धमतरी : अभियान का क्रियान्वयन मॉडल जिले के अनुसार ही करें: कलेक्टर : स्वच्छता ही सेवा‘ अभियान के सफलतापूर्वक संचालन के लिए कलेक्टर ने ली बैठक

ग्रामीण व नगरीय निकायों में 15 सितम्बर से दो अक्टूबर तक चलाया जाएगा

धमतरी 14 सितंबर 2017

शासन के निर्देशानुसार प्रदेश सहित धमतरी जिले में भी ‘स्वच्छता ही सेवा‘ अभियान 15 सितम्बर से दो अक्टूबर तक चलाया जाएगा। उक्त अभियान के तिथिवार क्रार्यक्रम की जानकारी देने के लिए कलेक्टर डॉ. सी.आर. प्रसन्ना ने विभिन्न विभागों की बैठक ली। इस दौरान उन्होंने कहा कि धमतरी जिला पूरे प्रदेश में मॉडल जिले के तौर पर जाना जाता है तथा इस अभियान के संचालन एवं क्रियान्वयन में भी संबंधित विभाग श्रेष्ठता का प्रदर्शन करें। कलेक्टर ने पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, स्कूल शिक्षा विभाग तथा नगरीय निकायों को परस्पर समन्वय स्थापित कर निर्धारित रूपरेखा के अनुसार तिथिवार कार्यक्रमों का संचालन करने के निर्देश दिए।
    आज शाम चार बजे कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आयोजित बैठक में कार्यक्रम की विस्तृत जानकारी देते हुए कलेक्टर ने बताया कि ग्राम स्तर पर पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा और नगरीय स्तर पर नगर निगम एवं नगर पंचायतों द्वारा सेवा ही स्वच्छता अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने बताया कि पहले दिन यानी 15 सितम्बर को सुबह नौ बजे महापौर श्रीमती अर्चना चौबे के मुख्य आतिथ्य में स्थानीय पुरानी कृषि मण्डी परिसर से स्वच्छता रैली निकाली जाएगी। बाइक रैली को हरी झण्डी महापौर द्वारा दिखाई जाएगी। इसके अलावा इसी दिन स्कूली छात्र-छात्राओं द्वारा मानव श्रृंखला बनाकर स्वच्छता का संदेश दिया जाएगा। इसके बाद अपराह्न 3.35 बजे स्वच्छता की शपथ सभी कार्यालयों में दिलाई जाएगी। अगले दिन 16 सितम्बर को ग्रामों में बैठक आहूत कर स्वच्छता पर चर्चा की जाएगी। उन्होंने बताया कि रविवार 17 सितम्बर को जिला, विकासखण्ड और ग्राम पंचायत स्तर पर श्रमदान दिवस के रूप में मनाया जाएगा। इसके तहत धार्मिक स्थलों एवं पूजा स्थलों का चयन कर उनकी साफ-सफाई की जाएगी। श्रमदान कार्य में कक्षा नवमीं से बारहवीं तक के विद्यार्थी एवं महाविद्यालयीन छात्र-छात्राएं भी हिस्सा लेंगे।
इसी तरह 18 सितम्बर को रैली एवं प्रभातफेरी, 19 को ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन योजना निर्माण, 20 को स्वच्छ शौचालयों का हितग्राहियों के साथ फोटोग्राफी एवं उसका सार्वजनिक स्थल पर फ्लैक्स प्रदर्शन, 21 को पंचायत स्तर पर आसपास के ग्रामों में स्वच्छता भ्रमण किया जाएगा। कलेक्टर ने बताया कि इसी तरह 22 सितम्बर को सामूहिक स्वच्छता हस्ताक्षर अभियान चलाया जाएगा। शहर के प्रमुख चौक-चौराहों व भीड़भाड़ वाली जगहों पर हस्ताक्षर अभियान चलाकर लोगों से हस्ताक्षर लिए जाएंगे। 23 सितम्बर को लीज पिट शौचालय की गुणवत्ता 10 बिन्दुओं के आधार पर जांची जाएगी। 24 को स्वच्छता जागरूकता और स्थायित्व के तौर पर मनाया जाएगा। 25 सितम्बर को स्कूलांे में शाला स्वच्छता कालखण्ड आयोजित कर शौचालय के रखरखाव, उपयोग और स्वच्छता के महत्व पर जानकारी दी जाएगी। 26 को स्वच्छता प्रतियोगिता, 27 को ग्राम जल एवं स्वच्छता समिति की बैठक का आयोजन तथा 28 को स्वच्छता नारा लेखन का कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। इसी तरह 29 को स्वसहायता समूह द्वारा घर-घर सम्पर्क किया जाएगा।
30 सितम्बर को दशहरा पर्व के अवसर पर रावण दहन के साथ अस्वच्छता दहन किया जाएगा। कलेक्टर ने बताया कि स्थानीय डॉ. शोभाराम देवांगन स्कूल परिसर में अस्वच्छता का दहन किया जाएगा। एक अक्टूबर को स्वच्छता पर आधारित फिल्म का प्रदर्शन चिन्हित ग्रामों में किया जाएगा तथा अंतिम दिन दो अक्टूबर को आयोजित ग्रामसभा में स्वच्छता के स्थायित्व की शपथ दिलाई जाएगी। साथ ही स्वच्छता के लिए उत्कृष्ट कार्य करने वाले ग्रामीणों, वॉलिंटियर्स तथा स्वच्छता दूतों, स्वच्छता प्रेरकों को सम्मानित किया जाएगा। यह कार्यक्रम नगरीय निकाय और ग्रामीण दोनों ही स्तर पर आयोजित किया जाएगा।
इसी तरह नगरीय निकायों में आयोजित कार्यक्रमों की जानकारी देते हुए नगर निगम आयुक्त श्री अशोक द्विवेदी ने बताया कि प्रत्येक दिन के कार्यक्रम के लिए प्रभारी अधिकारी नियुक्त किए गए हैं। 15 नवंबर को उपरोक्तानुसार स्वच्छता रथ निकाला जाएगा तथा बाइक रैली आयोजित की जाएगी। 16 सितम्बर को सभी वार्डों में ओडीएफ की निरंतरता के लिए शहरवासियों को प्रेरित एवं प्रोत्साहित किया जाएगा। 17 को शहर के प्रमुख सार्वजनिक स्थल गांधी मैदान में शाम छह बजे से तथा मकई गार्डन में रात्रि 8 बजे से टॉयलेट- एक प्रेमकथा फिल्म का प्रदर्शन किया जाएगा। 18 सितम्बर को सभी सामुदायिक और सार्वजनिक शौचालयों की सफाई कराई जाएगी। नगर निगम आयुक्त ने बताया कि 19 सितम्बर को शासकीय कार्यालयों की साफ-सफाई कराई जाएगी। 20 को उत्कृष्ट कार्य करने वाले नागरिक, सफाई मित्र की फोटो प्रमुख स्थलों पर लगाया जाएगा। 21 को स्वसहायता समूहों के सदस्यों को स्वच्छता प्रशिक्षण दिया जाएगा। 22 को सामूहिक स्वच्छता हस्ताक्षर अभियान चलाया जाएगा। 23 को रहवासी संघ द्वारा उनके परिसरों में स्वच्छता अभियान चलाया जाएगा। 24 को नगर के मुख्य स्थलों पर सभा आयोजित कर ओडीएफ के स्थायित्व दिवस के तौर पर मनाया जाएगा। 25 सितम्बर को शहर के बस स्टैण्ड, उद्यान जैसे सार्वजनिक स्थलों में विशेष सफाई अभियान चलाया जाएगा। 26 को शैक्षणिक संस्थानों में स्वच्छता पर प्रश्नोत्तरी एवं निबंध प्रतियोगिता आयोजित की जाएगी। 27 को मिशन क्लीन सिटी के कार्यों का भ्रमण किया जाएगा। 28 को निकाय स्तर पर स्वच्छता नारा लेखन, पेंटिंग्स एवं अन्य प्रतियोगिता कराई जाएगी। 29 को जनजागरूकता हेतु घरों में सम्पर्क किया जाएगा। 30 को अस्वच्छता दहन जिला स्तरीय कार्यक्रम के अनुरूप समन्वय स्थापित कर किया जाएगा। एक अक्टूबर को शहर के प्रमुख सार्वजनिक स्थलों पर स्वच्छता मतदान रखकर स्वच्छता पर गुप्त मतदान कराया जाएगा। अभियान के अंतिम दिन दो अक्टूबर को जिला स्तर पर आयोजित सम्मान समारोह में स्वच्छता पर श्रेष्ठ कार्य करने वाले स्वच्छता मित्रों, प्रेरकों को सम्मानित किया जाएगा। बैठक में डीएफओ श्री अमिताभ बाजपेयी, अपर कलेक्टर श्री के.आर. ओगरे, एएसपी श्री कमलेश्वर चंदेल सहित स्वच्छ भारत मिशन व नगरीय निकाय के अधिकारीगण उपस्थित थे।


    क्रमांक-48/751/सिन्हा


Secondary Links