बालोद : कलेक्टर ने जनदर्शन में 290 आमजनों की सुनी समस्याएॅ

बालोद, 12 सितम्बर 2017


        कलेक्टर डॉ. सारांष मित्तर कल  संयुक्त जिला कार्यालय के जनदर्शन कक्ष में जिले के विभिन्न अंचलों से पहुॅंचे 290 आमजनों की समस्याओं तथा मांगों को एक-एक कर सहानुभूतिपूर्वक सुनी। उन्होंने कई आवेदकों की समस्याओं का मौके पर ही निराकरण किया और षेष आवेदनों का नियमानुसार त्वरित निराकरण के निर्देष संबंधित विभाग के अधिकारियों को दिए। उन्होंने जिले के दूरदराज ग्रामों से पहुॅचे दिव्यांगजनो के बीच पहुॅचकर भी उनकी समस्याओं को गंभीरतापूर्वक सुना तथा उनकी समस्याओं का प्राथमिकता से त्वरित निराकरण का भरोसा उन्हें दिलाया।
        जनदर्शन कार्यक्रम में ग्राम भीमकन्हार के ग्रामीणों द्वारा गॉव की मूलभूत सुविधा पानी, बिजली, सड़क की उचित व्यवस्था करने, पेयजल एवं नलजल विस्तार करने और सूखा राहत राषि व फसल बीमा की राषि दिलाने, ग्राम माहुद(अ) के ग्रामीणों ने षिक्षक व्यवस्था करने, ग्राम पंचायत कन्नेवाड़ा के सरपंच ने यात्री प्रतिक्षालय एवं सुलभ षौचालय निर्माण की स्वीकृति प्रदान करने, ग्राम बासीन की खोरबाहरीन ने विधवा पेंषन की राषि दिलाने, ग्राम सांकरा(ज) के धर्मेन्द्र कुमार ने अवैध कब्जा हटाने, ग्राम कुदारी दल्ली की बिसमत बाई ने नौकरी दिलाने, ग्राम धनेली की गीता बाई ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवास दिलाने, ग्राम छिन्दगॉव की अंजनी ने अनुकम्पा नियुक्ति दिलाने, दल्लीराजहरा की गायत्री ने दिव्यांग प्रमाण पत्र बनाने, ग्राम पेरपार की मनीषा ने क्षतिपूर्ति राषि दिलाने, ग्राम भेंडिया नवागॉव की लीलाबाई ने राषन कार्ड में नाम सुधारने, ग्राम बम्हनी के षेरसिंह ने आर्थिक सहायता राषि दिलाने, ग्राम मनकी(क) की दुलारी बाई ने राषन कार्ड में नाम जोड़ने और ग्राम खुटेरी(भट) के संतानुराम ने वृद्धापेंषन दिलाने संबंधित आवेदन कलेक्टर को सौंपे। इसी प्रकार अन्य आवेदकों ने भी अपनी समस्याओं और मांगों से संबंधित आवेदन कलेक्टर डॉ. मित्तर को सौंपे। इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री राजेन्द्र कुमार कटारा, अपर कलेक्टर श्री ए.के.धृृतलहरे, संयुक्त कलेक्टर श्री राजेष नषीने, एस.डी.एम बालोद श्री हरेष मंडावी, एस.डी.एम.डौण्डीलोहारा श्री एस.के.गुप्ता, एस.डी.एम. गुण्डरदेही श्री पी.एल.यादव, डिप्टी कलेक्टर श्री जी.एस.नाग सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद थे।

क्रमांक/420
 


Secondary Links