रायपुर : हमर छत्तीसगढ़ योजना : नल-जल योजना से दूर हुई पेयजल की समस्या

रायपुर. 07 सितम्बर 2017

गांव में नल-जल योजना शुरू होने के बाद डोंगरियाकला को पेयजल की समस्या से निजात मिल गई है। ग्राम पंचायत द्वारा नदी पर जल संवर्धन संरचना का निर्माण कर गांव में भूजल स्तर को भी बढ़ाया गया है। कबीरधाम जिले के डोंगरियाकला के लोगों को अब गर्मी में भी भरपूर पेयजल एवं निस्तारी के लिए पानी मिलता है।

      हमर छत्तीसगढ़ योजना में अध्ययन भ्रमण पर रायपुर आईं डोंगरियाकला की सरपंच श्रीमती सोनिया लांझी बताती हैं कि गांव के पास नदी बहती है, फिर भी पहले गांव प्यासा रहता था। भूजल स्तर बहुत नीचे चला गया था। गर्मियों में पेयजल की समस्या होने लगती। पीने के पानी के लिए गांव की महिलाएं सवेरे से ही हैंडपंपों के सामने कतार लगाकर अपनी बारी का इन्तजार करती थीं। इस चक्कर में गर्मियों में उनकी पूरी दिनचर्या अस्त-व्यस्त हो जाती।

      सरपंच श्रीमती सोनिया लांझी बताती हैं कि जब से गांव में नल-जल योजना शुरू हुई है, पानी की समस्या से मुक्ति मिल गई है। पाइपलाइनों के जरिए गांव के 80 फीसदी घरों में स्वच्छ और सुरक्षित पेयजल पहुंच रहा है। घर तक पेयजल की व्यवस्था हो जाने से गांव की महिलाओं को बहुत राहत मिली है। भूजल स्तर बढ़ाने के लिए वहां पंचायत ने भी लगातार प्रयास किए हैं। नदी में रिटर्निंग वॉल बनाकर पानी के व्यर्थ बहाव को रोका गया है। इसके अच्छे परिणाम सामने आए हैं और गांव के भूजल स्रोतों का जलस्तर ऊंचा उठा है।

क्रमांक-.2433/कमलेश

 


Secondary Links