रायगढ़ : किसानों को धान का बोनस दीपावली के पहले मिलेगा-मुख्यमंत्री डॉ. सिंह : ग्राम रेगड़ावासियों ने सुना 'रमन के गोठ'

रायगढ़, 10 सितम्बर 2017

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के आकाशवाणी रायपुर केन्द्र से प्रसारित मासिक रेडियो वार्ता 'रमन के गोठ' की 25 वीं कड़ी को रायगढ़ जिले के ग्राम रेगड़ा वासियों ने तन्मयतापूर्वक सुना। मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने प्रदेशवासियों को नवरात्रि, दशहरा एवं दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि खरीफ वर्ष 2016 में खरीदे गए धान का बोनस दीपावली के पहले किसानों को देने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2016 में तेरह लाख से ज्यादा किसानों से 69 लाख 59 हजार मीट्रिक टन धान की खरीदी हुई थी जिस पर प्रति क्ंिवटल 300 रुपए की दर से 2100 करोड़ रुपए के बोनस का भुगतान किया जाएगा। उन्होंने कहा कि दीपावली के पहले बोनस तिहार मनायेंगे और हर जिले में किसानों को बोनस दिया जाएगा।
    पूर्व जिला परियोजना अधिकारी साक्षर भारत श्री आर.बी.सिंह ने ग्रामवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि रमन के गोठ के माध्यम से प्रदेश के मुखिया के विचारों को सुनने का अवसर मिला रहा है। उन्होंने कहा कि संवेदनशील सरकार द्वारा किसानों को 300 रुपए प्रति क्ंिवटल की दर से धान का बोनस दिए जाने का निर्णय सराहनीय है। यह प्रदर्शित करता है कि शासन किसानों की समस्या के प्रति जागरूक है। उन्होंने ग्रामवासियों से आग्रह किया कि हर माह के दूसरे रविवार को रमन के गोठ जरूर सुने और प्रदेश के मुखिया के विचारों को जानें तथा क्विज प्रतियोगिता में भाग लें। उन्होंने कहा कि 15 सितम्बर से 2 अक्टूबर तक 'स्वच्छता ही सेवाÓ है अभियान चलाया जा रहा है। देश एवं प्रदेश के गांव-गांव में खुले में शौच मुक्ति का अभियान चलाया जा रहा है। छत्तीसगढ़ को वर्ष 2018 तक ओडीएफ करने के लक्ष्य में हर व्यक्ति सहभागी बनें। ग्राम के प्रत्येक व्यक्ति अपने घरों में शौचालय बनाए और दूसरों को भी सहयोग एवं प्रेरित करें। शौचालय बनने के बाद उसका उपयोग भी सुनिश्चित करें।
    सरपंच श्री कुशराम राठिया ने कहा कि रमन के गोठ सुनकर बहुत अच्छा लगा। इस कार्यक्रम में शासकीय योजनाओं के साथ ही स्वच्छता संबंधी जानकारी भी मिली। उन्होंने कहा कि गांव में साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। जिला स्तरीय साक्षर भारत के स्त्रोत व्यक्ति श्री एम.आर.यादव ने कहा कि किसानों के दुख को समझ रही है। किसान खुशहाल एवं प्रसन्न रहे इसके लिए विशेष प्रयास किए जा रहे है। उन्होंने कहा कि जनसामान्य स्वस्थ रहे इसके लिए साफ-सफाई जरूरी है। यह जरूरी है कि हम स्वच्छता के नियम को जाने समझे एवं दूसरों को भी समझायें। दीनदयाल अंत्योदय योजना का अर्थ है कि अंतिम व्यक्ति तक योजना का लाभ पहुंचे। विकासखण्ड परियोजना अधिकारी श्री रामदीन गुप्ता ने स्वच्छ भारत मिशन के तहत चलाए जा रहे स्वच्छता अभियान की जानकारी दी। उन्होंने खुले में शौच मुक्त ग्राम बनाने में लिए ग्रामवासियों को प्रेरित किया। उन्होंने सोख्ता गड्ढे बनाने की तकनीकी पहलुओं की भी जानकारी दी।
    रेगड़ा के ग्रामवासी श्री मोतीलाल पटेल ने कहा कि मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने किसानों के दुख-दर्द को समझा है और किसानों को बोनस देने का जो निर्णय लिया है वह सराहनीय है। श्री महेन्द्र साव ने कहा कि 15 सितम्बर से 2 अक्टूबर तक स्वच्छता ही सेवा चलाने का जो निर्णय लिया गया है वह प्रशंसनीय है। स्वच्छता के प्रति गांव-गांव में जागरूकता आनी चाहिए। इस अवसर पर संकुल समन्वयक टारपाली श्री राजेश शर्मा, उपसरपंच सुश्री राजकुमारी सारथी, श्री भगवानदीप डनसेना, श्री पद्मलोचन, श्री मोहनलाल पटेल, श्री राजेन्द्र साव, श्री हरिराम सारथी, श्रीमती हसरून, श्रीमती गणेशी, श्रीमती अनिता बघेल, श्री आर.एस.स्वर्णकार सहित बड़ी संख्या में ग्रामवासी उपस्थित थे।

स.क्र./48/ उषा किरण

 


Secondary Links