बलरामपुर : किसान दीपावली से पहले मनाएंगे बोनस त्यौहार: डॉ. रमन सिंह : रमन के गोठ की 25वीं कड़ी का प्रसारण

बलरामपुर 10 सितम्बर 2017

आकाशवाणी से प्रसारित रमन के गोठ 25वीं कड़ी का बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के ग्राम पंचायतों, जनपद पंचायत मुख्यालय, नगरीय निकाय एवं जिला मुख्यालय में लोगों ने बड़े ही तल्लीनता से सुना। कलेक्टर श्री अवनीश कुमार शरण एवं जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री रणबीर शर्मा ने विकासखण्ड रामचन्द्रपुर के ग्राम आरागाही के ग्रामीणों के साथ रमन के गोठ का श्रवण किया। ग्राम आरागाही के कृषक श्री लक्ष्मण राय, श्री दशरथ सिंह, कल्याण मंडल एवं अन्य कृषकों ने शासन द्वारा दीपावली के पहले बोनस तिहार मनाने और हर जिले में किसानों को बोनस देकर उत्साह बढ़ाने का निर्णय लेने पर मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का आभार प्रकट की है।
    रमन के गोठ कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने आगामी नवरात्रि एवं दशहरा त्यौहार की प्रदेश वासियों को बधाई देते हुए पं. दीनदयाल उपाध्याय के जयंती पर राज्य में होने वाले कार्यक्रमों की जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने बताया कि पं. दीनदयाल उपाध्याय के व्यक्तित्व तथा कृतित्व से सबको अवगत कराने के लिए छत्तीसगढ़ मंे 15 से 25 सितम्बर तक विशेष आयोजन करने की घोषणा राज्य सरकार द्वारा की गई है। ताकि समाज में समरसता के साथ विकास का रास्ता आसान हो सके। इस दौरान प्रदेश के सभी स्कूल तथा कॉलेजों में पं. उपाध्याय के जीवन पर केन्द्रित विभिन्न प्रतियोगिताएं होंगी। विश्वविद्यालयों में एकात्म मानववाद पर सम्मेलन, सेमीनार आदि का आयोजन होगा। ग्रामीण अंचलों में खेलकूद प्रतियोगिताओं, स्वास्थ्य शिविरों, कृषि मेलों जैसे अनेक आयोजन होंगे। 25 सितम्बर को विशेष ग्राम सभा का आयोजन होगा, जहां उनकी जीवनी पढ़कर सुनाई जाएगी। विभिन्न विभागों द्वारा अंत्योदय तथा गरीबी उन्मूलन पर चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी दी जाएगी। पं. दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी समारोह कार्यक्रम का समापन 11 फरवरी 2018 को पंचायती राज सम्मेलन के रूप में किया जाएगा। पं. दीनदयाल उपाध्याय सम्पूर्ण वांग्मय पुस्तक के सेट सभी ग्राम तथा जनपद पंचायतों को उपलब्ध कराए गए हैं। किसान नीतियों का उल्लेख करते हुए डॉ. रमन सिंह ने कहा कि वर्ष 2013-14 में इन समितियों में 78 लाख 35 हजार मीटरिक टन धान खरीद कर किसानों को 10 हजार 362 करोड़ रूपए का समर्थन मूल्य और दो हजार 374 करोड़ रूपए का बोनस दिया गया था। उत्पादकता में वृद्धि के कारण प्रदेश को तीन बार चावल उत्पादन और एक बार दलहन उत्पादन पर कृषि कर्मण पुरस्कार मिला। बागवानी के क्षेत्र में शानदार उपलब्धि के कारण छत्तीसगढ़ को एग्रीकल्चर लीडरशिप एवार्ड 2017 भी प्राप्त हुआ है। राज्य में विगत तेरह वर्षो में उद्यानिकी का रकबा चार गुना और उत्पादन पांच गुना बढ़ा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2016 में तेरह लाख से ज्यादा किसानों से 69 लाख 59 हजार मीटरिक टन धान की खरीदी हुई थी, जिस पर प्रति क्विंटल 300 रूपए की दर से 2100 करोड़ रूपए के बोनस का भुगतान किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने यह भी बताया कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के आव्हान् पर छत्तीसगढ़ में भी 15 सितम्बर से 02 अक्टूबर तक ‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान चलाया जाएगा। प्रधानमंत्री ने स्वच्छता को जनआंदोलन बना दिया है। श्री मोदी ने आकाशवाणी से अपने ‘मन की बात’ में लोगों से 15 सितम्बर से 02 अक्टूबर तक ‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान चलाने का आव्हान किया है। डॉ. सिंह ने कहा कि 17 सितम्बर को प्रधानमंत्री श्री मोदी का जन्म दिन है। उन्होंने प्रदेश के जनता से अपील कि हम सब मिलकर उनका जन्म दिन ‘सेवा दिवस’ के रूप में मनाएं।
समाचार क्रमांक 762/2017


Secondary Links