रायपुर : अब अंतरा इंजेक्शन से होगा परिवार नियोजन

रायपुर, 09 सितम्बर 2017

छत्तीसगढ़ में बढ़ती आबादी के रोकथाम के लिए स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा नित नए प्रयास किए जा रहे हैं। अब प्रदेश में अंतरा नामक इंजेक्शन से परिवार नियोजन किया जा सकेगा। स्वास्थ्य विभाग द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में विधिवत शुभारंभ किया गया। अंतरा इंजेक्शन के शुभारंभ अवसर पर एमपीए कार्ड का विमोचन भी किया गया। इस अवसर पर स्वास्थ्य विभाग के आयुक्त श्री आर. प्रसन्ना भी उपस्थित थे। उन्होंने बताया कि प्रदेश की बढ़ती आबादी पर अब अंतरा नाम इंजेक्शन लगाम लगाएंगे। इसके लिए चिकित्सा विभाग ने तैयारियां शुरू कर दी है। जल्द ही पूरे प्रदेश में अंतरा इंजेक्शन निःशुल्क लगाए जायेंगे। अधिकारियों ने बताया कि अंतरा इंजेक्शन के जरिये ऐसी महिलाओं को लाभ होगा जो गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन नहीं करना चाहती हैं। अंतरा इंजेक्शन का महिलाओं के शरीर पर कोई साइड इफेक्ट नहीं होगा और ना ही किसी तरह की शारीरिक कमजोरी महसूस होगी। महिलाएं जब अंतरा इंजेक्शन लगवायेंगी। तब उन्हें गर्भधारण नहीं होगा। दो बच्चों के बीच में अंतराल रखने के लिए आसान होगा। जब उन्हें मां बनना हो तो वे इंजेक्शन बंद कर सकती है। एक बार इंजेक्शन लगाने पर तीन माह तक प्रभावी रहेगा। अर्थात् तीन माह तक गर्भधारण नहीं होगा। प्रथम चरण में प्रदेश के मेडिकल कॉलेज व जिला अस्पताल में निःशुल्क लगाये जायेंगे। इसके लिए चिकित्सकों और पैरा-मेडिकल स्टॉफ को प्रशिक्षित किया जा रहा है। ताकि दूरदराज के ग्रामीण इलाकों में रहने वाली महिलाओं को जनसंख्या नियंत्रण के लिए प्रेरित कर सकें। इस कार्यक्रम में मितानिनों का भी सहयोग लिया जाएगा। इस अवसर पर डॉ. एस. के. सिकदर, संचालक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग डॉ. आर. आर. साहनी, रायपुर संभाग के संयुक्त संचालक डॉ. जी.के. सक्सेना, उप संचालक डॉ. बीके दास, कवर्धा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ0 अखिलेश त्रिपाठी, स्त्री रोग विशेषज्ञ, जिला नोडल अधिकारी व आरएमएनसीएच सलाहकार आदि उपस्थित थे।
कार्यक्रम में चिकित्सकों ने बताया कि अंतरा इंजेक्शन के आ जाने से अब महिलाओं को गर्भनिरोधक गोलियों का नियमित सेवन करने की आवश्यकता नहीं पड़ेगा। तीन महीने में एक बार अंतरा इंजेक्शन लेना होगा और वर्ष में चार बार अंतरा इंजेक्शन की डोज लेनी होगी। प्रदेश के स्वास्थ्य अमले को प्रशिक्षण के बाद इसे जल्द ही लागू किया जाएगा।

क्रमांक-2474/ओम


Secondary Links