गई थी।  इनमें भाटापारा (जिला बलौदाबाजार) के श्री रमेश यदु, लोरमी (जिला मुुंगेली) के श्री धनीराम यादव, राजनांदगांव के श्री दीनदयाल यादव और अम्बिकापुर के श्री सेवा राम अग्रवाल शामिल हैं। इन सदस्यों की नियुक्ति निरस्त करने के लिए 26 अगस्त को जारी आदेश में कहा गया है कि दुर्ग और बेमेतरा जिले की तीन गौशालाओं में अधिक संख्या में गायों की मृत्यु के परिप्रेक्ष्य में गौशालाओं का समुचित प्रबंधन नहीं होना पाया गया। इस स्थिति में छत्तीसगढ़ गौसेवा आयोग अधिनियम 2004 की धारा-6 के तहत इन चारों अशासकीय सदस्यों की नियुक्ति तत्काल प्रभाव से निरस्त की गई है। 

क्रमांक-2290/स्वराज्य


Secondary Links