राजनांदगांव : राजस्व प्रकरणों के निपटारे में विलंब पर कलेक्टर श्री भीम सिंह ने की कार्रवाई : सभी तहसीलदारों और नायब तहसीलदारों को चेतावनी पत्र जारी करने के निर्देश

राजस्व अधिकारियों के कामकाज की समीक्षा

राजनांदगांव 13 सितम्बर 2017

कलेक्टर श्री भीम सिंह ने आज राजस्व अधिकारियों की समीक्षा बैठक में जिले में लंबित राजस्व प्रकरणों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए सभी तहसीलदारों और नायब तहसीलदारों को चेतावनी पत्र जारी करने के निर्देश अपर कलेक्टर श्री जे.के. धु्रव को दिए। उन्होंने भविष्य में प्रकरणों का निराकरण तेजी से करने और आगामी बैठक में अपेक्षित प्रगति लाने के भी निर्देश राजस्व अधिकारियों को दिए। बैठक में श्री भीम सिंह ने प्रकरणों के निराकरण में लापरवाही बरतने या उन्हें बिना किसी कारण के लंबे समय तक लंबित रखने पर भी नियमानुसार कार्रवाई करने की चेतावनी अधिकारियों को दी। कलेक्टर ने कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आज राजस्व अधिकारियों की बैठक में जिले में राजस्व विभाग के कामकाज की तहसीलवार समीक्षा की। कलेक्टर ने डायवर्सन शुल्क सहित सभी राजस्व वसूली,  आधार सीडिंग, अविवादित नामांतरण, सीमांकन, बंदोबस्त त्रुटि सुधार, नक्शा अद्यतीकरण आदि के अलावा अनुविभागीय राजस्व अधिकारी एवं तहसीलदारों के न्यायालयों में लंबित प्रकरणों के निराकरण की भी विस्तृत समीक्षा बैठक में की। उन्होंने राजस्व अधिकारियों को अपने-अपने कार्य क्षेत्रों में अधिक से अधिक दौरा करने और लोगों से सौहार्द्र पूर्ण व्यवहार करने के निर्देश दिए। बैठक में अपर कलेक्टर श्री जे.के. धु्रव, प्रशिक्षु सहायक कलेक्टर डॉ. रवि मिŸाल सहित सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारी, सभी तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार तथा मुख्यालय में पदस्थ राजस्व अधिकारी भी शामिल हुए।
सूखा राहत के लिए तेजी से करें फसल का सर्वे -
    कलेक्टर श्री भीम सिंह ने बैठक में कहा कि जिले की सभी 9 तहसीलों को शासन द्वारा सूखा प्रभावित घोषित किया गया है। इन तहसीलों में किसानों को राजस्व पुस्तिका परिपत्र 6-4 के प्रावधानों के तहत राहत राशि उपलब्ध कराने के लिए फसलों के सर्वे का काम तेजी से पूरा किया जाए। कलेक्टर ने ग्रामवार सर्वे कर पंचनामा बनाकर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश सभी राजस्व अधिकारियों को दिए। उन्होंने सर्वे कार्य की सतत् मॉनिटरिंग करने के निर्देश सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों को दिए। कलेक्टर ने आरबीसी 6-4 के तहत सूखा प्रभावित किसानों को मिलने वाली राशि को सीधे उनके बैंक खातों में ही डालने के निर्देश सभी तहसीलदारों को दिए और जिन किसानों के बैंक खाते उपलब्ध न हो उन्हें समय पर प्राप्त करने के भी निर्देश बैठक में दिए गए।
8वीं से 12वीं कक्षा के सभी विद्यार्थियों का जाति प्रमाण पत्र दो माह में बने -
    राजस्व अधिकारियों की बैठक में कलेक्टर श्री भीम सिंह ने 8वीं से 12वीं कक्षा में पढ़ने वाले अनुसूचित जाति-जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों को जाति प्रमाण पत्र जारी करने की धीमी गति पर अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों के प्रति नाराजगी जताई। उन्होंने आगामी दो महीने मेें जिले के सभी 8वीं से 12वीं कक्षा में पढ़ने वाले पात्र विद्यार्थियों को जाति प्रमाण पत्र जारी करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने इसके लिए स्कूलों में शिविर आयोजित करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने आगामी बैठक तक 50 प्रतिशत प्रगति बढ़ाने के भी निर्देश अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों को दिए।
राजस्व रिकार्ड में डिजिटल हस्ताक्षर सत्यापन का काम
30 सितम्बर तक पूरा करने के निर्देश -
    कलेक्टर ने राजस्व अधिकारियों की बैठक में राजस्व रिकार्ड को पटवारियों द्वारा डिजिटल हस्ताक्षर से ऑनलाईन सत्यापित करने के काम में तेजी लाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने इस काम को किसी भी हालत में 30 सितम्बर तक पूरा करने के निर्देश दिए। इस काम को निर्धारित तिथि तक पूरा नहीं करने उन्होंने तहसीलदारों का इस माह का वेतन आहरित नहीं करने के भी निर्देश बैठक में दिए। कलेक्टर ने राजस्व रिकार्ड में संबंधित भू-धारकों का आधार नंबर सीडिंग करने के काम में भी प्रगति लाने के निर्देश अधिकारियों को दिए।
बडे़ बकायादारों का नाम सार्वजनिक करने के निर्देश,
सहायक भू-अभिलेख अधिकारी की रोकी वेतन वृद्धि -
    कलेक्टर श्री भीम सिंह ने भू-राजस्व वसूली के प्रकरणों की समीक्षा करते हुए प्रति माह वसूली में तेजी लाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने चालू विŸाीय वर्ष के अंत तक जिले की सभी राजस्व वसूलियों को शत प्रतिशत वसूल किया जाना सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए। कलेक्टर ने जिले के 20 बड़े बकायादारों सहित सभी भू-राजस्व बकायादारों को तत्काल नोटिस जारी करने के निर्देश सभी तहसीलदारों को दिए। उन्होंने जिले के 20 बड़े बकायादारों के नाम व पते स्थानीय अखबारों सहित शासकीय कार्यालयों के नोटिस बोर्ड पर सार्वजनिक करने के भी निर्देश अधिकारियों को दिए। श्री भीम सिंह ने डायवर्सन के लंबित प्रकरणों की समीक्षा करते हुए समय सीमा में प्रकरणों का निराकरण के निर्देश दिए। उन्होनें कहा कि समय सीमा में डायवर्सन के प्रकरणों का निराकरण नहीं होने पर संबंधित अधिकारी के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। श्री भीम सिंह ने भू-भाटक और डायवर्सन शुल्क वसूली की सही जानकारी प्रस्तुत नहीं करने पर सहायक भू-अभिलेख अधिकारी की एक वेतन वृद्धि रोकने के निर्देश अपर कलेक्टर श्री जे.के. ध्रुव को दिए।
    कलेक्टर ने नजूल भू-भाटक, भू-राजस्व, डायवर्सन आदि शुल्कों का शासकीय नियमों एवं शासन द्वारा निर्धारित दरों पर ही निर्धारण करने के निर्देश राजस्व अधिकारियों को दिए। उन्होंने सूखे की स्थिति के कारण किसानों से इस वर्ष भू-राजस्व नहीं वसूलने के भी निर्देश अधिकारियों को दिए।  कलेक्टर ने निर्देशित किया कि नजूल भू-भाटक की लक्ष्य अनुसार 40 प्रतिशत वसूली होने पर ही नजूल निरीक्षकों का वेतन आहरण किया जाए।
क्रमांक     1445नागेश


Secondary Links