रायपुर : डेयरी, मछली पालन, उद्यानिकी फसलों और वनोपज पर आधारित खाद्य प्रसंस्करण ईकाइयां स्थापित करने पर जोर

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में खाद्य प्रसंस्करण मिशन की सशक्त समिति की बैठक

रायपुर 09 अक्टूबर 2017

मुख्य सचिव श्री विवेक ढांड की अध्यक्षता में आज यहां मंत्रालय (महानदी भवन) में छत्तीसगढ़ खाद्य प्रसंस्करण मिशन की सशक्त समिति की प्रथम बैठक आयोजित की गयी। बैठक में मुख्य सचिव ने राज्य खाद्य प्रसंस्करण मिशन और कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण उद्योग नीति 2012-2019 तथा फूड पार्क क्षेत्र में निष्पादित एम.ओ. यू . की समीक्षा की। उन्होंने कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण के क्षेत्र में डेयरी, मत्स्य उद्योग, काजू प्रोसेसिंग, फल एवं सब्जी प्रसंस्करण पर आधारित मूल्य संवर्धन (वेल्यू एडिशन) आधारित उद्योगों तथा उद्यानिकी और वनोपज पर आधारित उद्योगों को प्रोत्साहित करने के निर्देश अधिकारियों को दिए।
मुख्य सचिव ने कहा कि जिन जिलों में टमाटर, कटहल, गोभी आदि सब्जियों का उत्पादन अधिक होता है, उन जिलांे में इनसे संबंधित अधिक से अधिक उद्योग स्थापित किये जाए। इसके लिए जिला स्तर पर कलेक्टर की अध्यक्षता में कमेटी बनायी जाएगी, जो खाद्य प्रसंस्करण उद्योगों की प्रगति की समीक्षा करेंगे। मुख्य सचिव ने किसानों की आय बढ़ाने के लिए भारत सरकार और राज्य सरकार की कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण योजनाओं की व्यापक प्रचार-प्रसार पर भी जोर दिया। बैठक में संचालक उद्योग श्रीमती अलरमेल मंगई डी ने खाद्य प्रसंस्करण मिशन और कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण नीति पर प्रस्तुतिकरण दिया। बैठक में अपर मुख्य सचिव कृषि श्री अजय सिंह, अपर मुख्य सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास श्री एम.के. राउत, प्रमुख सचिव वित्त श्री अमिताभ जैन, सचिव वन श्री अतुल शुक्ला, विशेष सचिव वाणिज्य एवं उद्योग डॉ. कमलप्रीत सिंह और प्रबंध संचालक छत्तीसगढ़ औद्योगिक विकास निगम श्री सुनील मिश्रा उपस्थित थे।


क्रमांक-2932/सुदेश/काशी

 


Secondary Links