रायगढ़ : रायगढ़ विकसित, समृद्ध और सुसंस्कारित जिला बनेगा-डॉ. रमन सिंह

68 हजार 763 किसानों को 127 करोड़ 97 लाख 6310 रुपए के धान बोनस की सौगात
92 करोड़ 74 लाख 79 हजार रुपए के 43 कार्यों का लोकार्पण एवं शिलान्यास

रायगढ़, 12 अक्टूबर 2017

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज मिनी स्टेडियम में आयोजित किसान सम्मेलन और बोनस तिहार के अवसर पर कहा कि रायगढ़ विकसित, समृद्ध और संस्कारित जिला बनेगा। उन्होंने कहा कि रायगढ़ छत्तीसगढ़ के बेहतर जिले में से एक है, जो निरंतर प्रगति करता हुआ प्रदेश में अपना अलग स्थान बना रखा है। डॉ. सिंह ने कहा कि दीवाली के पहले किसानों को दीवाली का तोहफा (धान का बोनस) देने आया हूं। उन्होंने कहा कि किसानों के चेहरे में आज नई चमक दिख रही है, जिससे किसान अपने आपको सम्मानित महसूस कर रहे है। मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने आज ऑनलाईन बटन दबाकर 68 हजार 763 किसानों को 127 करोड़ 97 लाख 6310 रुपए के धान बोनस की सौगात दिए। उन्होंने 92 करोड़ 74 लाख 79 हजार रुपए के 43 कार्यों का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया।
    मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि किसानों को चिंता करने की कोई जरूरत नहीं हैं। किसानों की चिंता करने का कार्य सरकार कर रही है। उन्होंने बोनस तिहार के ऐतिहासिक आयोजन में बड़ी संख्या में आए किसानों को हार्दिक स्वागत किया। उन्होंने कहा कि किसानों के मन में एक पीड़ा थी एवं अकाल की चिंता थी। चितिंत किसानों को राहत देने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने धान बोनस दीपावली के पहले बांट देने का निर्णय लिया। उन्होंने कहा कि सूखे से फसलों केनुकसान होने पर चिंता करने की जरूरत नहीं। राजस्व पुस्तक परिपत्र आरबीसी 6 (4)के तहत सर्वे कर सूखा प्रभावित क्षेत्रों के किसानों को क्षतिपूर्ति दी जाएगी। वहीं किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के साथ ही धान बोनस का भी लाभ मिलेगा। शासन ने किसानों के हित में कदम उठाया है और शून्य प्रतिशत ब्याज पर कृषि ऋण दिया जा रहा है।    
    मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने कहा कि प्रदेश में दो स्तरीय बैंक की व्यवस्था लागू की जाएगी। जो प्राथमिक सोसायटी एवं अपेक्स बैंक के जरिए कार्य करेगी, जिससे किसानों को सीधे ऋण मिल सकेगा। उन्होंने कहा कि माइक्रो एटीएम की व्यवस्था से भी एक बड़ा परिवर्तन आएगा। मुख्यमंत्री डॉ.सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत देशभर में गैस सिलेण्डर एवं डबल बर्नर चूल्हा दिया जा रहा है। रायगढ़ में 60 हजार महिलाओं को गैस सिलेण्डर एवं चूल्हा दिया जा रहा है एवं आने वाले वर्षो में एक लाख महिलाएं भी इस योजना से लाभान्वित होंगी। गांव-गरीब एवं किसान की बेहतरी के लिए शासन निरंतर कार्य कर रही है। जनसामान्य प्रधानमंत्री आवास योजना, सिंचाई योजना एवं प्रधानमंत्री जनधन योजना से लाभान्वित हो रहे हैं। प्रदेशवासी खाद्य एवं पोषण सुरक्षा अधिनियम के तहत लाभान्वित हो रहे हैं। गरीबों के ईलाज के लिए चिंता की जरूरत नहीं है। स्मार्ट कार्ड से निरूशुल्क ईलाज की राशि बढ़ाकर 30 हजार से 50 हजार तक कर दी गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अक्टूबर 2018 तक प्रदेश के हर गांव, टोले एवं मजरे में शत-प्रतिशत विद्युतीकरण किया जाएगा। डॉ. सिंह ने कहा कि छत्तीसगढ़ में बालिका लिंगानुपात ज्यादा है लेकिन रायगढ़ जिले में बालिका लिंगानुपात कम है। यहां बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का राष्ट्रीय कार्यक्रम संचालित है। इस अवसर पर बालिका लिंगानुपात को बढ़ाने का सभी ने मिलकर संकल्प लिया।
    केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय ने कहा कि जिले में सहकारी बैंक होने चाहिए ताकि किसानों को ऋण की सुविधा मिल सके। रायगढ़ में केलो परियोजना से किसान लाभान्वित हो रहे है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने ऐसी कृषि नीति ला रहे हैं जो कृषि को लाभ का व्यवसाय बनाने जा रहे हैं। फसल बीमा, स्वाइल हेल्थ कार्ड सहित अनेक योजनाओं से किसान लाभान्वित हो रहे हैं।
    गृहमंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री श्री रामसेवक पैकरा ने कहा कि देश के पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी बाजपेयी ने छत्तीसगढ़ का निर्माण किया, वहीं प्रदेश के विकास में मुख्यमंत्री का योगदान है। किसानों की समृद्धि की दिशा में निरंतर कार्य  किए गए है और प्रदेश में लगातार चहुमुंखी विकास हो रहा है। सभा को विधायक श्री रोशन अग्रवाल ने भी संबोधित किया।  
    इस अवसर पर संसदीय सचिव श्रीमती सुनीति सत्यानंद राठिया, विधायक श्रीमती केराबाई मनहर, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री अजेश पुरूषोत्तम अग्रवाल, महापौर मधुबाई, उपाध्यक्ष श्री नरेश पटेल, पूर्व विधायक श्री सत्यानंद राठिया, श्री ओमप्रकाश राठिया, प्रभारी सचिव श्री अविनाश चम्पावत, संभागायुक्त श्री टी.सी.महावर, आईजी श्री हिमांशु गुप्ता, अपेक्स बैंक के चेयरमेन श्री अशोक बजाज, कलेक्टर श्रीमती शम्मी आबिदी, जिला पंचायत सीईओ श्रीमती चंदन संजय त्रिपाठी, अपर कलेक्टर श्रीमती रोक्तिमा यादव, जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक एवं बड़ी संख्या में जिले के किसान उपस्थित थे।

 


Secondary Links