कोण्डागांव : जन-जन में पैठ बना चुका है ‘‘रमन का गोठ‘ : उमरगांव (ब) के ग्रामीण श्रोताओं ने सुना रेडियो वार्ता

पंडित दीनदयाल उपाध्याय की स्मृति में होंगे विविध आयोजन
प्रदेश में 15 सितम्बर से 02 अक्टूबर तक ‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान चलेगा
राज्य के किसान दीपावली से पहले मनायेंगे ’‘बोनस तिहार‘‘ - मुख्यमंत्री

कोण्डागांव, 10 सितम्बर 2017

    मासिक रेडियो वार्ता ‘रमन के गोठ‘ का 25वीं प्रसारण का कोण्डागांव विकासखण्ड के साथ-साथ अन्य विकासखण्डों में भी उत्साहपूर्वक श्रवण किया गया। विकासखण्ड कोण्डागांव के उमरगांव (ब) के ग्रामीण महिला किसन बाई का इस संबंध में कहना था कि वे इस कार्यक्रम को नियमित रुप से सुनती है रमन के गोठ कार्यक्रम में माननीय मुख्यमंत्री जिस अपनेपन से चर्चा करते है वह उन्हें विशेष रुप से भाता है। गांव के ही पार्वती स्व-सहायता समूह की अध्यक्ष आयती बाई ने बताया कि वे रेडियो वार्ता में सुने गए संबोधन को अन्य ग्रामीण महिलाओं को समझाकर बताती है। इस प्रकार इसके माध्यम से उन्हें महिलाओं एवं किसानों के हितो से संबंधित जरुरी जानकारी प्राप्त हो जाती है। इसी क्रम में विकासखण्ड बड़ेराजपुर के ग्राम पंचायत बाडागांव के एक अन्य ग्रामीण छेदी लाल परस्ते ने कहा कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ रमनसिंह ने प्रदेश के ग्रामीणो के विकास के लिए बहुत सहज ही अच्छा काम कर रहे हैं। कृषि, स्वास्थ्य, पेयजल, शिक्षा के लिए उन्होंने बहुत ही अच्छा काम किया है। धान का बोनस हमारे लिए वरदान है। मुख्यमंत्री खाद्यान्न सुरक्षा, स्वच्छ भारत मिशन, हमर छत्तीसगढ़ योजना, मुख्यमंत्री तीर्थ योजना, मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना, उज्जवला योजना के साथ साथ शासन के अन्य कल्याणकारी योजनाओं का हम भरपूर लाभ ले रहे हैं। मैं पूरे ग्रामीण जनता की ओर से उन्हें धन्यवाद देता हूं।
    दिनांक 10 सितम्बर 2017 को माननीय मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने अपनी मासिक रेडियो वार्ता ‘रमन के गोठ’ की 25 वीं कड़ी में प्रदेश सरकार की किसान हितैषी नीतियों सहित पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर राज्य में होने वाले कार्यक्रमों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के आव्हान पर छत्तीसगढ़ में भी 15 सितम्बर से 02 अक्टूबर तक ‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान चलाया जाएगा। प्रधानमंत्री ने स्वच्छता को जनआंदोलन बना दिया है और गांधी जयंती को इसका प्रतीक। चूंकि 17 सितम्बर को प्रधानमंत्री श्री मोदी का जन्म दिन है। अतः उनके जन्म दिवस को ‘सेवा दिवस’ के रूप में मनाया जायेगा।
      किसान संबंधित नीतियों का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि वर्ष 2013-14 में इन समितियों में 78 लाख 35 हजार मीटरिक टन धान खरीद कर किसानों को 10 हजार 362 करोड़ रूपए का समर्थन मूल्य और दो हजार 374 करोड़ रूपए का बोनस दिया गया था। उत्पादकता में वृद्धि के कारण प्रदेश को तीन बार चावल उत्पादन और एक बार दलहन उत्पादन पर कृषि कर्मण पुरस्कार मिला। बागवानी के क्षेत्र में शानदान उपलब्धि के कारण छत्तीसगढ़ को एग्रीकल्चर लीडरशिप एवार्ड 2017 भी प्राप्त हुआ है। राज्य में विगत तेरह वर्षो में उद्यानिकी का रकबा चार गुना और उत्पादन पांच गुना बढ़ा है।
    मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2016 में तेरह लाख से ज्यादा किसानों से 69 लाख 59 हजार मीटरिक टन धान की खरीदी हुई थी, जिस पर प्रति क्विंटल 300 रूपए की दर से 2100 करोड़ रूपए के बोनस का भुगतान किया जाएगा। शासन द्वारा दीपावली के पहले ‘बोनस तिहार’ मनाने और हर जिले में किसानों को बोनस देकर उनका उत्साह बढ़ाने का भी निर्णय लिया है। डॉ. रमन सिंह ने अपनी रेडियो वार्ता में पंडित दीनदयाल उपाध्याय को विशेष रूप से याद करते हुए कहा कि उपाध्याय जी ने एकात्म मानववाद और अंत्योदय के माध्यम से दुनिया को मानवता की सेवा का अद्भुत संदेश दिया था। पंडित दीनदयाल उपाध्याय के व्यक्तित्व और कृतित्व से सबको अवगत कराने के लिए छत्तीसगढ़ में 15 सितम्बर से 25 सितम्बर तक 11 दिन तक विशेष आयोजन करने की घोषणा राज्य सरकार द्वारा की गई है, ताकि समाज में समरसता के साथ विकास का रास्ता आसान हो सके। डॉ.  रमन सिंह ने कहा - प्रदेश के सभी स्कूल-कॉलेजों में 15 सितम्बर से 25 सितम्बर तक पंडित उपाध्याय के जीवन पर केन्द्रित लोक-संगीत, नृत्य, नाटक, निबंध, चित्रकला, भाषण और वाद-विवाद प्रतियोगिताएं होंगी। विश्वविद्यालय में एकात्म मानववाद पर सम्मेलन, सेमीनार आदि का आयोजन किया जाएगा। सभी 27 जिलों में विभिन्न स्थानों पर पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जीवनी पर आधारित कथा का आयोजन होगा। गांवों में खेल-कूद प्रतियोगिता, स्वास्थ्य शिविर और कृषि मेले जैसे आयोजन होंगे। उनकी जन्म-जयंती पर 25 सितम्बर को प्रदेश में विशेष ग्राम सभाओं का भी आयोजन किया जाएगा, जहां उनकी जीवनी पढ़कर सुनाने के साथ-साथ विभिन्न विभागों द्वारा जनता को अंत्योदय सहित गरीबी उन्मूलन योजनाओं की भी जानकारी दी जाएगी।
    ग्राम उमरगांव (ब) में आयोजित इस कार्यक्रम में जिले के कलेक्टर समीर विश्नोई, सीईओ जिला पंचायत डॉ0संजय कन्नौजे, सीईओ जनपद पंचायत डिगेश पटेल, सरपंच कचरी बाई, उप सरपंच बालसिंग यादव, आर.एस.कोर्राम, चंदन देवांगन, हेमंत यादव, मंगतू राम सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।


क्रमांक/307/रंजीत
 

 

 

 

 

 

 

 

 

 


 

 


Secondary Links